जलदाय विभाग के प्रमुख शासन सचिव ने जानी सवाईमाधोपुर क्षेत्र की पेयजल समस्याएं किया निस्तारण

जयपुर । जलदाय विभाग के प्रमुख शासन सचिव रजत कुमार मिश्र ने  शुक्रवार को सवाई माधोपुर जिले का दौरा कर क्षेत्र की पेयजल समस्याओं को जाना और  अधिकारियों को उन्हें तुरंत निस्तारित करने के निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने पेयजल से जुड़ी कई समस्याओं का मौके पर निस्तारण भी किया।

प्रमुख शासन सचिव ने दौरे के दौरान सवाईमाधोपुर शहर में पेयजल समस्या को देखते हुए विभागीय मशीनों द्वारा रणथंभौर रोड़ पर तुरंत दो ट्यूबवैल खोदने के निर्देश दिए। ड्रिलिंग विंग को दिए निर्देशों के अनुसार 2 मई तक मशीनें क्षेत्र में पहुंच जाएंगी और खुदाई का काम शुरू कर देंगी। इस ट्यूबवैल के शुरू होने से शहर की नीम की चौकी, हाउसिंग बोर्ड, पंसारी मोहल्ला, बरकत कॉलोनी और आसपास के क्षेत्र के हजारों रहवासियों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध हो सकेगा।

प्रमुख शासन सचिव ने शहरी जल योजना सवाई माधोपुर के अन्तर्गत बनास नदी पर बनाए जा रहे 3 खुले कुओं का निरीक्षण किया और संवेदक को निर्देषित किया कि कुआ नं-1 का कार्य 20 दिवस में, कुआं नं. 02 का कार्य 30 दिवस में तथा तीसरे कुए का स्थान परिवर्तन कर आगामी दो माह में कार्य पूर्ण करना सुनिष्चित करें। उन्होंने बनास नदी पर बने खुले कुआंे को 19 किलोमीटर डीआई (लोहे की) पाइप लाइन से जोड़ने का काम शीघ्र शुरू करने के भी निर्देश दिए। 11 करोड रुपए की इस परियोजना को पूरा करने के लिए धन राशि एवं आदेश जारी किए जा चुके हैं।

श्री मिश्र ने अधिकारियों को निर्देि‍षित किया कि जिन क्षेत्रों में टैंकरों द्वारा पेयजल परिवहन किया जा रहा है उसकी संबंधित कनिष्ठ अभियन्ता स्तर के अधिकारी से लेकर पटवारी, नगर परिषद द्वारा मॉनिटरिंग की जाए ताकि किसी प्रकार की अनियमिता न हो और आमजन को शुद्ध पेयजल उपलब्ध हो सके।

श्री मिश्र ने ग्रामीण जलयोजना खण्डार पर नवीन नलकूप, स्वच्छ जलाशय, उच्च जलाशय एवं पाइप लाइन कार्य को पूरा नहीं करने पर संवेदक के खिलाफ आवश्यक कार्यवाही कर संवेदक की रिस्क एवं कास्ट पर अन्य संवेदक से कार्य पूर्ण कराने के भी निर्देश दिए।

उन्होंने एमपी या एमएलए लेड में स्वीकृत हैण्डपम्पों का कार्य प्राथमिकता पर पूर्ण करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि गर्मी में हैण्डपम्प मरम्मत कार्य के लिए चलाए जा रहे अभियान को सुचारू रूप से चलाते रहे और किसी भी शिकायत पर तुरंत कार्यवाही करें। इस दौरान जिला कलेक्टर श्री के.सी. वर्मा सहित विभागीय अधिकारी साथ रहे।