CID-CB जांच में – जहाजपुर विधायक मीणा और दो सासंद किरोडी मीणा व हनुमान बेनीवाल दोषी करार

भाजपा सांसद तथा भाजपा के विधायक और जाट नेता व सांसद सहित करीब 24 जनों को दोषी करार देते

May 19, 2022 6:36 pm
CID-CB जांच में - जहाजपुर विधायक मीणा और दो सासंद किरोडी मीणा व हनुमान बेनीवाल दोषी करार

जयपुर/ सीआईडी सीबी ने सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने राजकार्य में बाधा उत्पन्न करने और पुलिसकर्मियों पर पथराव करने के मामले में भाजपा सांसद तथा भाजपा के विधायक और जाट नेता व सांसद सहित करीब 24 जनों को दोषी करार देते हुए इन सब के खिलाफ चालान पेश करने के आदेश जारी कर दिए हैं।

क्या था मामला

राजस्थान के अलवर जिले के थानागाजी मैं हुई गैंगरेप की घटना के विरोध में 15 मई 2019 को सांसद किरोड़ी लाल मीणा हनुमान बेनीवाल विधायक गोपीचंद मीणा ने संत सुंदरदास स्मारक पर विरोध सभा की थी और सभा के बाद किरोड़ी लाल और उनके समर्थकों ने बांदीकुई रेलवे ट्रैक पर कब्जा कर लिया था जिला प्रशासन और रेलवे प्रशासन ने किरोड़ी लाल मीणा और उनके समर्थकों को रेलवे ट्रैक खाली करने के लिए कई बार अनुरोध किया लेकिन किरोड़ी मीणा और उनके समर्थकों ने रेलवे ट्रैक खाली करने के बजाए ट्रैक खाली कराने गए।

पुलिस दल पर पथराव भी शुरू कर दिया था और इस पथराव में करीब 11 से अधिक पुलिसकर्मी घायल भी हुए थे और पुलिसकर्मियों के हथियार भी शक्ति ग्रस्त हो गए थे इस मामले में पुलिस ने पहले 71 लोगों को नामजद कर 700 लोगों के खिलाफ मुकदमा चलाया था बाद में उक्त मामले की जांच सीआईडी सीबी को सौंप दी गई थी 3 साल तक चली सीआईडी सीबी की जांच के बाद सीआईडी सीबी ने अपनी जांच रिपोर्ट जीआरपी अजमेर एसपी को भेज दी है।

सीआईडी सीबी ने अपनी जांच रिपोर्ट में राज्यसभा से सांसद किरोड़ी लाल मीणा नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल और जहाजपुर भीलवाड़ा से विधायक गोपीचंद मीणा सहित करीब 28 जनों को दोषी माना है।

CID CB ने किनको माना दोषी

सीआईडी सीबी ने सांसद किरोड़ी लाल मीणा हनुमान बेनीवाल और विधायक गोपीचंद मीणा के अलावा मौजी राम मीणा मानसिंह मीणा बाबूलाल मीणा नटवरलाल रामेश्वर प्रसाद बेरवा राजेश मीणा गोपाल ठाकरिया महेंद्र मीणा अंतों मीणा संतोष मीणा हेमू उर्फ हेमंत मीणा सूखा मीणा प्यार सिंह मीणा रितेश्वर बेरवा लोकेश कुमार मीणा महेंद्र चांदा सिकंदर पंजाबी शाहनवाज उर्फ सनी खां अरबाज विजय मीणा रवि मीणा लक्ष्मी नारायण बेरवा भूरा उर्फ राम सिंह मीणा राजेश मीणा को दोषी मानते हुए इन सब के खिलाफ खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 147 148 149 332 353 336 व 3 PDPP एक्ट एवं धारा 145 153 174 रेलवे एक्ट में चालान का निर्णय लिया गया।

सीआईडी सीबी ने अपनी रिपोर्ट जीआरपी एसपी अजमेर को सौंपते हुए 15 दिन में चालान पेश करने के आदेश दिए हैं।

Prev Post

भरतपुर के डीग में तहसीलदार और एक सहायक प्रशासनिक अधिकारी ,एक दलाल को एसीबी ने रिश्वत लेते पकड़ा

Next Post

अब इस प्रदेश मे विधवा होने पर चूडियां तोडने, सिंदूर पोछने,मंगलसूत्र निकालने की प्रथा पर रोक

Related Post

Latest News

पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप, परिवादी को ही कर रही है परेशान 
टोंक के बनेठा थाने का एसआई 10 हज़ार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, एक प्रकरण में कार्रवाई नही करने की एवज में मांग रहा था घूस
Rural Olympic Games - Innovative brilliant initiative of Bhilwara Collector Modi

Trending News

राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 

Top News

राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप, परिवादी को ही कर रही है परेशान 
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
टोंक के बनेठा थाने का एसआई 10 हज़ार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, एक प्रकरण में कार्रवाई नही करने की एवज में मांग रहा था घूस
REET - 2022 का परीक्षा परिणाम घोषित 
राजस्थान में रहेगा गहलोत का ही राज, सचिन.. 
Rural Olympic Games - Innovative brilliant initiative of Bhilwara Collector Modi
राजस्थान में PFI पर शिकंजा कसने के कलेक्टर व एस पी को दिए अधिकार, पदाधिकारी भूमिगत
गहलोत नही लडेंगे चुनाव, सिंह कल भरेंगे नामांकन,राजस्थान पर फैसला आज