जयपुर

खुद को भंवर सिंह भाटी विधायक बताते हुए एक व्यापारी से 15 लाख रुपए की ठगने वाले गिरोह का पर्दाफाश

गिरोह के चार सदस्य गिरफ्तार ,जेल से संचालित हो रहा रहा था यह धोखाधडी का खेल

जयपुर। शहर के विश्वकर्मा थाना पुलिस ने खुद को भंवर सिंह भाटी विधायक बताते हुए एक व्यापारी से 15 लाख रुपए की ठगने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है। वहीं गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार कर 15 लाख रुपए की नकदी बरामद की गई है। पुलिस ने बताया कि यह सारा खेल जेल में संचालित हो रहा था।

पुलिस उपायुक्त, जयपुर पश्चिम अशोक कुमार गुप्ता ने बताया कि ओमप्रकाश करनानी निवासी डूंगरगढ जिला बीकानेर हाल गोविन्दनगर झोटवाडा ,नन्दलाल जोशी निवासी गांव पाटमदेशर चूरू हाल शास्त्री नगर , श्यामलाल पारीक चूरू हाल सीकर हाउस चॉदपोल शशीकान्त थोई जिला सीकर हाल मुरलीपुरा को गिरफ्तार किया गया है।

इस मामले में हवाला कारोबारी सुखदेव पुलिस कार्रवाई की भनक लगते ही फरार हो गया है। प्रांरभिक पूछताछ मेंं सामने आया कि आरोपी इससे पहले भी राजसमंद जिले में ऊर्जा मंत्री पुष्पेंद्र सिंह राणावत बनकर लाखों रूपए ठग चुके है । पुलिस ने दोनों वारदातों का खुलासा कर आरोपियों के कब्जे से साढे 24 लाख रूपए बरामद किए है । मामले में फरार सुखेदव की तलाश में टीमें रवाना की गई है ,वहीं पुलिस जेल में बंद सुरेश घांची को भी प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार करने की तैयारी में है ।

यह था मामला

पुलिस ने बताया कि यह पूरा मामला बीकानेर के कोलायत इलाके का है। जहां के विधायक भंवर सिंह भाटी की मेडीकल सहायता के नाम का इस्तेमाल कर एक शातिर ठग ने बीकानेर के ही एक व्यापारी के.बी गुप्ता से 15 लाख रुपए ठग लिए। शातिर ठग ने गुप्ता को फोन कर जल्द 15 लाख रुपए देने की डिमांड की। गुप्ता जयपुर में रह रहे अपने एक मित्र राजेश अग्रवाल से 15 लाख रुपए उधार लिए। और ठग द्वारा बताए गए स्थान पर जाकर उस आदमी को रुपए सौंप दिए।
रुपए देने के बाद जब गुप्ता ने ठग के नंबर पर फोन मिलाया तो वह बंद आया। जिसके बाद गुप्ता को शक हुआ। और उन्होंने विधायक भंवर सिंह भाटी से संपर्क साधा तब जाकर गुप्ता को उसके साथ हुई ठगी का पता चला। विधायक भंवर सिंह भाटी एक निजी अस्पताल में इलाज करा रहे थे। इस दौरान उनको ये सूचना मिली। जिसके बाद विधायक विश्वकर्मा थाना इलाके में ठगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया।

वारदात का तरीका –

गैग के सरगना सुरेश उर्फ भेरिया विभिन्न लोगो की हुबहु आवाज निकालने का मास्टर माईण्ड है । जो विभिन्न राजनयिक व प्रतिष्ठित व्यवसायी लोगो की हुबहु आवाज मे उनके रसुखात वाले व्यक्तियो को फोन करके विभिन्न तरह की मजबूरिया बताकर उनसे धोखाधडी कर अपने गैंग के सदस्यो द्वारा रुपए ऐठने का कार्य करता है। सुरेश उर्फ भेरिया थाना कोतवाली पाली का सक्रिय एच.एस. है, जो वर्तमान मे केन्द्रीय कारागृह जोधपुर जेल मे बंद है जिसके विरूद्ध राजस्थान के विभिन्न जिलो मे धोखाधडी आदि के कुल 33 मामले दर्ज है ।

मंत्री पुष्पेन्द्र सिंह राणावत की आवाज में बात कर 15 लाख ठगे थे- पुलिस ने बताया कि आरोपी सुरेश उर्फ भेरिया द्वारा 9 जुलाई व 11 जुलाई को पुष्पेन्द्र सिह राणावत मंत्री राजस्थान सरकार की आवाज मे उनके परिचितों को फोन कर जोधपुर से 6 लाख रुपए व जयपुर से 9 लाख रुपए कुल 15 लाख रुपए की धोखाधडी कर रुपए प्राप्त किए गए थे।

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *