राजस्थान में सीएम गहलोत की बालिका शिक्षा के लिए एक और अनूठी व आकर्षक योजना

CM Ashok Gehlot took a big decision, the presidents of the boards and corporations will get the status of ministe

जयपुर/ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) कांग्रेस की सरकार बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है और अब सरकार ने इसी दिशा में एक और कदम बढ़ाते हुए राजश्री योजना शुरू की है।

[शिक्षिका निर्मला गिरफ्तार, जमानत खारिज ,जेल भेजा]

राज्य सरकार राजश्री याेजना के तहत बालिकाअाें के जन्म से लेकर 12वीं तक की पढ़ाई के लिए 50 हजार रुपए की सहायता देगी। जन्म पर 2,500 और एक वर्ष के टीकाकरण के लिए 2,500 रुपए दिए जाएंगे। इसके बाद पहली से 12वीं की पढ़ाई के लिए 45,000 रुपए मिलेंगे। शिक्षा विभाग यह फायदा उन बालिकाओं को देगा जिन्होंने इस योजना में पंजीकरण करवाने के साथ पहली क्लास में प्रवेश लिया है। योजना का लाभ उसी परिवार की बेटी को मिलेगा जिसके पास राजस्थान जन आधार कार्ड योजना का कार्ड होगा।

कैसे और किसको मिलेगा लाभ

एक परिवार में अधिकतम दो बच्चियों को इसका लाभ मिल सकेगा। शिक्षा विभाग ने 1 जून 2016 के बाद जन्म लेने वाली बालिकाओं के संरक्षक या अभिभावकों के खाते में डीबीटी के माध्यम से राशि जमा होगी। इसके लिए राजस्थान का मूल निवासी होना जरूरी है।

जन्म व टीकाकरण के बाद पहली कक्षा में प्रवेश लेने पर 4 हजार रुपए, कक्षा 6 में प्रवेश पर 5 हजार रुपए, 10वीं में प्रवेश पर 11 हजार रुपए अौर 12वीं पास करने पर 25 हजार रुपए मिलेंगे।