गोगामेडी हत्याकांड, दोनों शूटर सहित तीन गिरफ्तार,पत्नी शीला ने कहा एनकाउंटर ,नहीं तो देशभर मे होगा आन्दोलन

Dr. CHETAN THATHERA
9 Min Read

जयपुर/ श्री श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेडी हत्याकांड के मुख्य आरोपी दोनों शूटर सहित तीन जनों को राजस्थान पुलिस और दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने संयुक्त रूप से अभियान के तहत घटना की तीन दिन बाद शनिवार की मध्य रात्रि को चंडीगढ़ में एक होटल से गिरफ्तार कर लिया है ।

तीनों को जयपुर लाया गया जिनसे पूछताछ और हत्या में प्रयुक्त हथियार बरामद करने की कार्यवाही की जा रही है। उधर इस हत्याकांड में शूटर नितिन फौजी को लालच देकर यह हत्याकांड कराया जाना सामने आया है तथा इस हत्याकांड को जिनके इशारे पर किया गया उन दो युवकों का खुलासा होने के बाद उनकी भी गिरफ्तारी के प्रयास शुरू कर दिए गए हैं।

दूसरी ओर दिवंगत गोगामेड़ी की पत्नी शीला ने आरोपियों का एनकाउंटर करने की मांग की है एनकाउंटर नहीं करने पर उन्होंने देशभर मे उग्र आंदोलन की चेतावनी देने के साथ ही करणी सेना के साथ मिलकर स्वयं द्वारा आरोपियों का एनकाउंटर करने की भी चेतावनी दी है ।

जयपुर के श्याम नगर थाना क्षेत्र में गत 5 दिसंबर को शादी का कार्ड देने के बहाने श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेडी की अंधाधुंध फायरिंग कर हत्या कर दी गई थी।

इस हत्याकांड में आरोपियों नितिन फौजी और रोहित राठौर की गिरफ्तारी के लिए गठित एसआईटी राजस्थान की पुलिस और दिल्ली की क्राइम ब्रांच पुलिस ने बीती देर रात को चंडीगढ़ सेक्टर 22 ए से एक होटल में छापा मार कर रोहित राठौर नितिन फौजी और दोनों को सहयोग करने वाले उधम सिंह को गिरफ्तार कर लिया है।प्रारंभिक तौर पर पुलिस ने उनके पास से मोबाइल बरामद किए हैं और इन तीनों को आज जयपुर लाया गया।

उनके इशारे पर हुई हत्या

पुलिस सूत्रों के अनुसार नितिन फौजी और रोहित राठौर से की गई प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया कि दोनों शूटर शूटर गैंगस्टर रोहित गोदारा के राइट हैंड वीरेंद्र चारण और दानाराम के लगातार संपर्क में थे वीरेंद्र और दानाराम के सारे पर ही इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया था तथा हत्या के बाद फौजी और राठौर दानाराम और वीरेंद्र से लगातार फोन पर बातचीत कर रहे थे पुलिस की टीम दानाराम और वीरेंद्र की तलाश में जुट गई है।

आरोपियो ने प्रारंभिक पूछताछ में बताया कि कुल 17 राउंड गोलियां चलाई गई थी और घटना के बाद रिवॉलवरों को छुपा दिया था और फिर वह सड़क मार्ग से जयपुर से डीडवाना सुजानगढ़ दारूहेड़ा तक पहुंचे और आगे बस से मनाली मनाली से मंडी और मंडी से फिर यह चंडीगढ़ आए हिसार से ही उधम इन दोनों के साथ शामिल हो गया था जिसे भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है ।

पूछताछ में सामने आया है कि नितिन फौजी हरियाणा के महेंद्रगढ़ का निवासी है और सेना में सिपाही है उसकी पोस्टिंग राजस्थान के अलवर में 8 नवंबर को हुई और वह दो दिन की छुट्टी लेकर घर पहुंचा था।

नितिन फौजी को कनाडा का फर्जी पासपोर्ट और वीजा के लालच में फसाया

नितिन फौजी ने स्वीकार किया कि इस हत्याकांड में राजस्थान के मोस्ट वांटेड और शूटर गैंगस्टर रोहित गोदारा और वीरेंद्र चारण ने उसका इस्तेमाल किया उसने बताया कि 9 नवंबर को उसे फर्जी चोरी के मामले में घसीटा जा रहा था और जब हरियाणा पुलिस उसे पकड़ने गई तो उसने उन पर फायरिंग कर दी थी और फिर भाग निकल गया।

भागने के बाद फौजी को पता चला कि उसकी नौकरी चली जाएगी और परिवार वाले उसे स्वीकार नहीं करेंगे इस दौरान ही नवंबर के अंतिम सप्ताह में उसका संपर्क गोदारा और चारण के सहयोगी रोनी से हुआ तीनों ने फौजी से कहा कि अगर वह गोगामेडी की हत्या करने में उनकी मदद करेगा तो वह लोग उसका कनाडा के लिए फर्जी पासपोर्ट और वीजा की व्यवस्था कर देंगे।

वह लालच में आ गया और उसने हां भरी तब रामवीर जिसे कल पुलिस ने पकड़ा था उसने रोहित राठौर से उसका संपर्क कराथा। रोहित का गोगामेड़ी से विवाद था। रोहित ने नवीन शेखावत को भी अपने साथ जोड़ लिया हालांकि नवीन शेखावत को इस पूरी योजना की जानकारी नहीं थी।

72 घंटे में आरोपी का एनकाउंटर नहीं तो देश भर में आन्दोलन 

सुखदेव सिंह गोगामेडी की पत्नी शीला शेखावत ने कहा कि राजस्थान पुलिस उसके पति की हत्या के आरोपियों का एनकाउंटर कर दें उन्होंने कहा कि अगर एक आवाज लगा दी तो राजस्थान के हालात खराब हो जाएंगे इसलिए 72 घंटे में आरोपियों का एनकाउंटर कर दिया जाए नहीं तो पूरे देश में उग्र आंदोलन किया जाएगा।

उसने कहा कि इसके अलावा मेरी कोई मांग नहीं है मेरी पहली और आखिरी मांग एनकाउंटर ही है अगर हमारी मांगे सुनी जाती है तो ठीक वरना अपने तरीके से समझाना हमें भी आता है। पहले मेरे पति ने समझाया था अब मैं समझाऊंगी। शीला ने कहा की हमने कई बार प्रशासन और सरकार को बताया था कि हमारे पति को जान का खतरा है धमकियां दी जाती है कई बार पत्र लिखें और सुरक्षा की मांग की और हम यह मांग 2016 से ही कर रहे है।

सुरक्षा और धमकियों को लेकर 2016 में आंदोलन भी किया था लेकिन इसके बाद भी तत्कालीन कांग्रेस की गहलोत सरकार ने इस और ध्यान नहीं दिया और सरकार की इस लापरवाही और अनदेखी के कारण यह कांड घटित हुआ ।

शीला शेखावत ने कहा कि अब तक मेरे पति सुखदेव सिंह श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के माध्यम से गरीबों का साथ देते थे अब मैं लोगों के साथ करनी सेवा के माध्यम से उनके सुख-दुख में खड़ी रहूंगी

अजमेर जेल में बनी थी गोगामेड़ी की हत्या की साजिश

रोहित गोदारा का सुखदेव गोगामेड़ी के साथ जमीनों को लेकर विवाद था जबकि रोहित राठौर की मुलाकात रोहित गोदारा के राइट हैंड वीरेंद्र चरण के साथ अजमेर की जेल में हुई थी जहां रोहित भी एक रेप के मामले में बंद था जेल में रोहित राठौर ने वीरेंद्र चारण को बताया कि इस रेप के मामले में राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष गोगामेडी उसके खिलाफ है ।

जिससे उसके मन में गोगामेड़ी के खिलाफ नफरत है बदला लेने की योजना बना ली थी और इसी गुस्से का फायदा वीरेंद्र चारण में उठाया और रोहित राठौर को इस हत्याकांड में शामिल कर लिया।

गोगामेड़ी की तीसरी पत्नी सपना ने क्या कहा

गोगामेड़ी की तीसरी पत्नी सपना सोनी ने कहा कि घटना के समय वह उनके साथ थी जब तीन ऑन युवकों से नीचे मिल रहे थे तब ऊपर कमरे में थी और फायरिंग की आवाज पहुंचने पटाखे की आवाज सुनकर वह नीचे आई उसने देखा कि तीनों युवक मेरे पति पर फायरिंग कर भाग गए हैं ।

उनको लहुलुहान वहां हालात में सबसे पहले मैं ही उनको अस्पताल लेकर गई थी भादरा की रहने वाली सपना ने दावा किया है कि वह उनकी तीसरी पत्नी है और पिछले 11 सालों से उनके साथ ही रह रही थी सपना ने कहा कि उनकी पहली पत्नी हरियाणा की शकुंतला चौधरी है दूसरी पत्नी शीला शेखावत है और तीसरी वह स्वयं है और यह बात उनके घरवाले और पूरा देश और पूरा राजस्थान जानता है।

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम