पैलेस ऑन व्हील पर अब होगी डेस्टिनेशन वेडिंग

दुनिया की सबसे सुन्दर और लग्जरी ट्रेन में शुमार पैलेस ऑन व्हील्स को अब डेस्टिनेशन वेडिंग के लिए इस्तेमाल किया जा सकेगा। यही नहीं वैवाहिक गठबंधन में बंधने वाले जोड़े पैलेस ऑन व्हील्स में प्री और पोस्ट वेडिंग शूट भी करवा सकेंगे।

Dr. CHETAN THATHERA
4 Min Read

जयपुर । प्रदेश में डेस्टिनेशन वेडिंग को बढ़ावा देने के लिए राजस्थान पर्यटन विभाग की ओर से नवाचार किए जा रहें हैं। डेस्टिनेशन वेडिंग में प्रदेश को सिरमौर बनाने के लिए अब राजस्थान पर्यटन विकास निगम ( आरटीडीसी) ने भी कदम बढ़ाए हैं।

जिसके परिणाम स्वरुप जल्द ही दुनिया की सबसे सुन्दर और लग्जरी ट्रेन में शुमार पैलेस ऑन व्हील्स को अब डेस्टिनेशन वेडिंग के लिए इस्तेमाल किया जा सकेगा। यही नहीं वैवाहिक गठबंधन में बंधने वाले जोड़े पैलेस ऑन व्हील्स में प्री और पोस्ट वेडिंग शूट भी करवा सकेंगे।

राजस्थान की उप मुख्यमंत्री, पर्यटन दिया कुमारी के अनुसार पैलेस ऑन व्हील्स को डेस्टिशन वेडिंग के लिए उपलब्ध करवाना एक बड़ा निर्णय है। इससे न सिर्फ राजस्थान में डेस्टिनेशन वेडिंग को अत्यधिक बढ़ावा मिलेगा वहीं राजस्थानी कला व संस्कृति के साथ वैदिक वैवाहिक रीति-रिवाजों के प्रति विदेशी सैलानियों में आकर्षण बढ़ेगा।

दिया कुमारी ने कहा कि पैलेस ऑन व्हील्स दुनिया की सबसे खूबसूरत और लग्जरी ट्रेनों में से एक है। पैलेस ऑन व्हील्स में डेस्टिनेशन वेडिंग करने वाले जोड़े अपनी जिन्दगी के सबसे महत्वपूर्ण क्षणों को न सिर्फ यादगार बना सकेंगे वरन वे राजस्थान और भारत के लिए पर्यटक राजदूत की भूमिका भी निभा सकेंगे।

बुनियादी सुविधाएं विकसित करने की ओर अग्रसर-

विदित है कि राज्य के पर्यटन स्थलों पर पर्यटकों के लिए बुनियादी सुविधाएं वैश्विक मानकों के अनुसार विकसित करने के लिए पर्यटन विभाग की ओर से कार्य किये जा रहे हैं। इससे प्रदेश की ओर विदेशी पर्यटक तो अधिक से अधिक रुख करेंगे ही साथ ही देशी सैलानी भी यहां आने के लिए आतुर होंगे। राजस्थान में देश की 75 प्रतिशत हैरिटेज प्रॉपर्टी हैं।

यही कारण है कि पूरे देश में राजस्थान वेडिंग डेस्टिनेशन क्षेत्र में पहली पसंद बनता जा रहा है। जयपुर, जोधपुर, उदयपुर सहित राज्य के कई अन्य जिलों में भी किले, गढ़, हवेलियां इत्यादि हैं जो धीरे-धीरे डेस्टिनेशन वेडिंग के लिए देशी-विदेशी सैलानियों को अपनी ओर खींच रहे हैं।

यूं तो प्रदेश में अनगिनत हैरिटेज गढ़, हवेलियां, किले आदि हैं जिनमें 120 से अधिक गढ़, किले, हवेलियों पर डेस्टिनेशन वेडिंग की जा रही है। इस संख्या से ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि राजस्थान डेस्टिनेशन वेडिंग के लिए कितना मुफीद है।

प्रसिद्ध हस्तियों को डेस्टिनेशन वेडिंग लुभा रही

राजस्थान पर्यटन विभाग इन दिनों प्रसिद्ध और ख्यातनाम डेस्टिनेशन वेडिंग स्थानों के अतिरिक्त प्रदेश के दूसरे जिलों में स्थित हैरिटेज स्थलों को वेडिंग डेस्टिनेशन के रूप में विकसित करने पर जोर दे रहा है। जहां पर लगातार डेस्टिनेशन वेडिंग हो रही हैं। देश में चाहे फिल्मी सितारे हो या फिर उद्योगपति यही नहीं हॉलीवुड के सितारे भी अपनी शादी को विवाहोत्सव में बदलने के लिए राजस्थान का रूख कर रहे हैं।

डेस्टिनेशन वेडिंग-परिकथाओं का अहसास-

राजस्थान के गढ़, किले, हवेलियों पर डेस्टिनेशन वेडिंग के लिए जब सजावट की जाती है तब यह विवाह के आनंद को दो गुना करते हुए वर- वधू पक्ष को राजा-रानी की कहानियों व परिकथाओं का अहसास करवाते हैं। यह शाही अनुभव उनके वैवाहिक गठबंधन को भावनात्मक मजबूती प्रदान करने के साथ ही यादगार बन जाता है।

प्रदेश को डेस्टिनेशन वेडिंग के लिए मिले कुछ महत्वपूर्ण अवार्डः 

वर्ष 2019- ट्रैवल एण्ड लेज़र्स द्वारा बेस्ट वेडिंग डेस्टिनेशन अवॉर्ड।

वर्ष 2020- आउटलुक ट्रेवलर द्वारा राजस्थान बेस्ट इण्डिया वेडिंग डेस्टिनेशन अवॉर्ड। ट्रेवल एण्ड लेज़र्स (इण्डिया एण्ड साउथ एशिया) द्वारा राजस्थान को बेस्ट वेडिंग एण्ड हनीमून डेस्टिनेशन अवॉर्ड।

वर्ष 2021- ट्रेवल एण्ड लेजर्स द्वारा बेस्ट वेडिंग डेस्टीनेशन अवार्ड।

वर्ष 2023- आउटलुक ट्रेवलर अवार्ड समारोह-बेस्ट डेस्टिनेशन वेडिंग अवार्ड

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम