एक माह मे 3 ग्रहण , कोरोना वायरस जून मे ढहाएगा कहर, बडी शख्सियत की हो सकती मौत, पढे पूरी रिपोर्ट

Bhilwara News। कहते है की जब प्रकृति कहर ढहाती है तो विनाश ही लाती है और अभी कोरोना वायरस का कहर जारी है तो ज्योतिष गणना के अनुसार अगले माह से होने वाले तीन ग्रहण से कोरोना और कहर ढहाऐगा तो वही यह तीनो ग्रहण देश और दुनिया मे उथल-पुथल भी मचाऐंगे । इसके अलावा …

एक माह मे 3 ग्रहण , कोरोना वायरस जून मे ढहाएगा कहर, बडी शख्सियत की हो सकती मौत, पढे पूरी रिपोर्ट Read More »

May 26, 2020 4:55 pm

Bhilwara News। कहते है की जब प्रकृति कहर ढहाती है तो विनाश ही लाती है और अभी कोरोना वायरस का कहर जारी है तो ज्योतिष गणना के अनुसार अगले माह से होने वाले तीन ग्रहण से कोरोना और कहर ढहाऐगा तो वही यह तीनो ग्रहण देश और दुनिया मे उथल-पुथल भी मचाऐंगे ।

इसके अलावा इन ग्रहण से कुछ राशिरो के जाथक भी होंगे प्रभावित । इस सबंधं मे दैनिक रिर्पोटर डाॅट काॅम के सीईओ व वरिष्ठ पत्रकार चेतन ठठेरा ने ज्योतिष नगरी कारोई के ज्योतिष पण्डित गोपाल उपाध्याय से की विशेष बातचीत मे। यह सांराश निकला है आइए आब पढते है विशेष बातचीत क्रा है पूरी खबर जाने

ज्योतिष पण्डित गोपाल उपाध्याय की भविष्यवाणी व ज्योतिष गणना

5 जून से 5 जुलाई 2020 के बीच मे तीन ग्रहण है एक महीने में तीन ग्रहण होंगे । दो चंद्र ग्रहण और एक सूर्य ग्रहण ।।

जब कभी एक महीने में तीन से ज्यादा ग्रहण आ जाये तो गंभीर और चिंतनीय होता है ।

पहला ग्रहण

5 जून 2020 चंद्रग्रहण प्रारंभ रात 11:15 मिनिट समाप्ति 6 जून सुबह 2:34 चंद्र ग्रहण जिसमे शुक्र वक्री और अस्त रहेगा गुरु शनि वक्री रहेंगे तो तीन ग्रह वक्री रहेंगे, जिसके कारण जिसके प्रभाव भारत की अर्थव्यवस्था पर होगा। शेयर बाजार से जुड़े हुए लोग सावधान रहें। यह ग्रहण वृश्चिक राशि पर बुरा प्रभाव डालेगा। किसी ख्यातिप्राप्त व्यक्ति की रहस्यात्मक मौत हो सकती है ।।

दूसरा ग्रहण

21 जून 2020 सूर्य ग्रहण एक साथ छ ग्रह वक्री रहेंगे बुध, बृहस्पति, शुक्र, शनि, राहु, केतु यह छह ग्रह 21 जून 2020 को वक्री रहेंगे। इन छह ग्रह का वक्री होना यानी एक बहुत बड़ा तहलका मचाने वाला है। ग्रहण सूतक – 20 जून रात 10 बजकर 09 मिनट से शुरू । ग्रहण काल 21 जून सवेले 10 बजकर 09 मिनट फे दोपहर 1 बजकर 36 मिनट तक ।

तीसरा ग्रहण

5 जुलाई 2020 चंद्रग्रहण एक बहुत बड़ा परिवर्तन होगा।मंगल का राशि परिवर्तन, सूर्य का राशि परिवर्तन
गुरु धन राशि मे वापस, लेकिन वक्री रहेंगे। शुक्र मार्गी होगा
प्राकृतिक आपदाएं आयेगी।
वैश्विक शक्तियां लड़ने को हावी होगी।
किसी ख्यातिप्राप्त यशस्वी कीर्तिमान राजनीति नेता की मौत हो सकती है कुछ जगह पर आपसी लड़ाईया होगी।

तीनो ग्रहण के खास प्रभाव क्या और किन राशिरो पर क्या प्रभाव पडेगा

5 जून 2020 का ग्रहण व्रश्चिक राशि को प्रभावित करेगा
21 जून 2020 का सूर्य ग्रहण मिथुन राशि को प्रभवित करेगा
5 जुलाई 2020 का चन्द्र ग्रहण ।
मकर राशि को प्रभावित करेगा।
इन राशियों के जातकों को शारीरिक आर्थिक व मानसिक रूप से विशेष सावधानी रखनी चाहिए वाहनादि को शाँति से चलाए व रोगों से सावधान रहें शारीरिक रूप से लापरवाही नहीं करें ।

निवारणार्थ कृष्ण जी के जपः करें ।
ॐ नमो भगवते वासुदेवाय नमः

तीनो ग्रहण के प्रमुख असर देश और विदेशो मे क्या-क्या

30 जून के बाद कोरोना महामारी पर कुछ हद तक सुधार आने के योग बनते हैं लेकिन सम्पूर्ण कोरोना महामारी 24 सितम्बर 2020 के बाद ही नियंत्रण में आएगी और यहां तक वेक्सीन का निर्माण हो जायेगा।

इन लगातार तीन ग्रहणों के कारण वैश्विक उन्माद पैदा होने के योग बनते हैं जिससे अनेकों देश अपने हितों को लेकर आपसी टकराव व युद्ध सदृश उन्माद पैदा करेंगे जिससे वैश्विक अशान्ति पैदा हो सकती ,प्रकृतिक आपदाएं आंधी तूफानअतिवृष्टी भारत के पूर्वी क्षेत्र में पश्चिमी बंगाल उड़ीसा बिहार व दक्षिणी क्षेत्र केरल तमिलनाडु आदि में समुद्री तूफान  पूर्व व दक्षिण में भारत में चक्रवाती तूफान भी आऐंगे। उत्तरी क्षेत्र उत्तराखण्ड जम्मूकश्मीर हिमाचल आदि में हिमालय क्षेत्र में चीन से लगती हुई सीमा क्षेत्र मे भूकम्प भुस्खलन नेपाल के तराई क्षेत्र व कुछ हिस्सा पाकिस्तान के हिस्से मे भूकम्प व भूस्खलन प्राकृतिक आपदाओं से पीड़ित हो सकते हैं ।

राजनिती में नेता आपस में लड़ झगड़कर कर दलबदलू होंगे जिससे विश्व में अनेको सरकारें टकराव का सामना करेंगी ।अनेक देशों में जनता व मजदूर वर्ग कामगारों से केंद्र की सरकारों को निश्चित टकराव का सामना करना पड़ेगा व विश्व को एक बार वैश्विक मंदी का सामना करना पड़ेगा ।

किसी जानीमानी राजनीतिक हस्ती या खेल जगत या कला जगत से जुड़े चिर परिचित व्यक्ति के मृत्यु योग बनते हैं । विश्व में किसी भी देश के शासक की धोखे से मुत्यु योग भी बन सकते हैं । इस प्रकार इन 3 ग्रहणों के लगातार होने से बहुत कुछ ब्रह्मांड में उथल पुथल देखने को मिलेगी इस उथल पुथल से मानव अपना बचाव सयंम व धैर्य व सावधानी से व ईश्वर की आराधना से ही बचाव होगा

अपील

जनमानस की आपसी समझदारी , सोशल डिस्टेसिंग, माॅस्क पहने से शीघ्र ही कोरोना से जल्दी नियत्रण पा सकते है
ज्योतिष पण्डित गोपाल उपाध्याय

Prev Post

अब शादी के लिए एसडीएम की अनुमति जरूरी नही,50 से अधिक संख्या पर 10 हजार जुर्माना

Next Post

भीलवाड़ा मे 4 और पॉजिटिव एक दिन मे 8 रोगी आए शाम बाकी

Related Post

Latest News

सचिन पायलट के विधायक जोड़ो अभियान को धक्का, जिन विधायकों से संपर्क किया वो सीएम के पास पहुंचे 
पटवारी 20 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों अरेस्ट
राजकुमार शर्मा को ब्रेन हेमरेज

Trending News

वसुंधरा राजे के बाद अब सतीश पूनिया ने भी की भी त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में पूजा-अर्चना
कांग्रेस के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष होंगे खड़गे,8 अक्टूबर को हो सकती घोषणा
राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी

Top News

सचिन पायलट के विधायक जोड़ो अभियान को धक्का, जिन विधायकों से संपर्क किया वो सीएम के पास पहुंचे 
टोंक शांति एवं सद्भावना समिति की बैठक आयोजित
जयपुर को मिली एबीवीपी के राष्ट्रीय अधिवेशन की मेजबानी, अमित शाह करेंगे उद्घाटन सत्र में शिरकत
विजयादशमी पर  जयपुर में 29 स्थानों पर संघ का पथ संचलन, शस्त्र पूजन व शारीरिक प्रदर्शन भी होंगे
वसुंधरा राजे के बाद अब सतीश पूनिया ने भी की भी त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में पूजा-अर्चना
टोंक जिला स्तरीय राजीव गांधी युवा मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित%%page%% %%sep%% %%sitename%%
Upload state insurance and GPF passbook in new version of SIPF
मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना से सुमन, रिजवाना बानो एवं दिनेश को मिली राहत
पटवारी 20 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों अरेस्ट
राजकुमार शर्मा को ब्रेन हेमरेज