भीलवाड़ा राजस्थान

राजस्थान के भीलवाड़ा के सरकारी स्कूल बारिश में बन जाते हैं टापू, कैसे हो पढ़ाई, स्कूलों भवनों की हालत खराब

 भीलवाड़ा / राजस्थान में सरकारी स्कूलों के कई भवनों की हालत खराब है जो कभी भी धराशाई हो सकते हैं तो कई सरकारी स्कूल ऐसी हैं जहां बारिश के दिनों में वह सरकारी स्कूल पूरी तरह से टापू में तब्दील हो जाते हैं और स्कूल तक पहुंचने का रास्ता भी विद्यार्थियों के लिए नहीं होता है ऐसे में स्कूल में पढ़ाई कैसे हो ? और इस खतरे में अभिभावक अपने बच्चों को कैसे स्कूल भेजें ? ऐसे कई सवाल है जो शिक्षा विभाग और सरकार को कटघरे में खड़ा करते हैं। 

ऐसा ही एक प्रत्यक्ष मामला भीलवाड़ा जिले के आसींद ब्लॉक में सामने आया है जहां एक प्राथमिक विद्यालय बारिश के दिनों में पूरी तरह से टापू में तब्दील हो गया यहां पर बच्चों को स्कूल आने के लिए भी रास्ता नहीं है और कमरों में पानी इस तरह टपक रहा है कि विद्यार्थियों को बिठाने की भी स्थिति नहीं है।

गुलाबपुरा भीम राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 148 डी पर आसींद ब्लॉक के जगपुरा पंचायत में स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय का है यह हाल । बताया जाता है कि सड़क पर पानी की निकासी के लिए आर-पार कोई नाला नहीं होने से गांव का सारा पानी इस प्राथमिक विद्यालय में भर जाता है और पानी इस कदर भरता है कि घुटनों से ऊपर तक पानी आ जाता है और यह विद्यालय टापू में तब्दील हो जाता है अभी 2 दिन पहले ही क्षेत्र में हुई तेज बारिश से उक्त प्राथमिक विद्यालय पूरी तरह से टापू में तब्दील हो गया ऐसे में विद्यालय आने के लिए बच्चों शिक्षकों को इस खतरे को उठाते हुए पानी पार कर स्कूल में जाना पड़ता है।

यही नहीं स्कूल का भवन भी कई जगह से दरारे आने के कारण छतों से पानी कक्षा कक्षों में टपक रहा है। ऐसे में विद्यार्थियों के कक्षा कक्ष में बिठाने की भी समस्या है बताया जाता है कि इस भवन में दो कमरे ही सही है जिसमें से एक में पोषाहार गोदाम और एक कमरे में 5 कक्षाएं संचालित होती है। इस संबंध में विद्यालय के प्रधानाध्यापक द्वारा विभाग के आला अधिकारियों और पंचायत को भी कई बार अवगत कराया गया हर बार बारिश में यही स्थिति होती है लेकिन आज तक इस समस्या का समाधान नहीं हुआ है।

इनकी जुबानी

इस संबंध में जब आसींद ब्लॉक के मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी से जानकारी चाही तो उन्होंने अनभिज्ञता प्रकट करते हुए कहा कि मैं अभी नया आया हूं मुझे पता नहीं आपने बताया है तो मैं इसका समाधान करवाता हूं

लोकेश नागेला

सीबीईओ(CBEO)

आसींद जिला भीलवाड़ा

 

 इसी तरह शाहपुरा उपखंड मुख्यालय पर स्थित कुंडगेट राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय का परिसर का हाल है यह विधालय परिसर भी आज तलैया बन गया है। शाहपुरा में हुई बारिश के बाद स्कूल परिसर पूरा पानी से लबालब भर गया है। बताया गया है कि स्कूल के पिछवाड़े में बन रही काॅलोनी में हाउंसिंग बोर्ड प्रशासन की लापरवाही के चलते ऐसे हुआ है।

प्रधानाध्यापक देबीलाल बैरवा का आरोप है कि हाउंसिग बोर्ड अधिकारियों ने स्कूल परिसर से निकलने वाले बारिश के पानी के रास्ते को बाधित कर रोड़ का निर्माण कर लिया है जिससे अब पानी की निकासी अवरूद्व हो गयी है। प्रधानाध्यापक ने बताया कि इस समस्या से शिक्षा विभाग के अधिकारियों के अलावा स्थानी उपखंड प्रशासन व जिला प्रशासन को अवगत करा दिया गया

समय रहते इस समस्या का समाधान नहीं किया गया तो स्कूल विद्यार्थी व शहरवासी मिलकर हाउंसिग बोर्ड अधिकारियों के खिलाफ आंदोलन करेगें। 

इनकी जुबानी

भूमि सीमा को लेकर विवाद है इस कारण यह समस्या बन जाती है है इस पानी भरने से पढाई मे बाधा नही है परंतु खाली जमीन मे पानी भरा है इस संबंध मे हमने एसडीएम व तहसील से निवेदन किया है की आकर भूमि सीमा ज्ञान करे 

महावीर शर्मा

सीबीईओ(CBEO)शाहपुरा भीलवाड़ा

 

 

 

विदित है कल ही भीलवाड़ा के सुवाणा ब्लॉक के उपनगर पूर्व में स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय का भवन जर्जर होने पर विभाग ने

उक्त विद्यालय को उपनगर पुर में ही संचालित राजकीय उच्च माध्यमिक बालिका विद्यालय में मर्ज करते हुए संचालन शुरू कर दिया था लेकिन बताया जाता है कि बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय के भवन की भी हालत सही नहीं होने पर अभिभावकों और विद्यार्थियों ने कल चक्का जाम कर दिया था इस पर विभाग के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और अभिभावकों विद्यार्थियों की मांग पर दोनों ही विद्यालय भवनों की मरम्मत कराने का आश्वासन दिया तथा प्राथमिक विद्यालय भवन की मरम्मत कराकर पुनः उसी भवन में विद्यालय संचालित करने का आश्वासन दिया तब जाकर जाम खुला और आक्रोश खत्म हुआ

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम