गहलोत सरकार ने 19 नए जिले को दी मंजूरी ,अब 50 जिलों में प्रदेश में सबसे बड़ा जिला जैसलमेर और सबसे छोटा जिला होगा दूदू

Dr. CHETAN THATHERA
3 Min Read
CM Ashok Gehlot

जयपुर/ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज मंत्रिमंडल की मीटिंग में राजस्थान की जनता के उस इंतजार को आखिर खत्म कर दिया जब उन्होंने प्रदेश में घोषित किए गए 19जिलों को मंजूरी देते हुए नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। जयपुर और जोधपुर को नहीं बांटा गया है ।

आज मोदी के विषय में जारी होने के साथ ही यह जिले अस्तित्व में आ जाएंगे और यहां लगाए गए आईएएस और आईपीएस जिन्हें ओएसडी के रूप में लगाया गया था अब वह जिला कलेक्टर और जिला पुलिस अधीक्षक के रूप में पद स्थापित माने जाएंगे ।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज कैबिनेट की मीटिंग में 19 नए जिलों के नोटिफिकेशन अर्थात अधिसूचना जारी कर दी है इसके साथी राजस्थान में 50 जिले हो गए हैं पहले 33 जिले थे और इसके साथ ही तीन संभाग पाली सीकर और बांसवाड़ा को भी संभाग की अधिसूचना जारी कर दी गई है अब राजस्थान में 10 संभाग हो गए हैं ।

सरकार द्वारा आज अधिसूचना जारी होने के साथ ही जो इन जिलों में ओएसडी लगाए गए थे आईएएस अधिकारी और आईपीएस अधिकारी अब उनका पद कलेक्टर और एसपी हो जाएगा तथा इन नए जिलों में कलेक्टर और एसपी के साथ ही जिला स्तर के कार्यालय खुलने शुरू हो जाएंगे।

इस कैबिनेट की मीटिंग में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि यह नए जिलो के रूप में जो छोटे जिले बनाए गए उनके प्रयोग के परिणाम आने के बाद हम आगे भी इसी तरह और छोटे-छोटे जिले बनाएंगे ।

ताकि क्षेत्रों का समुचित रक्षा विकास हो सके अभी नेट के मीटिंग में राजस्व मंत्री रामलाल जाट ने मांग की कि आगे और भी जिले बने कुछ छोटे जिले भी बनाए जाएं लोगों की जिलों की और मांग आ रही है भाजपा के नेता भी जिलों की मांग कर रहे हैं आगे और भी नहीं जिले बनाए जाए।

देखें कौन कौन से ज़िले

कल से ही प्रभारी मंत्री नए जिलों में जाएंगे और 7 अगस्त को सभी जिलों में पूजा अर्चना के कार्यक्रमों के साथ ही नए जिलों का विधिवत रूप से उद्घाटन यह शुरुआत होगी ।

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम