Jaipur News in Hindi | The teacher forged headmaster's signature
जयपुर राजस्थान

राजस्थान में 93 हजार पदों पर गेस्ट फैकल्टी भर्ती पर रोक , आखिर क्यों सरकार को बैकफुट पर आना पड़ा 

जयपुर/ राजस्थान में सरकारी स्कूलों में खाली पड़े शिक्षकों के पदों पर वैकल्पिक तौर पर व्यवस्था के लिए सरकार द्वारा 93 हजार गेस्ट फैकल्टी शिक्षकों की भर्ती वरीयता सूची निकाले जाने के 2 दिन पहले एन वक्त पर स्थगित कर दी है इससे रोजगार की आस लगाए बैठे बेरोजगारों के सपनों पर पानी फिर गया है  आखिर सरकार को यह भर्ती स्थगित क्यों करनी पड़ी और क्यों बैकफुट पर आना पड़ा ।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सरकार ने 60260 पदों पर स्थाई शिक्षक भर्ती प्रस्तावित कर रखी है लेकिन सरकारी स्कूलों को यह 60260 नए शिक्षक अगले शैक्षणिक सत्र से मिलेंगे लेकिन वर्तमान में प्रदेश के सरकारी स्कूलों में खाली पड़े शिक्षकों के पद से विद्यार्थियों प्रभावित हो रही पढ़ाई को मद्देनजर रखते हुए ।

सरकार ने राजस्थान विद्या संबल योजना के तहत गेस्ट फैकल्टी के रूप में 93000 पदों पर भर्ती निकाली थी और इसके लिए 2 नवंबर से स्कूलों में आवेदन आमंत्रित किए गए थे तथा आवेदन जमा कराने की अंतिम तिथि 7 नवंबर थी और आवेदन करने वालों की सूची 9 नवंबर को जारी हुई और 11 नवंबर को अस्थाई मेरिट सूची जारी की गई ।

गेस्ट फैकल्टी पर 12 नवंबर से 14 नवंबर तक आपत्ती मांगी गई थी और अपाचे की जांच के बाद अंतिम मेरिट सूची 16 नवंबर को जारी होनी थी और 17 और 18 नवंबर को राजस्थान विद्या संबल योजना मेरिट लिस्ट में नाम वाले अभ्यर्थियों को दस्तावेजों की जांच और फिर 19 नवंबर को कार्यभार ग्रहण करना था लेकिन मेरिट सूची जारी होने से 2 दिन पहले आज सरकार के निर्देश पर निदेशालय ने यह भर्ती स्थगित कर दी इस भर्ती के लिए B.Ed रीट अभ्यर्थी युवाओं को लिया जाना था।

आखिर एन वक्त पर भर्ती प्रक्रिया को क्यों करना पड़ा स्थगित

सूत्रों के अनुसार इस विद्या संबल योजना भर्ती प्रक्रिया के तहत sc-st आरक्षण का प्रावधान नहीं रखा गया था इस पर sc-st संगठनों ने मुख्यमंत्री और राज्यपाल के समक्ष आपत्ति दर्ज कराई थी और आरक्षण का प्रावधान लागू नहीं करने पर मामला कोर्ट में जाने की भी संभावना थी ।

इस पर सरकार के दिशा निर्देश पर आज शिक्षा निदेशक गौरव अग्रवाल ने एक आदेश जारी कर गेस्ट फैकल्टी भर्ती के आदेश स्थगित कर दिए हैं हालांकि आदेश में भर्ती स्थगित करने का कारण नहीं बताया गया है।

सरकार ने आनन-फानन में आने वाले विधानसभा चुनाव में राजनीतिक लाभ लेने के लिए जल्दबाजी करते हुए शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दिशा निर्देश जारी कर दिए थे कि 93000 पदों पर गेस्ट फैकल्टी के रूप में राजस्थान विद्या संबल योजना के तहत शिक्षकों की भर्ती की जाए अधिकारियों को सरकार ने इस भर्ती प्रक्रिया में आरक्षण जैसे मापदंड अपनाने और से निर्धारित करने का समय तक नहीं दिया और यही नतीजा रहा कि भर्ती भर्ती प्रक्रिया को स्थगित करना पड़ा।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम