जयपुर राजस्थान

गुजरात विधानसभा चुनाव-गहलोत सरकार के मंत्री और विधायक संभालेंगे कांग्रेस की बागडोर,रिझाऐंगे राजस्थानियों को

जयपुर/ राजस्थान के पड़ोसी राज्य गुजरात में गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर गुजरात में भाजपा से सत्ता हथियाने के लिए कांग्रेस के नेता आलाकमान जी तोड़ कोशिश करने में लगे हुए हैं और इस चुनाव में गुजरात की 26 से अधिक लोक सभा अर्थात संसदीय क्षेत्रों में राजस्थान के मंत्रियों और नेताओं को जिम्मेदारी देते हुए ।

उनकी नियुक्तियां की है अर्थात राजस्थान के मंत्री और कांग्रेस के नेता गुजरात में रहने वाले राजस्थानी मतदाताओं को कांग्रेस के पक्ष में करने के लिए अपने अपने प्रयास में जुट गए हैं। हालांकि कुछ मंत्रियों नेताओं ने तो अभी तक गुजरात में अपनी जिम्मेदारी निर्वहन की एक सीडी भी नहीं चढ़ी है।

गुजरात विधानसभा में 182 सीटों के लिए दिसंबर के प्रथम सप्ताह में दो चरणों में चुनाव होने हैं पहला चरण 1 दिसंबर को दूसरा चरण 5 दिसंबर को होगा और इस चुनाव में गुजरात के करीब 5 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे गुजरात की आबादी कृषि करीब 6:30 करोड़ है और इस 6:30 करोड़ की आबादी में से एक करोड़ से अधिक मतदाता और लोग हैं जिनकी पारिवारिक जड़े राजस्थान से जुड़ी हुई है और इनमें से कई तो ऐसे हैं जो पिछले 40 50 सालों से राजस्थान से जाकर गुजरात में ही बस गए हैं और वहां व्यापार कर रहे हैं।

एक अनुमान के अनुसार राजस्थान के उदयपुर संभाग और शेखावटी क्षेत्र तथा जोधपुर बीकानेर से हर वैश्य समुदाय और किसान समुदाय के लाखों परिवार गुजरात में रहते हैं इनमें से मेहसाणा अहमदाबाद बनासकांठा बड़ोदरा आनंद सुरेंद्रनगर राजकोट सूरत और कच्छ में तो राजस्थान मूल के लोगों की आबादी लगभग 25% से 50% तक है ।

यही नहीं इसके अलावा मेडिकल और व्यापार के सिलसिले में करीब एक लाख से अधिक राजस्थानी लोग रोजाना गुजरात आते जाते रहते हैं ऐसे में कांग्रेस ने राजस्थानी समुदाय और राजस्थानी मतदाताओं को लुभाने के लिए हर चुनाव की तरह इस बार भी प्रचार प्रसार दौरे और सभाओं के लिए राजस्थान कांग्रेस सरकार के मंत्रियों नेताओं को जिम्मेदारी सौंपी है भाजपा भी इसमें पीछे नहीं है ।

कांग्रेस मे इन मंत्रियो और नेताओ को लगाया

गुजरात की 26 लोकसभा सीटों पर राजस्थान मैं गहलोत सरकार के मंत्रियों और विधायकों की अलग-अलग जिम्मेदारी सोते हुए ड्यूटी लगाई गई है और एक लोक सभा क्षेत्र में करीब 5 से 7 विधानसभा सीटें हैं।दिन की ड्यूटी लगाई गई और जिम्मेदारी सौंपी गई है।

उनमें शिक्षा मंत्री डॉक्टर बी डी कल्ला को आनंद राजस्व मंत्री रामलाल जाट को पाटन अल्पसंख्यक मामलात मंत्री साले मोहम्मद को कच्छ खेल राज्य मंत्री अशोक चांदना को बनासकांठा विधायक राजकुमार शर्मा को सूरत आरटीडीसी के चेयरमैन धर्मेंद्र राठौड़ को अहमदाबाद सहकारिता मंत्री द्वारा आंजना को मेहसाणा उद्योग मंत्री शकुंतला रावत को सुरेंद्रनगर खान मंत्री प्रमोद जैन भाया को राजकोट गृह राज्य मंत्री राजेंद्र सिंह यादव को जामनगर सुखराम बिश्नोई को अमरेली ऊर्जा मंत्री भंवर सिंह भाटी को भावनगर पूर्व सांसद ताराचंद भगोरा को पंचमहाल विधायक अमीन का जी को अहमदाबाद जल संसाधन मंत्री महेंद्रजीत मालवीय को दाहोद पूर्व मंत्री अर्जुन बामणिया को छोटा उदयपुर और प्रशासनिक सुधार राज्यमंत्री गोविंद राम मेघवाल को भरूच उसकी जिम्मेदारी सौंपी गई है।

इन सभी 26 लोकसभा क्षेत्रों में कांग्रेस मंत्रियों और नेताओं को प्रत्येक विधानसभा के हिसाब से कांग्रेश की टीम बनाकर टीम को चुनावी तैयारियां करवानी थी और इसके लिए उनकी जिम्मेदारी वाली लोकसभा सीट के तहत आने वाले प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में आलाकमान के दिशा निर्देश अनुसार अब तक करीब 6 से 7 डेट के करनी थी।

लेकिन अब तक राजस्थान के नेताओं की अपवाद को छोड़कर दो-तीन बार ही बैठ के हो सकी है कुछ नेताओ ने तो अभी तक गुजरात की धरा पर बैठकर करना तो दूर कदम भी नहीं रखा है ।

वहीं दूसरी ओर भाजपा ने अभी तक स्पष्ट नहीं किया है कि राजस्थान के कौन-कौन से भाजपा नेता पूर्व विधायक पूर्व मंत्री वर्तमान विधायक गुजरात में भाजपा के लिए प्रचार प्रसार करेंगे

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम