राजस्थान में गर्मी के तेवर तीखे ,पूरब में बादलों ने डाला डेरा

जयपुर। राजस्थान में गर्मी के तेवर तीखे होने अंधड़ और बौछारों से पाला उलटी चाल चल रहा है। हाड़ौती समेत पूर्वोत्तर भागों में फिर मौसम ने पलटा खाया और भरतपुर,झालावाड़,बूंदी, कोटा ,बारां में अंधड़ के साथ गिरी बौछारों ने गर्मी के बढ़ते असर पर ब्रेक लगा दिए। राजधानी में बीती रात तेज रफ्तार से धूलभरी हवाएं चली और छितराई बौछारें गिरी वहीं आज सुबह करीब 15 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चली पुरवाई हवा ने धूप की तपिश को कम कर दिया। मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो अगले चौबीस घंटे और प्रदेश के पूर्वोत्तर समेत पश्चिमी भागों में धूलभरी हवाएं चलने और कुछ इलाकों में छितराई बौछारें गिरने की संभावना है। वहीं इसके साथ ही अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री तक बढ़ोतरी होने का अंदेशा है।

बीते चौबीस घंटे में बाड़मेर, चूरू,जोधपुर , बीकानेर  और जैसलमेर में अधिकतम तापमान 44 डिग्री व उससे ज्यादा रहने पर गर्मी ने तीखे तेवर दिखाए। वहीं भरतपुर में आए अंधड़ से जनजीवन प्रभावित हुआ। जिले के हलैना कस्बे में उड़े टीन के नीचे दबने से एक व्यक्ति की मौत हो गई।

राजधानी में बीती रात तेज रफ्तार से चले अंधड़ और मेघगर्जन के साथ हल्की बौछारों से मौसम का मिजाज बदला। आज सुबह आसमान में छाई धूल और पुरवाई हवा ने सूर्योदय के बाद खिली धूप की तपिश कम कर दी। वहीं सुबह शहर में हल्की बूंदाबांदी भी हुई। शहर में बीती रात हवा का रुख बदला और 1.8मिमी बारिश शहर में मापी गई। वहीं आज शहर का न्यूनतम तापमान 27.8डिग्री रहा और आज सुबह नौ बजे अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस रहा है।बादलों के कारण आज सुबह से रही धूपछांव से गर्मी के तीखे तेवर आंशिक रूप से नर्म रहे। स्थानीय मौसम केंद्र ने आज शहर का अधिकतम तापमान 43 डिग्री सेल्सियस तक रहने व दिन में धूलभरी हवाएं चलने का अंदेशा जताया है।