जयपुर

अब भरतपुर व आगरा जाने के दिए जयपुर शहर में नही जाना पडेगा

Jaipur News । राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने जयपुर में बनी दक्षिणी रिंग रोड पर यातायात का संचालन शुरू करवा दिया है। इससे अजमेर की तरफ से जयपुर होकर आगरा व भरतपुर जाने वाले लोगों को जयपुर शहर के बीच से होकर नहीं गुजरना पड़ेगा। इसके अलावा भरतपुर, आगरा व मथुरा की ओर से आने वाले वाहनों की भी अजमेर जाने की राह आसान हो जाएगी। एक अनुमान के आधार पर रिंग रोड पर यातायात शुरु होने से अब जयपुर शहर में 10 हजार से ज्यादा छोटे-बड़े वाहनों का दबाव कम हो जाएगा।

एनएचएआई की मानें तो दीपावली पर करीब 11 हजार वाहनों का संचालन रिंग रोड से हुआ, जिसमें आधे से ज्यादा भारी वाहन रहे हैं। रिंग रोड से मानसरोवर, पृथ्वीराज नगर दक्षिण, मालवीय नगर, मॉडल टाउन, जगतपुरा, खो-नागोरियान और इंदिरा गांधी नगर कॉलोनी के लोगों को राहत मिलेगी। पहले अजमेर रोड से आगरा रोड और आगरा रोड से अजमेर की तरफ आने-जाने वाला हैवी ट्रेफिक शहर के बीच इन्ही क्षेत्रों से होकर गुजरता रहा है।

एनएचएआई के अनुसार इस परियोजना की नींव वर्ष 2012 में अशोक गहलोत के दूसरे शासनकाल में नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल ने रखी थी। उस समय इस प्रोजेक्ट को जेडीए को बनाना था, लेकिन वसुंधरा सरकार में इसका काम एनएचएआई को दे दिया गया। 2019 में केंद्रीय सडक़ परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने जनवरी में इसका शुभारंभ किया था। लेकिन उस समय कुछ काम शेष था। इसलिए इसे शुरू नहीं किया गया। अब एनएचएआई ने इस प्रोजेक्ट को पूरा कर दीपावली से यहां यातायात संचालन शुरू करवा दिया है।

इस रिंग रोड पर गुजरने वाले वाहनों से 50 रुपए से लेकर 350 रुपए तक टोल वसूला जाएगा। पूरी 47 किलोमीटर की रिंग रोड पर गुजरने के लिए वाहन चालकों को दो बार टोल देना पड़ेगा। पहला टोल आगरा रोड के नजदीक हिंगोनिया में है जबकि दूसरा टोल जयपुर-फागी रोड के पास सीतारामपुरा में है।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम