कांग्रेस विधायक मलिंगा का दावाः ‘मुझे नेता मायावती ने बनाया है, मरते दम तक एहसानमंद रहूंगा’

-राज्यसभा चुनाव को लेकर कहा, कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीता है इसलिए गद्दारी नहीं करूंगा -सियासी संकट सरकार का साथ देने के ईनाम के तौर पर मुझ पर मुकदमे दर्ज किए गए

June 4, 2022 1:43 pm

जयपुर। राज्यसभा चुनाव में अब एक के बाद एक कांग्रेस विधायकों की नाराजगी के खुलकर सामने आ रही है। कांग्रेस भले ही 126 विधायकों के समर्थन का दावा करे, लेकिन जिस तरह से विधायकों की नाराजगी की सामने आ रही है। उससे कहीं न कहीं कांग्रेस की चिंता बढ़ी हुई है।

सरकारी कार्मिक से मारपीट के आरोप में मुकदमा दर्ज होने और जेल जाने से नाराज कांग्रेस विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा का अब चौकाने वाला बयान सामने आया है। गिर्राज सिंह मलिंगा का दावा है कि उन्हें नेता मायावती ने बनाया है, कांग्रेस पार्टी ने नहीं।

गिर्राज सिंह मलिंगा ने कहा कि वो 2008 में पहली बार बसपा के टिकट पर चुनाव जीते और विधायक बने उसमें बसपा का हाथ है, कांग्रेस पार्टी का नहीं। उनके सामने जिस कांग्रेस के प्रत्याशी ने चुनाव लड़ा था उसकी जमानत जब्त हो गई थी।

मरते दम तक रहूंगा बसपा का एहसानमंद

कांग्रेस विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा ने कहा कि भले ही वह दो बार कांग्रेस पार्टी के टिकट पर चुनाव जीते हैं लेकिन पहली बार वह चुनाव बसपा के टिकट पर जीत कर आए थे। इसलिए वो मरते दम तक बहुजन समाज पार्टी और मायावती का एहसानमंद रहेंगे।

राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस से गद्दारी नहीं करूंगा
गिर्राज सिंह मलिंगा ने कहा कि वो कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीतकर आए हैं इसलिए राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी से गद्दारी नहीं करूंगा और वोट कांग्रेस को ही दूंगा। चूंकि मैं बिकाऊ व्यक्ति नहीं हूं और न ही ऐसा कोई दाग अपने जीवन पर लगाऊंगा जिससे जनता मुझे गाली दे, भ्रष्टाचारी कहे। जनता ने हमें जीताकर भेजा है तो उसका सम्मान करेंगे।

सरकार का साथ देने के बदले मुझ पर मुकदमा दर्ज हुआ

गिर्राज सिंह मलिंगा ने कहा कि सियासी संकट के दौरान हमने सरकार बचाने में भूमिका निभाई थी, लेकिन उसके बदले मुझ पर मुकदमा दर्ज हुआ और जेल भेजा गया। बाड़ेबंदी से दूरी बनाए रखने के सवाल पर उन्होंने कहा कि हम उदयपुर क्यों जाएंगे?पहले सियासी बाड़ेबंदी में 35 दिन रहे थे।

तब उसके बदले मेरे ऊपर मुकदमा दर्ज किया गया जिससे मेरा कोई वास्ता नहीं है। गौरतलब है कि गिर्राज सिंह मलिंगा लगातार बाड़ी से तीसरी बार विधायक चुने गए हैं। पहली बार वह बसपा के टिकट पर चुनाव जीते जीते थे उसके बाद लगातार दो बार से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीते हैं। हाल ही में बिजली कार्मिकों से मारपीट के मामले में उन पर कई मुकदमे दर्ज किए गए थे। इसे लेकर बिजली कर्मचारियों ने आंदोलन करके विधायक की गिरफ्तारी की मांग भी की थी, जिस पर गिर्राज सिंह मलिंगा ने मुख्यमंत्री गहलोत के कहने पर पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया था और उसके बाद उन्हें जेल भेज दिया था। हालांकि हाईकोर्ट से उनकी जमानत हो गई थी। मलिंगा फिलहाल जमानत पर चल रहे हैं।

Prev Post

बसपा से कांग्रेस में आए विधायकों के लिए व्हिप जारी, निर्दलीय प्रत्याशी को वोट करने के निर्देश बसपा प्रदेशाध्यक्ष भगवान सिंह बाबा ने जारी किया व्हिप

Next Post

राज्यसभा चुनावः 27 विधायक नहीं पहुंचे कांग्रेस की बाड़ेबंदी में, थिंक टैंक में चिंता

Related Post

Latest News

टोंक के बनेठा थाने का एसआई 10 हज़ार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, एक प्रकरण में कार्रवाई नही करने की एवज में मांग रहा था घूस
Rural Olympic Games - Innovative brilliant initiative of Bhilwara Collector Modi
राजस्थान में PFI पर शिकंजा कसने के कलेक्टर व एस पी को दिए अधिकार, पदाधिकारी भूमिगत

Trending News

प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know

Top News

टोंक के बनेठा थाने का एसआई 10 हज़ार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, एक प्रकरण में कार्रवाई नही करने की एवज में मांग रहा था घूस
REET - 2022 का परीक्षा परिणाम घोषित 
राजस्थान में रहेगा गहलोत का ही राज, सचिन.. 
Rural Olympic Games - Innovative brilliant initiative of Bhilwara Collector Modi
राजस्थान में PFI पर शिकंजा कसने के कलेक्टर व एस पी को दिए अधिकार, पदाधिकारी भूमिगत
गहलोत नही लडेंगे चुनाव, सिंह कल भरेंगे नामांकन,राजस्थान पर फैसला आज
गहलोत नही लडेंगे चुनाव, सिंह कल भरेंगे नामांकन,राजस्थान पर फैसला आज
प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
गहलोत कल मिलेंगे सोनिया से,राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए कल नहीं भरे जाऐंगे नामांकन, क्यों
देश को 9 माह बाद मिला नया CDS