बांग्लादेश की शादीशुदा जूहीअपने प्रेमी के लिए आई भारत, हिन्दू बन की शादी और फिर जो हुआ…

Dr. CHETAN THATHERA
3 Min Read

जयपुर/ पिछले करीब 1 माह से पाकिस्तान से अपने प्रेमी से मिलने आई सीमा हैदर और सचिन मीणा का मामला देशभर में मीडिया सोशल मीडिया में सुर्खियों में बना हुआ है पुलिस को लेकर रोजाना नए-नए खुलासे हो रहे हैं सीमा और सचिन के इस मामले के बीच ही उत्तर प्रदेश में ही एक और चौंकाने वाला ऐसा ही मामला सामने आया है ।

जब बांग्लादेश की रहने वाली एक मुस्लिम शादीशुदा महिला जूली उत्तर प्रदेश के ही मुरादाबाद मैं रहने वाले अपने प्रेमी अजय से मिलने सरहद पार करके अपनी एक बेटी के साथ भारत आ गई और हिंदू धर्म अपनाकर अपने प्रेमी से शादी रचा ली शादी रचाने के कुछ समय बाद जो हुआ इसे पढ़कर आप भी चौंक जाएंगे

जानकारी के अनुसार, उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद के अजय नाम के शख्स की बांग्लादेश की जूली नाम की महिला से फेसबुक पर दोस्ती हुई है और दोनों के बीच प्यार हो गया है।जूली ने अपने प्रेमी के लिए भारत आने का फैसला किया और वह अपनी 11 साल की फेटी को साथ लेकर भारत पहुंच गई। इसके बाद जूली ने अजय के साथ हिंदू रीति-रिवाज से शादी कर ली।

अजय से शादी करने के बाद जूली ने वीजा रिन्यू कराने के बहाने अपने पति अजय को बांग्लादेश साथ ले गई। अजय की मां सुनीता के अनुसार जूली अपनी 11 साल की बेटी हलीमा के साथ मुरादाबाद आई थी और अजय से शादी करने के लिए हिंदू धर्म अपना लिया था।

सुनीता ने पुलिस की की शिकायत पत्र का अनुसार जूली ने कहा कि उसके पासपोर्ट व धीमा का नवीनीकरण करना है इसलिए उसे बांग्लादेश जाना पडेगा वह अपना पासपोर्ट और वीज़ा नवीनीकृत करेगी और वापस आ जाएगी। मेरा बेटा उसे बांग्लादेश सीमा तक छोडना गयाऔर इसके तुरंत बाद, उसने फोन किया और कहा कि वह अगले 10-15 दिनों के भीतर वापस आ जाएगा। उस घटना को लगभग दो महीने बीत चुके हैं।

अजय की मां का कहना है कि,अब मुझे उसी नंबर से अपने बेटे की इस कहानी में मोड उस वक्त आया जब अजय की मां को अपने बेटे की खून से लथपथ तस्वीरें मिली। अपने बेटे की सुरक्षा को लेकर चिंतित है।

अखय की मां सुनीता ने शहर के एसएसपी (वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक) को पत्र लिखकर अपने बेटे को बांग्लादेश से वापस लाने में मदद की गुहार लगाई और शंका व्यक्त की है की मुझे संदेह है कि जूली और उसके सहयोगियों ने मेरे बेटे के साथ कुछ गलत किया है।

उनका कहना है कि वह अपने बेटे को वापस भारत लाने और सहायता प्रदान करने में मदद की अपील कर रही हैं। फिलहाल इस मामले की पुलिस जांच कर रही है और मामले में आगे की जानकारी इकट्ठा करने की कोशिश कर रही है।

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम