दो आरएएस अधिकारी साढे 5 लाख की रिश्वत लेते गिरफ्तार

Jaipur News ।  भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने आज राजस्थान में दो जगह बड़ी कार्रवाई करते हुए राजस्थान प्रशासनिक सेवा आर ए एस के दो अधिकारियों को साडे ₹500000 की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया । ब्यूरो के डीजी भगवान लाल सोनी और एडीजी दिनेश एनएम के निर्देश पर ब्यूरो के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नरोत्तम …

दो आरएएस अधिकारी साढे 5 लाख की रिश्वत लेते गिरफ्तार Read More »

January 13, 2021 3:31 pm

Jaipur News ।  भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने आज राजस्थान में दो जगह बड़ी कार्रवाई करते हुए राजस्थान प्रशासनिक सेवा आर ए एस के दो अधिकारियों को साडे ₹500000 की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया ।

ब्यूरो के डीजी भगवान लाल सोनी और एडीजी दिनेश एनएम के निर्देश पर ब्यूरो के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नरोत्तम वर्मा के नेतृत्व में सीआई नवीन भारद्वाज की टीम ने आज डोसा और बांदीकुई में अलग-अलग कार्यवाही करते हुए दो आर एस अधिकारियों को साडे 500000 की रिश्वत लेते हो रंगे हाथों गिरफ्तार किया वीरों ने मिली शिकायत के आधार पर बांदीकुई के एसडीएम पिंकी मीणा को तथा दोसा के एसडीएम पुष्कर मित्तल को सड़क निर्माण मामले में ठेकेदार से बिल पारित करने की एवज में उक्त राशि बतौर रिश्वत मांगी थी जिस पर आज यह कार्रवाई की गई खबर लिखे जाने तक ब्यूरो की कार्रवाई जारी थी और दोनों ही आर एस अधिकारियों के घर और संपत्ति रिसर्च जारी है।

 

एसीबी ने दौसा जिले में दो आरएएस अधिकारी पुष्कर मित्तल और पिंकी मीणा को 5-5 लाख रुपये की रिश्वत लेते किया ट्रैप है । सड़क निर्माण का काम करने वाली एक कंपनी से दौसा जिले के दो आरएएस अफसरों ने घूस मांगी। कंपनी पदाधिकारी कई बार समझाते रहे कि वे घूस देने की स्थिति में नहीं है। इस पर अफसरों का कहना था कि अगर खर्चा करोगे तो काम शुरू होने से पेमेंट बनने तक किसी भी तरह की परेशानी नहीं होगी।अगर ऐसा नहीं करते हो तो भारी नुकसान भी उठाना पड़ सकता है। पीड़ित एसीबी के पास पहुंचे और एसीबी को सूचना दी तो एसीबी ने बुधवार सवेरे दोनों अफसरों को रिश्वत लेते हुए ट्रेप कर लिया। जयपुर एसीबी की टीम ने यह ट्रेप दौसा जाकर किया। दौसा के बांदीकुई और दौसा एसडीएम को पकड़ा गया है। बांदीकुई एसडीएम पिंकी मीणा और दौसा एसडीएम पुष्कर मित्तल काफी समय से निर्माण ठेकेदार के काम में अड़चन लगा रहे थे। उसे रुपए देने के लिए मजबूर कर रहे थे। काफी समझाने के बाद भी जब वे नहीं माने तो इस बारे में एसीबी अफसरों को सूचना दी गई।एसीबी डीजी बीएल सोनी ने जयपुर की टीम के साथ ट्रेप इसलिए प्लान किया क्योंकि दौसा टीम से अगर कहीं ट्रेप की जानकारी लीक हो जाती तो इसका मिस यूज हो सकता था। इस कारण एसपी नवरतन वर्मा और पुष्कर मित्तल के खिलाफ कुछ दिन पहले ही नगर परिषद के कुछ पदाधिकारियों ने भ्रष्टाचार की शिकायतें की थीं। दोनों अफसरों को पुष्कर मित्तल के सरकारी आवास पर ट्रैप किया गया। दोनों से लगातार पूछताछ की जा रही है।

Prev Post

जयपुर आई हैदराबाद से को-वैक्सीन की पहली खेप ,20 हजार डोज

Next Post

सचिन पायलट की गलती कांग्रेस ने भष्ट्र पूर्व सभापति ललिता समदानी को पार्टी से निकाल दिया

Related Post

Latest News

गहलोत कल मिलेंगे सोनिया से,राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए कल नहीं भरे जाऐंगे नामांकन, क्यों
देश को 9 माह बाद मिला नया CDS 
राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर

Trending News

प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know

Top News

प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
गहलोत कल मिलेंगे सोनिया से,राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए कल नहीं भरे जाऐंगे नामांकन, क्यों
देश को 9 माह बाद मिला नया CDS 
राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर
बच्चियों को कहा मत दो वोट,पाकिस्तान चली जाओ -IAS हरजोत कौर
राजस्थान शिक्षा विभाग- घोटालेबाज बाबू डेढ माह से नही आ रहा ड्यूटी पर लापता, DEO बचा रहे है या... ?
राजस्थान शिक्षा विभाग- लाखों का घोटाला फिर भी अब तक दोषी प्रिंसिपल पर कार्यवाही क्यो ?
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know