गहलोत सरकार ने राजस्थान में रात्रिकालीन कर्फ्यू हटाया, अब नही करना पड़ेगा शाम 7 बजे बाजार बंद

Jaipur News। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पिछले कुछ समय से कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार कमी को देखते हुए प्रदेश के 13 जिला मुख्यालयों में लागू रात्रिकालीन कर्फ्यू तथा शाम 7 बजे बाजार बंद करने के प्रतिबंध को हटाने के निर्देश दिए हैं। इसी के साथ उन्होंने विभिन्न सामाजिक, धार्मिक एवं राजनीतिक आयोजनों के …

गहलोत सरकार ने राजस्थान में रात्रिकालीन कर्फ्यू हटाया, अब नही करना पड़ेगा शाम 7 बजे बाजार बंद Read More »

January 18, 2021 7:07 pm

Jaipur News। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पिछले कुछ समय से कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार कमी को देखते हुए प्रदेश के 13 जिला मुख्यालयों में लागू रात्रिकालीन कर्फ्यू तथा शाम 7 बजे बाजार बंद करने के प्रतिबंध को हटाने के निर्देश दिए हैं। इसी के साथ उन्होंने विभिन्न सामाजिक, धार्मिक एवं राजनीतिक आयोजनों के लिए जिला कलेक्टर की पूर्वानुमति की अनिवार्यता के नियम में शिथिलता देते हुए अनुमति के स्थान पर सूचना देना जरूरी किया है, हालांकि इन आयोजनों में शामिल होने वाले लोगों की अधिकतम संख्या पूर्व की भांति रहेगी।

मुख्यमंत्री गहलोत सोमवार को मुख्यमंत्री निवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंस से कोरोना की स्थिति तथा टीकाकरण की समीक्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना के केसेज में गिरावट के बावजूद हमें मास्क पहनने, दो गज दूरी बनाए रखने, भीड़-भाड़ से दूर रहने के कोविड प्रोटोकॉल की पालना में कोई ढ़िलाई नहीं बरतनी है। तभी हम कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोक पाएंगे। उन्होंने कहा कि ऐसी नौबत न आए कि फिर से प्रतिबंध लगाने पर मजबूर होना पड़े। उन्होंने निजी अस्पतालों एवं लैब्स में आरटी-पीसीआर जांच की दर 800 रुपये से घटाकर 500 रुपये करने के भी निर्देश दिए। मुख्यमंत्री के इस निर्णय से प्रदेशवासियों को कम दरों पर जांच सुविधा उपलब्ध हो सकेगी।

गहलोत ने कहा कि बेहतरीन प्रबंधन और प्रदेशवासियों के सहयोग से राजस्थान में कोरोना की स्थिति काफी नियंत्रण में है। प्रदेश की रिकवरी रेट राष्ट्रीय औसत 96.58 के मुकाबले 97.53 प्रतिशत हो गई है। सक्रिय मामलों की संख्या भी लगातार घट रही है। कई जिलों में पॉजिटिव केस शून्य तक आ गए हैं। ऐसे में रात्रिकालीन कर्फ्यू तथा बाजार खुलने के समय पर पाबंदी हटाई गई है। इस क्रम में अन्य गंभीर बीमारियों के मरीजों के लिए निजी अस्पतालों में बेड्स की उपलब्धता सुनिश्चित हो इसके लिए 100 बेड से अधिक क्षमता वाले निजी अस्पतालों में कोविड के लिए आरक्षित बेड की संख्या 40 प्रतिशत से घटाकर न्यूनतम 10 बेड की जाए।

पहले दिन 73.79 प्रतिशत हैल्थ वर्कर्स को टीका लगना उत्साहजनक

गहलोत ने प्रदेश में कोरोना के वैक्सीनेशन कार्यक्रम की समीक्षा के दौरान कहा कि प्रदेश में पहले ही दिन शनिवार को राष्ट्रीय औसत 63.66 प्रतिशत से करीब 10 प्रतिशत अधिक कुल 73.79 प्रतिशत हैल्थ वर्कर्स द्वारा वैक्सीन लगवाया जाना उत्साहजनक है और यह इस बात का संकेत है कि कोरोना प्रबंधन की तरह ही हम टीकाकरण में भी अव्वल रहेंगे। उन्होंने कहा कि वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है और प्राथमिकता के क्रम में जिन लोगों को यह वैक्सीन लगनी है वह बिना किसी हिचक के टीका लगवाएं।

शासन सचिव चिकित्सा शिक्षा वैभव गालरिया ने प्रस्तुतीकरण में बताया कि आरयूएचएस में भर्ती कोविड रोगियों की संख्या केवल 24 रह गई है। प्रदेश में पहले दिन 167 केन्द्रों पर 12 हजार 258 स्वास्थ्यकर्मियों ने टीका लगवाया। जोधपुर, अजमेर, बूंदी तथा अलवर में तो टीकाकरण का शत-प्रतिशत लक्ष्य हासिल किया गया।
बैठक में मुख्यमंत्री ने आयुष्मान भारत महात्मा गांधी राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना के नए चरण के शुभारंभ की तैयारियों की भी जानकारी ली।

बीमा पैकेज में कोविड-19 और हीमोडायलिसिस का उपचार शामिल करने को मंजूरी

गहलोत ने आयुष्मान भारत महात्मा गांधी राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना के पैकेज की सूची में कोविड-19 और हीमोडायलिसिस रोगों को भी शामिल करने का निर्णय लिया। उन्होंने इस संबंध में वित्त विभाग के प्रस्ताव का अनुमोदन भी कर दिया है। इन दो बीमारियों के मरीजों को स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ सुनिश्चित करने के लिए राज्य सरकार प्रतिवर्ष लगभग 41 करोड़ रूपए अतिरिक्त वहन करेगी।

Prev Post

भाजपा की रैली पर फिर फेंके गए पत्थर, आक्रोशित भाजपा कार्यकर्ताओं ने की तोड़फोड़, क्षेत्र में तनाव

Next Post

जयपुर में मंगलवार को आधे से अधिक शहर में नल बंद , इन क्षेत्रों में देखें

Related Post

Latest News

राजस्थान का अगला पायलट होंगे डाॅ जोशी ? सचिन नहीं, आलाकमान झुकेगा या 70 साल पहले का इतिहास दोहराया जा सकता, पढ़े खबर
टोंक के पचेवर ग्राम विकास अधिकरी 15 हज़ार रुपए लेते ट्रेप,पीएम आवास योजना की दूसरी किश्त जारी करने की एवज में मांग रहा था 20 हज़ार की घुस,
राजस्थान कांग्रेस में घमासान-अब गहलोत पर सकंट, ऑब्जर्वर लौटे, गहलोत व सचिन तलब,आलाकमान गहलोत से नाराज

Trending News

भीलवाड़ा में गुटखा व्यापारी का दिनदहाडे अपहरण, 5 करोड़ फिरौती मांगी, 3 हिरासत में 
ब्रश, स्पंज और उंगलियों से लिक्विड फाउंडेशन कैसे लगाएं
आपके जीवन में स्वस्थ कितना जरुरी हैं और आहार क्या है, फायदे और डाइट चार्ट
बोलेरो को ट्रेलर ने मारी टक्कर तीन की मौत दो बच्चों सहित पांच गम्भीर घायल, भीलवाड़ा रैफर

Top News

गहलोत सरकार के मंत्री शांति धारीवाल का बड़ा आरोप, गहलोत को हटाने का षड्यंत्र रच रहे थे माकन, सबूत पेश कर दूंगा
ACB का धमाका - PHED का चीफ इंजीनियर और दलाल 10 लाख रिश्वत लेते गिरफ्तार
जी 6 के विधायकों का गहलोत कैंप पर तीखा हमला, कहा- 'आलाकमान को आंख दिखाने वालों पर हो कार्रवाई'
मंत्री धारीवाल ने माकन के वक्तव्य पर किया पलटवार, माकन और आलाकमान को किया कटघरे में खड़ा
कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए आ सकता है नया नाम, कौन, जानें पढ़े ख़बर 
राजस्थान का अगला पायलट होंगे डाॅ जोशी ? सचिन नहीं, आलाकमान झुकेगा या 70 साल पहले का इतिहास दोहराया जा सकता, पढ़े खबर
टोंक के पचेवर ग्राम विकास अधिकरी 15 हज़ार रुपए लेते ट्रेप,पीएम आवास योजना की दूसरी किश्त जारी करने की एवज में मांग रहा था 20 हज़ार की घुस,
राजस्थान कांग्रेस में घमासान-अब गहलोत पर सकंट, ऑब्जर्वर लौटे, गहलोत व सचिन तलब,आलाकमान गहलोत से नाराज
राजस्थान के सियासी घटनाक्रम से नाराज कांग्रेस आलाकमान ने प्रभारी अजय माकन से मांगी रिपोर्ट
टोंक में सड़क हादसे में 4 की मौत, कोटा एलन कोचिंग के छात्र हरिद्वार घूमने निकले थे, बाड़ा तिराहे पर हुआ हादसा