पूर्व विधायक अजीत सिंह मेहता ने की टिप्पणी बोले सचिन पायलट को सोचना चाहिए है कि हम किस पार्टी में है,देखें वीडियों

Former MLA Ajit Singh Mehta said that Sachin Pilot should think in which party we are, watch video

टोंक / पूर्व विधायक अजीत सिंह मेहता (Former MLA Ajit Singh Mehta)  ने कहा कि पांच राज्यों में से चार राज्यों पर भाजपा की सरकार बनी है। मोदी जी ने देश में विकास को लेकर कोई कसर नहीं छोड़ी है और उसी का ये परिणाम है।

देखें वीडियों

उन्होंने टोंक के विधायक सचिन पायलट (Sachin Pilot) के द्वारा दी गई टिप्पणी पर कहा कि उन्हें सोचना चाहिए है कि हम किस पार्टी में है। इन परिणामों को लेकर उनको चिंता करनी चाहिए है।

[शिक्षा विभाग – बोर्ड परीक्षाओं को छोड अन्य कक्षाओं की परीक्षाएं कब होगी तय, कक्षा 1 से 4 तक नही होगी परीक्षा]

जब से राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनी है तब से प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह से चौपट हो चुकी है। और आने वाले दिनों में प्रदेश की जनता कांग्रेस को जरूर जवाब देगी। साथ ही कहा कि आने वाले दिनों में प्रदेश में भी भाजपा की सरकार बनेगी।

 

सचिन पायलट ने ये दिया था बयान टोंक में 

 

सचिन पायलट ने सर्किट हाउस में मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा कि कल पांच राज्यों के चुनाव परिणाम आएंगे और मेरा मानना है कि केन्द्र सरकार के 8 साल के शासन को जो देश की जनता ने देखा है उससे लगता है कि अब बदलाव लगभग तय है। केंद्र की सरकार ने इन 8 सालों में धरातल पर रहकर काम नही किया है।

[राजस्थान में भारत- पाक सीमा पर धमाके, घरों के दरवाजे तक हिले, लोग डर कर आए]

केंद्र की सरकार ने देश के किसानों के साथ धोखा किया है। आने वाले दिनों में देश का किसान सरकार को ज़रूर जवाब देगा। साथ ही देश में जहाँ भी केन्द्र की सरकार है वहाँ कि जनता पूरी तरह से असंतोष है। केंद्र की सरकार ने लोकसभा चुनाव के दौरान देश की जनता को झूठे सपने दिखाकर सत्ता हासिल की थी। आज देश में बेरोजगारी दिन पर दिन बढ़ती जा रही है। देश में लगातार मंहगाई बढ़ती जा रही है।

[Facebook Reels पर शॉर्ट वीडियो पब्लिश करने वाले कर सकेंगे कमाई अच्छी खबर]

हमारी प्रदेश सरकार ने विधानसभा चुनाव में किए गए वादों को किया है। हर क्षेत्र में विकास के कार्य करवाए जा रहे हैं। कोरोना महामारी में हमारी सरकार ने प्रदेश की जनता की हर संभव मदद की थी। पिछले सात-आठ सालों में भाजपा ने झूठ व भ्रम की राजनीति की है। भाजपा जाति, धर्म, मंदिर, मस्जिद की बात तो करती है परन्तु महंगाई, बेरोजगारी, पेटोल-डीजल-रसोई गैस के दामों में हो रही बढ़ोतरी के बारे में बात नहीं करती।

 

उन्होंने कहा कि भाजपा किसान विरोधी तीन काले कानून लेकर आयी जिसका किसानों ने लगभग एक वर्ष तक शांतिपूर्ण ढंग से विरोध किया। भाजपा ने तब तो किसानों की बात नहीं सुनी परन्तु उप चुनाव में हार होते हुए तुरंत कृषि संबंधी तीनों काले कानून वापस ले लिये। उन्होंने विश्वास जताया कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के परिणाम कांग्रेस पार्टी के पक्ष में बेहतर आयेंगे।