जयपुर को मिली एबीवीपी के राष्ट्रीय अधिवेशन की मेजबानी, अमित शाह करेंगे उद्घाटन सत्र में शिरकत

Congress does politics of politics and appeasement: Shah
file photo Amit Shah

जयपुर।  राजस्थान में 1 साल के बाद होने जा रहे विधानसभा चुनाव के  मद्देनजजर भाजपा के छात्र संगठन एबीवीपी भी अब सक्रिय हो गया है। विधानसभा चुनाव की तैयारियों और विभिन्न मुद्दों को लेकर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) का चार दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन राजधानी जयपुर में आयोजित होने जा रहा है।

  24 से 27 नवंबर तक होने वाले इस अधिवेशन में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ को न्योता भेजा गया है। हालांकि अभी तक केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के दौरे की स्वीकृति नहीं मिल पाई है लेकिन एबीवीपी सूत्रों का कहना है कि अमित शाह राष्ट्रीय अधिवेशन के उद्घाटन सत्र को संबोधित कर सकते हैं।

अमित शाह जहां उद्घाटन सत्र में शामिल होंगे तो वहीं उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ पुरस्कार सत्र में शामिल होंगे। अधिवेशन में समाज सेवा क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले लोगों को यशवंतराव केलकर युवा पुरस्कार से भी सम्मानित किया जाएगा

देश भर से 2000 प्रतिनिधि होंगे शामिल

नवंबर माह में जयपुर में होने जा रहे एबीवीपी के राष्ट्रीय अधिवेशन में सभी राज्यों से 2,000 से ज्यादा प्रतिभागी अधिवेशन में शामिल होंगे। राष्ट्रीय अधिवेशन में कुछ प्रस्ताव भी पास किए जाएंगे जिनमें राज्य सरकारों के राज्य विश्वविद्यालय में बढ़ते हस्तक्षेप के कारण शिक्षण संस्थाओं की स्वायत्तता कम करने के प्रयासों को लेकर विरोध किया जाएगा।  इसके अलावा कई अन्य प्रस्ताव भी राष्ट्रीय अधिवेशन में पास किए जाएंगे।

बताया जाता है कि राष्ट्रीय अधिवेशन के अंतिम दिन पारंपरिक वेशभूषा में शोभायात्रा निकाली जाएगी, जिसमें अलग-अलग राज्यों के पदाधिकारी अपने अपने प्रदेश की वेशभूषा में शोभायात्रा में शामिल होंगे।

बड़ी बात तो ये है कि

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का राष्ट्रीय अधिवेशन 18 साल के बाद होने जा रहा है, इससे पहले साल 2014 में राष्ट्रीय अधिवेशन का आयोजन किया गया था। राजस्थान में आगामी 1 साल के बाद होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर राष्ट्रीय अधिवेशन को काफी अहम माना जा रहा है। चर्चा यह भी है कि राष्ट्रीय अधिवेशन के जरिए विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं को चुनाव में  जुटने का आह्वान किया जाएगा।