बीकानेर राजस्थान

शिक्षा विभाग – फ्री स्कूल ड्रेस 175 रूपये में सिलाई करेगा कौन, शिक्षकों के सामने सकंट, 70 लाख विद्यार्थियों को ड्रेस देने की तैयारी

बीकानेर/ राजस्थान सरकार द्वारा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस बजट में प्रदेश के सरकारी स्कूलों की ड्रेस का रंग बदलते हुए कक्षा 1 से लेकर कक्षा 8 तक के विद्यार्थियों को उक्त बदली गई ड्रेस फ्री मी देने की घोषणा की थी और इस घोषणा के तहत नए शैक्षणिक सत्र से ही करीब 7000000 बच्चों को निशुल्क ड्रेस देने की तैयारी शुरू हो गई है ।

लेकिन सरकार द्वारा उक्त ड्रेस का कपड़ा फ्री दिया जाएगा और 2 जोड़ी ड्रेस की सिलाई ₹175 निर्धारित की है जो शिक्षकों को ही ड्रेस सिल्वा कर देनी है अब शिक्षकों के सामने संकट खड़ा हो गया है कि ₹175 में दो ड्रेस कौन सिलाई करके देगा इसी के साथ थी विभाग द्वारा ड्रेस सिलाई के लिए जारी दिशा निर्देश शिक्षकों के लिए गले की फांस बन रहे हैं ।

सरकार बच्चोें को दो ड्रेस देगी, जिसका अनुमानित बजट 600 रु. निर्धारित किया है। इसमें 425 रु. का कपड़ा होगा। इसके अलावा 175 रुपए सिलाई के होंगे।ड्रेस सिलवाने की जिम्मेदारी सबंधित स्कूल की होगी ।

इसके अलावा स्कूल ड्रेस के कपड़े को स्कूल तक पहुंचाने की जिम्मेदारी विभाग की होगी उसके बाद विद्यार्थियों के ड्रेस का नाम लेने की जिम्मेदारी शिक्षकों की होगी बच्चे के नहीं मिलने पर अन्य दिन उसका नाम लिया जाएगा सिलाई के लिए टेलर(दर्जी) को स्कूल बुलाने की जिम्मेदारी शिक्षकों की होगी और इसके साथ ही ड्रेस बांटने की जिम्मेदारी भी शिक्षकों की होगी ड्रेस छोटी हो या बड़ी होने पर सही करवाएं जाने तथा इसके अलावा यूनिफार्म यूर्ण का रिकॉर्ड रखने की जिम्मेदारी शिक्षकों की होगी।

सरकार के इस दिशा निर्देश को लेकर चीकू के सामने संकट खड़ा हो गया है कि ₹175 में दो ड्रेस काउंसिल क्या देगा इसके अलावा शिक्षकों का कहना है कि मिड-डे-मील दूध वितरण आदि के बाद अब उनसे ड्रेस सिलवाने के काम करवाया जाएगा जो गलत है इस पर सरकार को पुनः विचार करना चाहिए ड्रेस सिलाई का ₹175 सीधे विद्यार्थियों के खाते में ट्रांसफर होंगे इस पर शिक्षकों का तर्क है कि ₹175 में दो ड्रेस की सिलाई नहीं हो सकती की गुणवत्ता पर भी असर पड़ेगा ऐसे में अभिभावकों शिक्षकों के बीच विवाद होंगे ।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम