13 से 15 मई तक उदयपुर में होगा कांग्रेस का चिंतन शिविर, स्थान हुआ तय

Congress's contemplation camp will be held in Udaipur from May 13 to 15, location decided

जयपुर। राजस्थान में प्रस्तावित कांग्रेस चिंतन शिविर को लेकर अब तस्वीर साफ हो गई है। कांग्रेस पार्टी का चिंतन शिविर इस बार उदयपुर में ही कराए जाने को लेकर आलाकमान की मंजूरी मिल चुकी है।

आलाकमान की मंजूरी के बाद चिंतन शिविर की तैयारियां भी तेज हो गई हैं। हालांकि पहले चिंतन शिविर जयपुर या फिर उदयपुर में कराए जाने को लेकर पार्टी नेता दो धड़ों में बंटे हुए थे लेकिन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की ओर से सोनिया गांधी के समक्ष दोनों स्थानों पर चिंतन शिविर का जाने का प्रस्ताव रखा गया था।

जिस पर सोनिया गांधी ने उदयपुर पर मुहर लगा दी है।दरअसल 3 दिन चलने वाला कांग्रेस का चिंतन शिविर 13 से 15 मई तक आयोजित होगा। 3 दिन तक चलने वाले चिंतन शिविर में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह सहित देश भर से 400 नेताओं को चिंतन शिविर में आमंत्रित किया जाएगा।

उदयपुर शहर में ही चिंतन शिविर के के लिए दो लग्जरी होटल बुक किए गए हैं। हाल ही में उदयपुर दौरे पर आए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश प्रभारी अजय माकन ने चिंतन शिविर के लिए कई होटल देखे थे जिनमें से दो होटल फाइनल कर ले गए हैं।

पार्टी सूत्रों का कहना है कि उदयपुर में चिंतन शिविर कराए जाने की एक वजह यह भी है कि इस साल नवंबर माह में गुजरात में विधानसभा चुनाव होने हैं और उदयपुर गुजरात से सटा हुआ है। ऐसे में उदयपुर में पार्टी के तमाम शीर्ष नेताओं के जुटने का असर गुजरात कांग्रेस के नेताओं कार्यकर्ताओं में भी रहेगा और चिंतन शिविर के जरिए गुजरात कांग्रेस के कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाने के लिए मूल मंत्र भी दिया जाएगा।