जयपुर

भाजपा अपने मूल सिद्धांत से भटक गई है-तिवाडी

दीनदयाल वाहिनी का भारत वाहिनी पार्टी में विलय

 

जयपुर । प्रदेश में तीसरे मोर्चें की उन्होंने सत आवश्यता बताई और कहा कि आजादी के तुरन्त बाद से ही प्रदेश में तीसरा मोर्चा सक्रिय रहा है जो बीस वर्ष पूर्व भैरोंसिंह शेखावत के समय भाजपा में विलय हो गया।

अब फिर एक तीसरा मोर्चा प्रदेश में अपनी जगह बनाएगा। पार्टी तोडकर कई नेताओं ने देश में अपनी अलग पहचान बनाई है, इसमें कांग्रेस आई, तृणमूल कांग्रेस, समाजवादी पार्टी प्रमुख है। भारत वाहिनी पार्टी भी अपनी अलग पहचान बनाएगी यह बात आज सांगानेर विधायक घनश्याम तिवाडी ने नवनिर्मित भारत वाहिनी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष का पदभार ग्रहण करने के मौके पर कही । इस मौके पर दीनदयाल वाहिनी का भारत वाहिनी पार्टी में विलय कर विधानसभा चुनावों में सभी सीटों से चुनाव लडने की घोषणा की गई। इसके लिए पार्टी का पहला पदाधिकारी समेलन मंगलवार को जयपुर के बिडला आडिटोरियम में आयोजित किया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए तिवाडी ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश में तबादलों के नाम पर उद्योग खडा हो गया है और तबादलों मंत्रियों का गृह उद्योग बन गए हैं। यहां हर तबादले की दर तय की हुई है, उसमें कोई कमीशन नहीं, कुछ कम नहीं और कुछ भी ज्यादा नहीं लिया जाता है।

उन्होंने मंदिर तोडने और हिंगोनिया गौशाला में गायों की मौत पर भी सरकार को घेरा तथा कहा कि रोजगारेश्वर महादेव मंदिर में शिवलिंग को तोडने के लिए हिंदू कर्मचारियों ने मना कर दिया तो मुस्लिमों का बुलवाकर शिवलिंग को आरी से काटा गया और बाद में कचरे में फैंक दिया गया। इसी प्रकार अपने भ्रष्टïाचार को छिपाने के लिए सरकार काला कानून लेकर आई किन्तु उनके तीव्र विरोध के चलते वापस लेना पडा। इसके अलावा भूमि अधिग्रहण विधेयक भी प्रवर समिति के जरिए अटका दिया गया। सरकार ने प्रदेश को आयातित अधिकारियों की सैरगाह बना दिया गया है।

प्रदेश और देश में आज जो अघोषित आपातकाल लागू है वह घोषित आपातकाल से अधिक खतरनाक है। पार्टी में लगातार कार्यकर्ताओं की उपेक्षा की जा रही है। कांग्रेस में सारी उम्र नौकरी करने वाले लोग मलाई खा रहे हैं और अपने कार्यकर्ता खुरचन के लायक नहीं है। अब तो एमएलए और मंत्री तक कहने लगे हैं कि हमारी सुनवाई नहीं होती। जिन लोगों ने अपना खून.पसीना बहा कर पार्टी को खड़ा किया था वे ही आज अपने आपको ठगा सा महसूस कर रहे हैं।

पुस्तिकाओं का हुआ विमोचन

प्रदेश में राजनीतिक दशा सुधारने के उद्देश्य से बने राजनीतिक दल भारत वाहिनी पार्टी के लोकार्पण समारोह में राजस्थान नवनिर्माण एजेंडा तथा संविधान पुस्तिका का विमोचन किया गया। इस दौरान कार्यक्रम में लगभग 2500 की संया में प्रदेश कार्यसमिति सदस्य, विशेष आमन्त्रित सदस्य, 39 जिलों तथा 200 विधानसभा क्षेत्रों से वाहिनी के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया।

इन्होंने किया संबोधित

समेलन को पार्टी के संस्थापक अखिलेश तिवाडी, पूर्व विधायक डा. मूल सिंह, नारायण राम बेड़ा, गुलाब सिंह राजपुरोहित, भंवरलाल राजपुरोहित, पीएन छोया, शिव कुमार सैनी, अशोक यादव, छोटूलाल कुमावत सहित अनेक वक्ताओं ने संबोधित किया।

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *