हाउसिंग बोर्ड बनाएगा 3 हजार से अधिक मकान और फ्लैट,अगले माह से रजिस्ट्रेशन ?

Dr. CHETAN THATHERA
3 Min Read

जयपुर/ राजस्थान सरकार सत्ता मे आने के बाद अब लोकसभा चुनाव से पहले आमजनता मे कुछ काम करके और आमजनता को कुछ राहत देकर अपनी कार्य कुशलता बताने के लिए जुट गई है।

ताकी लोकसभा चुनाव मे फिर पताका फहरा सके और इसी कड़ी मे हाउसिंग बोर्ड प्रदेश के 9 से अधिक शहरों मे 3 हजार से अधिक मकान और फ्लैट बनाने जा रही है और इनके लिए रजिस्ट्रेशन फरवरी से शुरू हो सकता है ।

हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर कुमार पाल गौतम ने बताया की इन स्कीम को 7 फरवरी तक लॉन्च कर दिया जाएगा। इसके साथ ही आवेदन मांगने की प्रक्रिया शुरू हो सकती है। उन्होंने बताया कि ये स्कीम बड़े शहर जयपुर, जोधपुर, उदयपुर, अजमेर, भिवाड़ी के अलावा धौलपुर, नागौर, हनुमानगढ़, सिरोही और आबू रोड में आएगी। इसमें ईडब्ल्यूएस, एलआईजी, एमआईजी और एचआईजी कैटेगरी के फ्लैट्स बनाए जाएंगे।

उन्होने बताया की सबसे ज्यादा मकान जोधपुर में बनाए जाएंगे, जहां 1000 के करीब फ्लैट्स और स्वतंत्र मकान होंगे। इसके अलावा जयपुर में 400 से ज्यादा, अजमेर के किशनगढ़ में करीब 150, धौलपुर में 30, नागौर में करीब 200, आबू रोड पर 100, उदयपुर में करीब 200 और हनुमानगढ़ में 500 के करीब मकान बनाए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि इन शहरों में आवासों की संख्या निर्धारित करना शेष है। संभावना है कि 7 फरवरी या उसके आसपास इन योजनाओं को लॉन्च करके आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

हाउसिंग बोर्ड के चीफ इंजीनियर अमित अग्रवाल के अनुसार जयपुर के प्रताप नगर सेक्टर 26 और 28 में करीब 430 एचआईजी फ्लैट्स की स्कीम लाई जा रही है। सेक्टर 26 में 80, जबकि सेक्टर 28 में करीब 350 फ्लैट्स बनाए जाएंगे।

इनके अलावा वाटिका रोड पर वाटिका के पास 25 स्वतंत्र आवासों की योजना भी लाई जा रही है, जिसमें 20 एमआईजी ‘ए’ कैटेगरी के, जबकि 5 एलआईजी कैटेगरी के स्वतंत्र मकान आवंटित किए जाएंगे।

कमिश्नर कुमार पाल गौतम ने इंजीनियरों को संभागीय मुख्यालय स्तर पर ईडब्ल्यूएस, एलआईजी कैटेगरी की नई स्कीमें भी बनाने के निर्देश दिए है। ताकि आने वाले समय में सरकार की मंशा के अनुरूप गरीब और मध्यम वर्ग को बड़े शहरों में मकान मिल सके। साथ ही उन्होंने मौजूदा निर्माणाधीन आवासीय योजनाओं में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए हैं।

हाउसिंग बोर्ड पहले से ही जयपुर, जोधपुर, बांसवाड़ा, आबू रोड समेत 10 से ज्यादा शहरों में 4 हजार से ज्यादा मकान बना रहा है। वहीं, 100 दिन की कार्य योजना के तहत 2900 मकान अलग से नए बनाए जाएंगे।

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम