लेडी सिंघम डिप्टी एसपी से मेट्रोमोनियल साइट से फर्जी आईआरएस ने रचाई शादी और फिर…

Dr. CHETAN THATHERA
4 Min Read

जयपुर। वर चाहिए वधू चाहिए के लिए बनाई गई shaadi.com जैसी मेट्रोमोनियल साइटों के जरिए किए गए रिश्ते कई बार फर्जी और झूठे निकल जाते हैं और इन साइडों के जरिए झूठी जानकारी देकर रिश्ते करने और शादी के बाद सच्चाई सामने आने के कई मामले अब तक देखने को सुनने को और पढ़ने को आपको मिले होंगे ।

ऐसा एक मामला सामने आया जब पुलिस विभाग में लेडी सिंघम के नाम से प्रसिद्ध एक डिप्टी एसपी महिला से फर्जी आईआर एस अधिकारी बनकर शादी करने और उसके बाद अपनी डिप्टी एसपी पत्नी के नाम पर लोगों के साथ धोखाधड़ी और थमने की घटना कारित करने का मामला सामने आया है ।

पुलिस सूत्रों के अनुसार घटना उत्तर प्रदेश की है पीड़ित महिला डिप्टी एसपी श्रेष्ठा ठाकुर है जो सन 2012 बैच की पीपीएस अधिकारी है और वर्तमान में उत्तर प्रदेश के शामली में डिप्टी एसपी के पद पर तैनात है।

जिसे सिंघम लेडी के नाम से भी जाना जाता है डिप्टी एसपी सिस्टर ठाकुर द्वारा गाजियाबाद के कौशांबी थाने में दी गई रिपोर्ट में बताया गया कि 2018 में उनकी शादी रोहित राज नाम के युवक से हुई थी रोहित से उनकी जान पहचान मैट्रिमोनियल साइड के जरिए हुई।

इस पर रोहित ने स्वयं को 2008 बैच का आईआरएस अधिकारी बताते हुए रांची में डिप्टी कमिश्नर के पद पर तैनात बताया था जान पहचान होने के बाद शादी की बात पहुंची और उनके परिजनों ने रोहित राज के बारे में मैट्रिमोनियल साइट पर बताए गए।

जानकारी के अनुसार पता किया तो क्या हुआ उसके द्वारा दी गई जानकारी सत्य है जबकि वास्तविकता यह थी कि इसी नाम का एक युवक युवक का आईआरएस में चयन हुआ था अर्थात एक जैसे नाम होने का फायदा रोहित राज ने उठाया ।

श्रेष्ठा ठाकुर ने रिपोर्ट में बताया कि शादी हो जाने के कुछ दिनों बाद उसे उसके पति का पता चला कि वह आईआरएस अधिकारी नहीं है बल्कि वह एक बेरोजगार है लेकिन फिर भी उसने इस शादी को बचाए रखने के लिए मौन धारण कर लिया और रिश्ता बनाए रखा लेकिन उसका पति रोहित राज जो की एक धोखेबाज था।

उसकी धोखाधड़ी करने की आदतें और बढ़ गई और वह उसके नाम से धोखाधड़ी करने लगा इससे परेशान होकर उसने शादी के 2 साल बाद रोहित राज से तलाक ले लिया लेकिन तलाक के बाद भी रोहित राज अपनी आदतों से बाज नहीं आया और वह जहां इसका पदस्थापन होता ।

उसे जिले में जाकर उसके नाम से धोखाधड़ी और ठगी करता से परेशान होकर उसने गाजियाबाद के कौशांबी थाने में मामला दर्ज कराया तो वर्तमान में कौशांबी में ही रह रहा था।

पुलिस ने मामला दर्ज कर रोहित राज को गिरफ्तार कर लिया है और जांच पड़ताल शुरू कर दी है बताया जाता है कि रोहित राज ने अपनी पत्नी डिप्टी एसपी सिस्टर ठाकुर से भी लाखों रुपए ठगे हैं।

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम