कोरोना वैक्सीन
जयपुर

अब वैक्सीन के लिए हेल्थ वर्कर्स को नहीं करना होगा मैसेज का इंतजार

Jaipur News। कोरोना महामारी के संक्रमण को हराने के लिए प्रदेश में 16 जनवरी से शुरू हुए वैक्सीनेशन कार्यक्रम में टीकाकरण के गिरते औसत को लेकर राज्य सरकार समेत चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में चिंता घर कर गई हैं। टीकाकरण के औसत को बढ़ाने के लिए अब विभाग ने हेल्थ वर्कर्स के लिए मैसेज की अनिवार्यता समाप्त कर दी है।

प्रदेश में 16 जनवरी से कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम की शुरुआत की गई थी। प्रदेश में अब तक 3 चरणों में टीका लग चुका है, लेकिन पहले चरण के मुकाबले अन्य दो चरणों में टीकाकरण के गिरते औसत पर चिकित्सा विभाग ने चिंता जाहिर की है। ऐसे में विभाग ने एक नई व्यवस्था को लागू किया है। पूर्व में हेल्थ वर्कर्स को कोविन ऐप में रजिस्ट्रेशन करने के बाद से मैसेज मिलने पर ही टीका लगवाने का प्रावधान था, लेकिन अब इस अनिवार्यता को हटा दिया गया है।
दरअसल, जब कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम की शुरुआत की गई थी, तब सिर्फ उन्हीं हेल्थ वर्कर्स को टीका लगाया जा रहा था, जिन्होंने कोविड ऐप पर खुद को रजिस्टर किया था और इस ऐप के जरिए उन्हें मैसेज मिल रहा था। ऐप में समस्या आने के बाद लाभार्थियों के पास मैसेज नहीं पहुंच रहे थे। ऐसे में चिकित्सा विभाग की ओर से टीकाकरण को लेकर जितने हेल्थ वर्कर 1 दिन के लिए रजिस्टर किए गए थे, उतने पहले दिन नहीं पहुंच पाए। इसके बाद जब दूसरे सत्र के टीकाकरण का कार्यक्रम 18 जनवरी को शुरू हुआ, तो पहले सत्र के मुकाबले काफी कम संख्या में लाभार्थी वैक्सीनेशन सेंटर पर पहुंचे। कमोबेश ऐसी ही स्थिति तीसरे सत्र के टीकाकरण कार्यक्रम के दौरान रही। इसके बाद टीकाकरण के गिरते औसत पर चिकित्सा विभाग ने चिंता जताई और नियमों में बदलाव लाने पर विचार किया।
टीकाकरण के पहले सत्र में 16 जनवरी को 16,613 हेल्र्थ वर्कर्स को टीकाकृत करने का लक्ष्य था, जबकि इस सत्र में 12,258 को ही टीका लगाया जा सका। यह उपलब्धि 73.70 प्रतिशत रही। 18 जनवरी को दूसरे सत्र में 68.72 तथा 19 जनवरी को तीसरे सत्र में 16092 के मुकाबले 8833 हेल्थ वर्कर्स को टीका लगाया गया, जो 54.89 प्रतिशत रहा।
जयपुर सीएमएचओ डॉक्टर नरोत्तम शर्मा ने बताया कि कुछ लाभार्थियों के पास ऐप के जरिए मैसेज नहीं पहुंच रहे थे, ऐसे में चिकित्सा विभाग ने नई व्यवस्था शुरू की है। इसके तहत जिन हेल्थ वर्कर्स ने कोविड ऐप पर रजिस्टर किया है और उनके पास मैसेज नहीं पहुंच रहा है, तो ऐसे लाभार्थी सीधे टीकाकरण केंद्र पर पहुंचकर टीका लगवा सकते हैं।
Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम