अगर स्कूल में की तालाबंदी, तो नहीं होगी खैर

निदेशक माध्यमिक शिक्षा ने जारी किए आदेश, अनुशासन तोडऩे वाले विद्यार्थियों की काटी जाएगी

Deoli News : शिक्षकों के स्थानान्तरण (Teachers’s Transfer) के बाद विद्यार्थियों(students) व स्थानीय लोगों (Local Pepole) की ओर से प्रदर्शन व तालाबंदी (Lockout)करने वालों की अब खैर नहीं होगी।

इस सम्बन्ध मेें माध्यमिक शिक्षा निदेशक नथमल डिडेल शिक्षा अधिकारियों को पत्र लिखा है। इसमें दोषी लोगों के खिलाफ पुलिस थाने (Police station) में मामला दर्ज (FIR) करवाया जाएगा।

साथ ही विभाग ने अनुशासनहीन (Poor discipline)विद्यार्थियों की टीसी काटने की चेतावनी(Warning) दी है।

गत ३ अक्टूबर को भेजे गए पत्र में बताया कि इन दिनों शिक्षकों व संस्था प्रधानों के स्थानान्तरण के बाद विद्यार्थी व स्थानीय लोगों की ओर से स्कूल भवनों पर तालाबंदी, धरना व प्रदर्शन किया जा रहा है।

हांलाकि विभाग ने रिक्त पदों पर शिक्षकों के पदस्थापन किए है। रिक्त पद होने पर ब्लॉक के भीतर ही निकटतम विद्यालय से शिक्षक को एक पखवाड़े तक लगाकर पाठ्यक्रम पूरा करवाया जा रहा है।

पत्र में बताया कि स्थानान्तरण आदेशों की तत्काल पालन के निर्देश पूर्व में दिए जा चुके है। इसके बाद कई शिक्षक व संस्था प्रधान कार्यमुक्त होने के आदेश को गंभीरता से नहीं ले रहे है।

ऐसे में ऐसे शिक्षकों को तत्काल कार्यमुक्त होकर नवीन पद पर जाने को कहा। साथ ही देरी होने पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की चेतावनी दी।

इसी प्रकार अनुशासनहीनता बरतने वाले विद्यार्थियों को निलंबित, निष्कासित करने व टी.सी देने की कार्रवाई के लिए संस्था प्रधानों को कहा गया है।

दोषी संस्था प्रधानों के खिलाफ होगी कार्रवाई

इसके अलावा तालाबंदी व धरना, प्रदर्शन में यदि संस्था प्रधान की भूमिका पाई गई तो, विभागीय अधिकारियों को ऐसे संस्था प्रधानों के खिलाफ राजकार्य बाधा में मामला दर्ज कराकर तथ्यात्मक प्रतिवेदन निदेशालय को भेजन के आदेश दिए है।

VIAmanish bagdi
SOURCEmanish bagdi
Previous articleकन्याओं का पूजन कर मनाया माँ को
Next articleशराबी व्यक्ति ने स्कूल में मचाया उत्पात, पुलिस में दी शिकायत
परिचय- वर्ष 2000 से पिता श्री राजेन्द्र बागड़ी के मार्गदर्शन में पत्रकारिता क्षेत्र में प्रवेश किया। इस दौरान पत्रकारिता की शुरुआत कम्प्यूटर पर खबरे कम्पोज करने के साथ हुई। इसके साथ ही देवली में राजस्थान पत्रिका में प्रेस फोटोग्राफर व सहायक संवाददाता के रूप में काम किया। इस दौरान क्राइम, जनसमस्या, घटना, दुर्घटना, राजनैतिक आयोजन, धार्मिक से जुड़ी कई खबरें व स्टोरी कवर की। वर्ष 2009 से राजस्थान पत्रिका के भीलवाड़ा संस्करण में भी रिपोर्टर का कार्य शुरू किया। इसके अलावा इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में 2017 से A1 TV rajasthan न्यूज़ चैनल में देवली रिपोर्टर के रूप में कार्यरत।