कठुआ और उन्नाव में हुए बलात्कार व हत्या की घटना के विरोध में सैकडों कांग्रेस कार्यकर्ताओं  ने अमर जवान ज्योति पर किया कैंडल मार्च

जयपुर । जयपुर कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रतापसिंह खाचरियावास के नेतृत्व में जयपुर के अमर जवान ज्योति पर सैकडों कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कठुआ और उन्नाव में बच्चियों के साथ दुष्कर्म और हत्या की घटनाओं के विरोध में केन्द्र सरकार को सदबुद्धि देने के लिए और इस तरह की घटनाओं पर रोक लगाने के लिए  कैण्डल मार्च किया। कैण्डल मार्च में मुख्य रूप से एआईसीसी महासचिव-मोहन प्रकाश, नेता प्रतिपक्ष-रामेश्वर डूडी एवं बडी तादाद में कांग्रेस कार्यकर्ता एवं आम नागरिक शामिल हुए, जिसमें महिलाओं की संख्या भी बहुत बडी तादाद में नजर आई। जयपुर के नागरिकों में कठुआ और उन्नाव में हुये बलात्कार के बाद भारी आक्रोष व्याप्त है।  एआईसीसी महासचिव मोहन प्रकाश ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपनी जिम्मेदारियों से नही बच सकते उन्हें आगे आकर बलात्कार की घटनाओं के ऊपर सख्त कार्यवाही करने के लिये जनता को विश्वास दिलाना होगा।  खाचरियावास ने इस अवसर पर कहा कि भाजपा बेटी बचाओ का नारा देती है लेकिन भाजपा के नेता खुद बलात्कार की घटनाओं में शामिल होते हैं और भाजपा की पूरी सरकार उन्हें बचाने में लग जाती है। पूरे देश का विश्वास केन्द्र और राज्य की भाजपा सरकारों से उठ रहा है। अपराधी का कोई जाति और धर्म नहीं होता, केन्द्र और राज्यों की भाजपा सरकारों को पार्टी, धर्म और जाति से ऊपर उठकर अपराधियों के साथ सख्त से सख्त कार्यवाही करनी चाहिए, जिससे अपराधियों में डर पैदा हो।

खाचरियावास ने कहा कि हाईकोर्ट के आदेष के बावजूद भाजपा सरकार अपने विधायक को बचाने के प्रयास में लगी हुई है। कोर्ट में गलत तथ्य प्रस्तुत किए जा रहे हैं। इन मामलों में पूरे देश में भारी आक्रोष व्याप्त है। पूरे देश का विश्वास टूट रहा है, इसके बावजूद प्रधानमंत्री की चुप्पी कई सवाल खड़े कर रही है, पूरा देश इंसाफ मांग रहा है, प्रधानमंत्री को आगे आकर बलात्कार की घटनाओं को अंजाम देने वाले उन्हीं की पार्टी के विधायक के संदर्भ में स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए  और बलात्कारियों को सख्त सजा का प्रावधान करना चाहिए।