Farm pound scheme changed the fate of farmer Hariram
टोंक राजस्थान

फार्म पौण्ड योजना ने बदली किसान हरिराम की तकदीर

टोंक। किसानों के कल्याण के लिए प्रदेष सरकार द्वारा संचालित फार्म पौण्ड योजना बरसाती जल संरक्षण के साथ खेती-बाडी में सिंचाई की दृष्टि से लाभकारी सिद्ध हो रही है। इससे किसानों की पैदावार बढ़ने से आमदनी में वृद्धि हुई है। प्रदेष के इस बार प्रस्तुत प्रथम कृषि बजट में राजस्थान सूक्ष्म सिंचाई मिषन के तहत फार्म पौण्ड निर्माण के लिए किसानों को और अधिकाधिक अनुदान उपलब्ध कराया जाएगा। फार्म पौण्ड निर्माण से किसानों की तकदीर एवं खेतों की तस्वीर दोनों बदल रही है।

Farm pound scheme changed the fate of farmer Hariram
टोंक जिले के मालपुरा तहसील की ग्राम पंचायत लांबाहरिसिंह के गांव गणेशपुरा निवासी हरिराम बताते है कि उनके गांव में सिंचाई जल स्रोतों की कमी एवं पानी सिंचाई लायक नहीं होने के कारण वह बारानी खेती करता था। जिससे खेती से होने वाली आमदनी काफी कम थी। इस आमदनी से परिवार चलाना कठिन हो गया था तथा पशुधन के सहारे ही जीवनयापन हो रहा था। कृषि विभाग द्वारा फार्म पौण्ड में मिलने वाले अनुदान की जानकारी होने पर वह कृषि विभाग मालपुरा के सहायक निदेशक नागरमल यादव से मिलें। उन्होंने मुझे फार्म पौण्ड निर्माण करने की जानकारी दी एवं उसके अनुदान के बारे में बताया।

कृषि विभाग के अधिकारियों की सहायता से प्रार्थना पत्र ऑनलाइन करवाया एवं आदेश होने पर फार्म पौण्ड का निर्माण करवाकर 63 हजार रुपए का अनुदान प्राप्त किया। इसके बाद सिंचाई पाइपलाइन की पत्रावली लगाई और 300 मीटर पाइपलाइन खरीद कर 15 हजार रुपए अनुदान के रूप में प्राप्त किए। इस फार्म पौण्ड व पाइपलाइन से उसने 2.01 हैक्टेयर सरसों व 1.0 हैक्टेयर चने की फसल की सिंचाई की। इससे मुझे 3 लाख रुपए की आमदनी हुई। इससे उसके परिवार की माली हालात में काफी सुधार हुआ। किसान हरिराम ने राज्य सरकार द्वारा संचालित इस योजना को किसानों के लिए वरदान बताया हैं।

Sameer Ur Rehman
Editor - Dainik Reporters http://www.dainikreporters.com/