तूफान का खौफ: जयपुर में हाई अलर्ट, शाम 6 बजे तक सतर्कता बरतें

राजस्थान के 10 जिलों में तूफान को लेकर अलर्ट जारी किया गया है. जयपुर में स्कूलों की छुट्‌टी कर दी गई है और शाम 6 बजे तक लोगों को सतर्कता बरतने को कहा गया है. राजस्थान में मंगलवार को भी रेतीले तूफान का खौफ जारी रहा. देर रात राजधानी जयपुर में अधड़, तूफानी हवाओं ने …

तूफान का खौफ: जयपुर में हाई अलर्ट, शाम 6 बजे तक सतर्कता बरतें Read More »

May 8, 2018 8:19 am

राजस्थान के 10 जिलों में तूफान को लेकर अलर्ट जारी किया गया है. जयपुर में स्कूलों की छुट्‌टी कर दी गई है और शाम 6 बजे तक लोगों को सतर्कता बरतने को कहा गया है.

राजस्थान में मंगलवार को भी रेतीले तूफान का खौफ जारी रहा. देर रात राजधानी जयपुर में अधड़, तूफानी हवाओं ने लोगों की बैचेनी बढ़ा दी.  मौसम विभाग के पूर्वानुमान के बाद जिला प्रशासन ने भी अलर्ट जारी कर दिया. जिला कलेक्टर सिद्धार्थ महाजन ने एडवाइजरी जारी करते हुए कहा कि दोपहर 12 बजें से लेकर शाम 6 बजे तक सर्तकता बरतें. आमजन जरुरी नहीं हो तो घरों से बाहर नहीं निकलें. इस अलर्ट के बाद राजधानी के स्कूल बंद कर दिए गए और सभी बच्चों को घर भेजना शुरू कर दिया.

इससे पहले सोमवार को जिस तूफान की आशंका जताई जा रही थी वह पाकिस्तान के सीमावर्ती इलाके बीकानेर पहुंचा. शाम 5 बजे वहां धूल भरी आंधी शुरू हुई जिसने देर शाम तक पूरे इलाके को अपनी जद में लिया. बीकानेर के अतिरिक्त जैसलमेर क्षेत्र में भी तेज हवाओं और धूलभरी आंधी के साथ बूंदाबांदी होती रही. कई इलाकों में आंधी इतनी तेज थी कि बिजली के खंभे उखड़ गए. जिसके चलते दर्जनों गांवों में बिजली गुल हो गई.

आधी रात के बाद जयपुर तक तेज हवाओं ने लोगों की चिंता बढ़ा दी. तड़के 4 बजे से पांच बजे तक रेतीला तूफान आया और 60 से 70 किलोमीटर की रफ्तार से चली हवाएं चली. कई इलाकों में सुबह तक बिजली गुल रही.

जयपुर समेत 10 जिलों में अलर्ट

मौसम विभाग ने झुंझुनू, सीकर, अजमेर, जोधपुर, नागौर, जयपुर, दौसा, अलवर, टोंक और चूरू जिलों में अलर्ट घोषित किया है. इसी के साथ आपदा प्रबंधन की टीमें भी अलर्ट मोड पर आ गईं हैं. मुख्यमंत्री कार्यालय भी आए दिन हो रहे मौसम में बदलाव को लेकर अपनी निगाहें बनाए हुए है.

उधर, राजस्थान, हरियाणा और यूपी के साथ-साथ दिल्ली-NCR तक तूफान पहुंच गया. तूफान के कारण यहां कई जगहों पर देर रात बिजली गुल हो गई. वहीं कुछ जगहों पर गरज से बौछारें भी पड़ी. मौसम विभाग ने देश के 20 राज्यों में भारी बारिश और तूफान को लेकर पहले ही अलर्ट जारी किया था. मौसम विभाग ने दिल्ली और आसपास के इलाकों में 50 से 70 किलोमीटर की रफ्तार वाले तूफान की चेतावनी दी थी. इसे देखते हुए दिल्ली सरकार ने सेकेंड शिफ्ट में चलने वाले शहर के सभी स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया है. इसके अलावा दिल्ली मेट्रो ने भी ट्रेनों के परिचालन में सतर्कता बढ़ा दी है.

Prev Post

शिवसेना ने नगर परिषद टोंक के वार्ड न.45 सरवराबाद गोल डुंगरी क्षेत्र में पक्षीयो के लिये लगवाये परिंडे

Next Post

सांसद जौनापुरिया ने ग़रीब परिवार को बांटा उपहार

Related Post

Latest News

दिल्ली में केंद्रीय पशुपालन मंत्री जी सीएम गहलोत की वार्ता, पशुओं में फैल रहे लंपी स्किन रोग पर जल्द पाएंगे नियंत्रण
टोंक में रक्षाबंधन का त्यौहार पर ऐतिहासिक परंपरा जो राजपूत समाज कर रहा हैं, जानें
एसडीएम वर्षा मीणा एवं एसआई गौरव कुमार की सूझबूझ से टला हादसा

Trending News

समीक्षा बैठक में  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लिया बड़ा फ़ैसला, जानें 
आरक्षण में संशोधन के लिए ओबीसी के लोगों का विरोध-प्रदर्शन, रैली निकाल दी चेतावनी
Rajasthan में 200 पशु चिकित्साधिकारियों व 300 पशुधन सहायकों की होगी अस्थाई भर्ती 
खेल दिवस पर ग्रामीण ओलंपिक का आगाज़, 22 हजार खिलाड़ियों की 126 टीमों मे होगा महामुकाबला

Top News

दिल्ली में केंद्रीय पशुपालन मंत्री जी सीएम गहलोत की वार्ता, पशुओं में फैल रहे लंपी स्किन रोग पर जल्द पाएंगे नियंत्रण
टोंक में रक्षाबंधन का त्यौहार पर ऐतिहासिक परंपरा जो राजपूत समाज कर रहा हैं, जानें
एसडीएम वर्षा मीणा एवं एसआई गौरव कुमार की सूझबूझ से टला हादसा
अब कभी भी खुल सकता है राजनीतिक व संगठनात्मक नियुक्तियों का पिटारा, गहलोत-माकन ने फाइनल किए नाम
वीडियो संदेश के जरिए सीएम गहलोत ने दी रक्षाबंधन की बधाई, राजस्थान को भी आगे बढ़ाने का आह्वान
सीएम गहलोत फिर पहुंचे दिल्ली, उपराष्ट्रपति धनकड़ के शपथग्रहण समारोह में करेंगे शिरकत
आईफ़ोन 14 को लेकर सबसे बड़ी ख़बर ,अब होगा मेड इन इंडिया होगा आई फ़ोन 14, जानें अब क्या होगी इसकी रेट
‘द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज- चैंपियंस’ राजू श्रीवास्तव को पड़ा दिल का दौरा
मोदी के कार्यकाल में भारत विकास की रफ्तार पकड़ रहा है - घनश्याम तिवाड़ी
जयपुर पुलिस का ये होगा नया प्रतीक चिन्ह ,महानिदेशक पुलिस  एम एल लाठर ने किया अनावरण