Nagpur-Jaipur-Nagpur Weekly Superfast Express train resumes, will stop at Bhilwara
जयपुर राजस्थान

राजस्थान में रेलवे ट्रैक को ब्लास्ट कर उड़ाने की साजिश, बड़ा हादसा टला

जयपुर/ राजस्थान में हाल ही एक पखवाडा पहले शुरू हुए उदयपुर- अहमदाबाद रेलवे लाइन को ब्लास्ट कर उड़ाने की साजिश की गई है देर रात हुई इस घटना के बाद पुलिस और रेलवे अधिकारियों में खलबली मच गई और ग्रामीणों की सजगता से एक बड़ा हादसा होने से टल गया रेलवे ट्रैक को कौन उड़ाना चाहता था इसके पीछे क्या मंशा है ऐसे सवालों को लेकर पुलिस जांच में जुट गई है फिलहाल इस मार्ग पर ट्रेन का संचालन बंद कर दिया गया है।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उदयपुर अहमदाबाद रेलवे मार्ग पर ट्रेनों के संचालन का शुभारंभ पिछले माह 31 अक्टूबर को शुरू किया था और शनिवार देर रात को इस मार्ग पर सलूंबर क्षेत्र में केवड़े की नाल में उड़ा रेलवे पुल विस्फोटक सामग्री लगाकर रेलवे ट्रैक को उड़ाने की कोशिश की गई रेलवे ट्रैक को हराने के लिए किए गए ब्लास्ट के धमाके की आवाज सुनकर रेलवे लाइन के आसपास रहने वाले ग्रामीण चौक गए और दौड़ कर अपने घरों से बाहर निकल इधर-उधर देखा रेलवे ट्रैक पर पहुंचे और रेलवे ट्रैक को देखकर सब चौक गए जब रेलवे ट्रैक में दरारें और टूटी हुई रेललाइन देखी तब ग्रामीणों ने तत्काल गांव के अन्य लोगों को सूचना देने के साथ ही पुलिस को सूचना दी और घटना की सूचना मिलते ही पुलिस के आला अधिकारी और बड़ी संख्या में ग्रामीण भी रेलवे लाइन पर पहुंच गए इधर सूचना मिलते ही रेलवे के आला अधिकारी भी मौके पर पहुंचे।

 

बताया जाता है कि इस घटना के बाद अहमदाबाद से उदयपुर आ रही ट्रेन को डूंगरपुर ही रोक दिया गया है और घटना के 4 घंटे पहले ही इस ट्रैक पर यात्री ट्रेन को चली थी मौके पर पहुंची पुलिस और रेलवे के अधिकारियों को मौके पर रेलवे लाइन पर बारूद पड़ा मिला कई पटरिया जगह-जगह से टूटी हुई थी रेलवे लाइन के बोल्ट वगैरह भी गायब थे ट्रैक्टर व्हिच वी पतली लोहे की चद्दर भी वह खड़ी हुई थी आज सवेरे ही रेलवे के आला अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए हैं और इस लाइन पर चलने वाली ट्रेनों का संचालन रोक दिया गया है तथा क्षतिग्रस्त हुई रेलवे लाइन के मरमत का कार्य शुरू कर दिया गया है यह कार्य कब तक पूर्ण होगा और उस पर रेल का संचालन कब शुरू होगा इस बारे में अभी स्पष्ट नहीं है वहीं दूसरी ओर पुलिस के आला अधिकारी इस जांच में जुट गए हैं कि रेलवे ट्रैक को खाने के पीछे की साजिश के पीछे कौन है और क्या कारण रहा है

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम