राजकीय महात्मा गांधी स्कूलों में होगा सुधार,अभिभावकों से लिया जाएगा फीडबैक,अधिकारियों की रहेगी नजरें

Dr. CHETAN THATHERA
6 Min Read

जयपुर/ राजस्थान सरकार द्वारा प्रदेश में निजी स्कूलों की तर्ज पर गरीब वर्ग के बच्चों को बेहतर शिक्षा देने के लिए शुरू की गई महात्मा गांधी राजकीय अंग्रेजी माध्यम विद्यालय मैं नए सत्र से और होगा सुधार अधिकारियों की रहेगी विशेष नजरें तथा अभिभावकों से भी लिया जाएगा फीडबैक और प्रिंसिपल सहित शिक्षकों को दिया जाएगा प्रशिक्षण ।

क्या कहते है शिक्षा शासन सचिव नवीन जैन

शिक्षा शासन सचिव नवीन जैन ने बातचीत में बताया कि राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा गरीब वर्ग के बच्चों को बेहतर शिक्षा और अंग्रेजी माध्यम से शिक्षा मिले इसके लिए निजी स्कूलों की तर्ज पर फेलोशिप योजना के तहत प्रदेश में महात्मा गांधी राजकीय अंग्रेजी माध्यम विद्यालय की शुरुआत की गई थी और इसमें धीरे-धीरे लगातार सुधार होने के साथ ही जनता का भी रुझान बढ़ रहा है और अब इसी कड़ी में नए शैक्षिक सत्र से अंग्रेजी माध्यम सरकारी स्कूलों में बेहतर सुधार करने के साथ ही कुछ और नवाचार शुरू किए जा रहे हैं ।

इन स्कूलों में शिक्षकों की कमी की पूर्ति संविदा भर्ती के माध्यम से प्रदेश में करीब 10,000 शिक्षकों की भर्ती की जा रही है जिसकी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है ।

शिक्षा शासन सचिव नवीन जैन ने बातचीत करते हुए बताया कि महात्मा गांधी राजकीय अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों में प्राचार्य से लेकर शिक्षकों तक के पदों पर साक्षात्कार के माध्यम से जुलाई के पहले पखवाड़े तक सभी पद भरने की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी और इन विद्यालयों में प्राचार्य और शिक्षकों के चयन के बाद उनको प्रशिक्षण दिया जाएगा तथा

प्रशिक्षण के साथ ही विद्यालयों में पूरी मॉनिटरिंग रहेगी और इन सभी विद्यालयों में निजी विद्यालयों की तर्ज पर ही स्टैंडर्ड मेंनटेंन भी करने के प्रयास हैं तथा स्कूलों में अध्ययनरत विद्यार्थियों के अभिभावकों से भी लगातार फीडबैक लिया जाएगा ।

क्यों जरूरत पडी साक्षात्कार के जरिए तबादलो की

जैन ने बताया कि इन अंग्रेजी माध्यम महात्मा गांधी विद्यालयों में शिक्षकों को स्कूल आने से पहले रोजाना पढ़ाए जाने वाले विषय और पाठ के बारे में तैयारी करके स्कूल आना होगा और अब इन अंग्रेजी माध्यम विद्यालय में शिक्षकों द्वारा पूर्व में जो परिपाटी चली आ रही थी कि गांव से दूर दूसरी स्कूलों में पदस्थ होने पर गांव के समीप अंग्रेजी माध्यम विद्यालय में तबादला करा कर आ जाते थे पूरी तरह से वह पढ़ाई नहीं करा पाते केवल समय पास होता था ।

इस परिपाटी को अब नए शैक्षिक सत्र से खत्म करते हुए नई व्यवस्था आवेदन और साक्षात्कार के माध्यम से की जा रही है अब महात्मा गांधी स्कूलों में तबादले के लिए नहीं बेहतर ढंग से पढ़ाई कराने और काम करने के उद्देश्य से ही आना होगा उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी स्कूलों के प्राचार्य को दी चयन के बाद लीडरशिप का प्रशिक्षण दिया जाएगा ।

उन्होने बताया की पूर्व में जो प्रिंसिपल रहे हैं उनको भी बुलाकर बातचीत कर फीडबैक लिया जाएगा कि क्या कमियां थी और किस तरह की परेशानी भाई यह कार्य पहले नहीं हुआ था किसी ने पूर्व प्रिंसिपल को बुलाकर परेशानियों और कमियों के बारे में आज तक नहीं पूछा गया जो अब किया जाएगा ।

क्या कहते है शिक्षा निदेशक कानाराम

शिक्षा निदेशक कानाराम आईएएस ने बातचीत में बताया कि महात्मा गांधी राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में नए शैक्षणिक सत्र से सभी पद प्राचार्य से लेकर शिक्षक और बाबू व चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी तक के पद साक्षात्कार से भरे जाएंगे।

उन्होंने बताया कि साक्षात्कार के लिए 3 लेवल पर समितियां बनाई गई है इनमें राज्य स्तर, पर संभाग स्तर पर और जिला स्तर पर इसमें कैडर के अनुसार साक्षात्कार लिए जाएंगे इसमें प्रिंसिपल के साक्षात्कार राज्य स्तर पर बनी कमेटी द्वारा सेकंड ग्रेड शिक्षक को के साक्षात्कार संभाग स्तर पर और थर्ड ग्रेड के साक्षात्कार जिला स्तर पर होंगे ।

शिक्षा निदेशक कानाराम ने बताया कि अब शिक्षकों को एक अच्छा अवसर दिया गया है कि महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम में पदस्थ कार्मिकों को दूसरे महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विद्यालय में तबादले की सुविधा दी गई है ।

निदेशक कानाराम ने बताया कि इस नए शैक्षणिक सत्र से महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यमिक विद्यालयों में संविदा के माध्यम से 10000 शिक्षकों की भर्ती की जा रही है इससे अब किसी भी महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यमिक स्कूलों में कोई पद खाली नहीं रहेगा और साथ ही जो नई भर्ती में युवा आ रहे हैं वह नए जोश के साथ काम करेंगे इससे महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम स्कूलों मैं बेहतर परिणाम सामने आएंगे ।

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम