अलवर गैंगरेप पीड़िता बनेगी राजस्थान पुलिस की सिपाही

  जयपुर अलवर गैंगरेप पीड़िता राजस्थान पुलिस की सिपाही बनेगी. थानागाजी गैंगरेप शिकार महिला ने सरकारी नौकरी की मांग की थी .उसके बाद उसकी शिक्षा के और उसकी इच्छा के अनुरूप सरकार के स्तर पर उसको नौकरी देने के तैयारी पूरी कर ली गई है। बताया जा रहा है कि पीड़िता से सरकार ने नियुक्ति …

अलवर गैंगरेप पीड़िता बनेगी राजस्थान पुलिस की सिपाही Read More »

May 19, 2019 6:43 pm

 

जयपुर

अलवर गैंगरेप पीड़िता राजस्थान पुलिस की सिपाही बनेगी. थानागाजी गैंगरेप शिकार महिला ने सरकारी नौकरी की मांग की थी .उसके बाद उसकी शिक्षा के और उसकी इच्छा के अनुरूप सरकार के स्तर पर उसको नौकरी देने के तैयारी पूरी कर ली गई है।

बताया जा रहा है कि पीड़िता से सरकार ने नियुक्ति की जगह पूछी थी, इसमें पीड़िता ने जयपुर सिटी में नियुक्ति मांगी है. पीड़िता और उसके परिवार से सलाह लेने के लिए राजस्थान सरकार की महिला कॉन्स्टेबल की एक टीम उसके घर गई थी।

सरकार की ओर से टीम से यह पूछने को कहा गया था कि पीड़ित महिला से पूछ कर आए कि वह राजस्थान पुलिस में या फिर जेल पुलिस में कॉन्स्टेबल का पद चाहती है. पूछने पर पीड़िता ने राजस्थान पुलिस नहीं कांस्टेबल की नौकरी के लिए सहमति दी।
पीड़िता की सहमति के बाद छुट्टी के दिन सरकारी दफ्तर खुले और पूरी कार्रवाई की गई. कहा जा रहा है कि पीड़िता के राजस्थान पुलिस के सिपाही बनने के आदेश जारी कर दिए जाएंगे।

इससे पहले पीड़िता ने कहा था कि अगर उसे न्याय नहीं मिला तो वह आत्महत्या कर लेगी. इस बीच एफआईआर में पीड़िता ने कहा था कि उसने अपने वायरल वीडियो और फोटो यूट्यूब पर बने एक चैनल में देखे थे. सरकार ने पहली बार किसी यूट्यूब चैनल वीडियो वायरल करने का मुकदमा दर्ज किया है।

कहा जा रहा है कि राहुल गांधी की यात्रा के बाद अशोक गहलोत ने रिकॉर्ड 16 दिन में आरोपियों के खिलाफ चालान पेश कर यह जताने की कोशिश की है सरकार कठोर कार्रवाई से पीछे नहीं हटेगी. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गैंगरेप पीड़िता से मुलाकात की थी और पीड़िता को न्याय दिलाने का वादा किया था. उन्होंने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से अपील की थी कि पीड़िता को त्वरित न्याय देने की व्यवस्था की जाए और दोषियों के खिलाफ जल्द से जल्द कार्रवाई की जाए।

अलवर गैंगरेप को लेकर राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार पर विपक्ष ने सवाल उठाए थे. यह सवाल इसलिए उठाए गए क्योंकि अलवर गैंगरेप के आरोपियों की गिरफ्तारी बहुत देर से हुई थी।

Prev Post

भ्रष्टाचार मामले में मुख्य सूत्रधार पीपलू सीआई पर कार्रवाई कब

Next Post

शहरवासी बिजली पानी को तरसे, नेता चुनावी जीत के आकड़ों में व्यस्त

Related Post

Latest News

राजस्थान के सरकारी स्कूलों में मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाने की जिम्मेदारी संस्था प्रधान की
माफी तो मांगी,लेकिन वायरल पन्ना बता रहा है कि सचिन पायलट और प्रभारी अजय माकन निशाने पर थे
PFI का सपोर्ट करने पर पाक सरकार का ट्विटर अकाउंट पर प्रतिबंध

Trending News

कांग्रेस के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष होंगे खड़गे,8 अक्टूबर को हो सकती घोषणा
राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान

Top News

राजस्थान के सरकारी स्कूलों में मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाने की जिम्मेदारी संस्था प्रधान की
पूर्व मंत्री और NCP नेता भुजबल का दुबई कनेक्शन का आरोप, FIR दर्ज
नामदेव छीपा समाज के त्रिदिवसीय गरबा महोत्सव झंकार का समापन, महिला मण्डल की कार्यकारिणी का शपथ ग्रहण
माफी तो मांगी,लेकिन वायरल पन्ना बता रहा है कि सचिन पायलट और प्रभारी अजय माकन निशाने पर थे
PFI का सपोर्ट करने पर पाक सरकार का ट्विटर अकाउंट पर प्रतिबंध
कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव के बाद अब सलमान खान के डुप्लीकेट संजय की जिम में एक्सरसाइज के दौरान मौत
कोतवाली पुलिस कहिन रिपोर्ट दर्ज होने के बाद बता दिया जाएगा, बुजुर्ग महिला से लूट का प्रयास विफल ,लोगों ने युवक को पकड़ा ,VIDEO
कांग्रेस के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष होंगे खड़गे,8 अक्टूबर को हो सकती घोषणा
भीलवाड़ा शहर में 2 साल बाद 5 अक्टूबर को निकलेगा विशाल पथ संचलन
राजस्थान शिक्षा विभाग- राजस्थान में सरकारी स्कूलों का समय परिवर्तन 15 से बदलेगा