अब वैक्सीन के लिए हेल्थ वर्कर्स को नहीं करना होगा मैसेज का इंतजार

Jaipur News। कोरोना महामारी के संक्रमण को हराने के लिए प्रदेश में 16 जनवरी से शुरू हुए वैक्सीनेशन कार्यक्रम में टीकाकरण के गिरते औसत को लेकर राज्य सरकार समेत चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में चिंता घर कर गई हैं। टीकाकरण के औसत को बढ़ाने के लिए अब विभाग ने हेल्थ वर्कर्स के लिए मैसेज की …

अब वैक्सीन के लिए हेल्थ वर्कर्स को नहीं करना होगा मैसेज का इंतजार Read More »

January 23, 2021 12:01 pm

Jaipur News। कोरोना महामारी के संक्रमण को हराने के लिए प्रदेश में 16 जनवरी से शुरू हुए वैक्सीनेशन कार्यक्रम में टीकाकरण के गिरते औसत को लेकर राज्य सरकार समेत चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में चिंता घर कर गई हैं। टीकाकरण के औसत को बढ़ाने के लिए अब विभाग ने हेल्थ वर्कर्स के लिए मैसेज की अनिवार्यता समाप्त कर दी है।

प्रदेश में 16 जनवरी से कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम की शुरुआत की गई थी। प्रदेश में अब तक 3 चरणों में टीका लग चुका है, लेकिन पहले चरण के मुकाबले अन्य दो चरणों में टीकाकरण के गिरते औसत पर चिकित्सा विभाग ने चिंता जाहिर की है। ऐसे में विभाग ने एक नई व्यवस्था को लागू किया है। पूर्व में हेल्थ वर्कर्स को कोविन ऐप में रजिस्ट्रेशन करने के बाद से मैसेज मिलने पर ही टीका लगवाने का प्रावधान था, लेकिन अब इस अनिवार्यता को हटा दिया गया है।
दरअसल, जब कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम की शुरुआत की गई थी, तब सिर्फ उन्हीं हेल्थ वर्कर्स को टीका लगाया जा रहा था, जिन्होंने कोविड ऐप पर खुद को रजिस्टर किया था और इस ऐप के जरिए उन्हें मैसेज मिल रहा था। ऐप में समस्या आने के बाद लाभार्थियों के पास मैसेज नहीं पहुंच रहे थे। ऐसे में चिकित्सा विभाग की ओर से टीकाकरण को लेकर जितने हेल्थ वर्कर 1 दिन के लिए रजिस्टर किए गए थे, उतने पहले दिन नहीं पहुंच पाए। इसके बाद जब दूसरे सत्र के टीकाकरण का कार्यक्रम 18 जनवरी को शुरू हुआ, तो पहले सत्र के मुकाबले काफी कम संख्या में लाभार्थी वैक्सीनेशन सेंटर पर पहुंचे। कमोबेश ऐसी ही स्थिति तीसरे सत्र के टीकाकरण कार्यक्रम के दौरान रही। इसके बाद टीकाकरण के गिरते औसत पर चिकित्सा विभाग ने चिंता जताई और नियमों में बदलाव लाने पर विचार किया।
टीकाकरण के पहले सत्र में 16 जनवरी को 16,613 हेल्र्थ वर्कर्स को टीकाकृत करने का लक्ष्य था, जबकि इस सत्र में 12,258 को ही टीका लगाया जा सका। यह उपलब्धि 73.70 प्रतिशत रही। 18 जनवरी को दूसरे सत्र में 68.72 तथा 19 जनवरी को तीसरे सत्र में 16092 के मुकाबले 8833 हेल्थ वर्कर्स को टीका लगाया गया, जो 54.89 प्रतिशत रहा।
जयपुर सीएमएचओ डॉक्टर नरोत्तम शर्मा ने बताया कि कुछ लाभार्थियों के पास ऐप के जरिए मैसेज नहीं पहुंच रहे थे, ऐसे में चिकित्सा विभाग ने नई व्यवस्था शुरू की है। इसके तहत जिन हेल्थ वर्कर्स ने कोविड ऐप पर रजिस्टर किया है और उनके पास मैसेज नहीं पहुंच रहा है, तो ऐसे लाभार्थी सीधे टीकाकरण केंद्र पर पहुंचकर टीका लगवा सकते हैं।

Prev Post

कांग्रेस के सामने भाजपा के वोट बैंक में सेंध लगाने का इतिहास दोहराने और बीते इतिहास से पार पाने की दोहरी चुनौती है,90 निकायों में भाजपा ने बीते चुनाव में जीते थे 60 निकाय

Next Post

एक बार फिर से 24 फरवरी से दौड़ेगी ,विश्व की सबसे सुंदर, लग्जरी और ऐतिहासिक ट्रेन 'पैलेस ऑन व्हील्स'

Related Post

Latest News

कोतवाली पुलिस कहिन रिपोर्ट दर्ज होने के बाद बता दिया जाएगा, बुजुर्ग महिला से लूट का प्रयास विफल ,लोगों ने युवक को पकड़ा ,VIDEO
कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष खड़गे या सिंह,तस्वीर 8 को होगी साफ,G-23 नेता मिले गहलोत से, रौचक होगा चुनाव 
राजस्थान में आलाकमान की धमकी बेअसर, गहलोत गुट के नेता ने फिर..

Trending News

कांग्रेस के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष होंगे खड़गे,8 अक्टूबर को हो सकती घोषणा
राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान

Top News

कोतवाली पुलिस कहिन रिपोर्ट दर्ज होने के बाद बता दिया जाएगा, बुजुर्ग महिला से लूट का प्रयास विफल ,लोगों ने युवक को पकड़ा ,VIDEO
कांग्रेस के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष होंगे खड़गे,8 अक्टूबर को हो सकती घोषणा
भीलवाड़ा शहर में 2 साल बाद 5 अक्टूबर को निकलेगा विशाल पथ संचलन
राजस्थान शिक्षा विभाग- राजस्थान में सरकारी स्कूलों का समय परिवर्तन 15 से बदलेगा
सफाई कर्मचारी भर्ती मामला - अलवर नगर परिषद व सरकार को हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर नोटिस
कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष खड़गे या सिंह,तस्वीर 8 को होगी साफ,G-23 नेता मिले गहलोत से, रौचक होगा चुनाव 
राजस्थान में आलाकमान की धमकी बेअसर, गहलोत गुट के नेता ने फिर..
गहलोत को CM हटाते ही राजस्थान में कांग्रेस खंड-खंड बिखर ...
राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप, परिवादी को ही कर रही है परेशान