अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस:बसों में नि:शुल्क सफर के लिए राजधानी में महिलाओं की काफी भीड़ देखने को मिली

जयपुर। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर राजस्थान रोडवेज में फ्री यात्रा के चलते सोमवार को राजधानी जयपुर स्थित सिंधी कैंप बस स्टेण्ड पर महिला यात्रियों की काफी संख्या में भीड़ देखने को मिली। बताया जा रहा है कि सिंधी कैंप बस स्टेण्ड के टिकट काउंटर पर देर रा​त्री से लंबी कतारे लग गई थी,जो सोमवार सुबह तक नजर आई। बसों में किराया नहीं लगने से अधिकांश बसें महिलाओं से खचाखच भरी हुई नजर आई।

इसके अलावा दुर्गापुरा, नारायण सिंह सर्किल, सोडाला, 200 फीट बाइपास अजमेर रोड जगहों पर तो बसों में बैठने के लिए महिलाओं को अच्छा खासा इंतजार करना पड़ा। महिलाओं की भीड़ का आलम यह था बसों गिने-चुने पुरुष यात्री ही नजर आए। भीड़ को देखते हुए सिंधी कैंप बस स्टैंड में एक दर्जन अतिरिक्त बसें चलाई गई।

सिंधी कैंप बस डिपो के मुख्य प्रबंधक भानू प्रताप ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर राजस्थान रोडवेज में नि:शुल्क सफर ज्यादातर महिलाओं का धार्मिक स्थलों पर रहा। महिलाओं का ग्रुप के ग्रुप एक साथ प्रोग्राम तय करके अजमेर शरीफ, पुष्कर, सांवरिया सेठ, महावीर जी (करौली), चौथ का बरवाड़ा, महंदीपुर बालाजी, रामदेवरा, खाटू श्याम जी, जीणमाता सहित अन्य धार्मिक स्थलों पर रहा।

यही कारण रहा कि रात 12 बजे बाद जब महिला यात्रियों की भीड़ बढ़ी तो बस स्टेण्ड से एक दर्जन से अतिरिक्त बसें इन धार्मिक स्थलों के लिए रवाना की गई। नि:शुल्क सफर का लाभ उठाने के लिए टिकट काउंटर पर महिलाओं की लंबी कतारे देख सिंधी कैंप से रवाना होने वाली तमाम बसों में 100 फीसदी भीड़ रही।

आलम ये रहा कि जिसने पहले सीट बुक कर ली उसे सीट मिल गई। वरना महिलाओं ने बस में खड़े रहकर ही सफर किया। स्थिति ये बन गई कि छोटे बस स्टैंड पर तो बस के आते ही उसमें चढ़ने के लिए महिलाएं को खासी मशक्कत भी करनी पड़ी।