राजस्थान के भरतपुर में फिर दो समुदाय के गुट भिडे, पथराव

एक मुकदमे का फैसला आने के बाद देर रात जश्न मना रहे एक गुट द्वारा दूसरे गुट पर बोतलें फेंक देने के बाद शुरू हुआ था ।

May 10, 2022 10:20 am
Clashes of two communities again in Bharatpur, Rajasthan, stone pelting

भरतपुर/ राजस्थान पिछले 1 माह से लगातार सांप्रदायिक तनाव हिंसा की घटनाएं घटित हो रही है पहले करौली फिर जोधपुर नागौर भीलवाड़ा के बाद अब भरतपुर में भी दो समुदाय विशेष के दो गुटों में कल हुए झगड़े के बाद दोनों ओर से पथराव होने से तनाव की स्थिति हो गई लेकिन प्रशासन और अधिकारियों की सजगता से यह मामला सांप्रदायिक घटना में बदलने से विराम लग गया । पूरे इलाके को सील कर दिया गया है ।।


घटना मथुरा गेट के थाना अंतर्गत बुद्ध की हॉट क्षेत्र की है जहां एक मुकदमे का फैसला आने के बाद देर रात जश्न मना रहे एक गुट द्वारा दूसरे गुट पर बोतलें फेंक देने के बाद शुरू हुआ था ।

बताया जाता है कि जश्न में बरी होने वाले पक्ष ने दूसरे पक्ष पर बोतलें फेंकी. विरोध में दूसरे धड़े ने पत्थर फेंके और फिर जमकर पथराव हुआ । गनीमत रही कि जब तक यह तनाव सांप्रदायिक दंगे में तब्दील होता, उससे पहले ही जिला प्रशासन हरकत में आ गया ।

एसएचओ ने सीनियर अफसरों को सूचित किया। डीएम आलोक रंजन को जैसे ही जानकारी मिली, वह एसपी श्याम सिंह के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस के प्रति लोगों में गुस्सा था लेकिन, डीएम ने स्थिति को संभाला । बाद में आईजी और डीसी मौके पर पहुंच गए. रात डेढ़ बजे तक अफसर मौके पर रहे और 15 लोग हिरासत में लिए गए। पूरे इलाके को सील किया गया है।

हिरासत में लिए गए 15 लोग

जान लें कि उपद्रवियों ने दो मोटरसाइकिल को नुकसान पहुंचाया है। पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए 15 लोगों को हिरासत में ले लिया है । वारदात की खबर मिलते ही मौके पर आला अधिकारी पहुंचे और स्थिति को नियंत्रण में लिया ।

मौके पर पहुंचे आला अधिकारी

घटना की सूचना मिलने के बाद डिविजनल कमिश्नर सांवरमल वर्मा, डीएम आलोक रंजन, आईजी प्रसन्न कुमार और एसपी श्याम सिंह सहित सभी थानों के SHO सहित भारी पुलिस फोर्स मौके पर पहुंचा. इसके बाद हालात को काबू में किया गया.।

क्या था मामला

साल 2013 में दो समुदायों के परिवारों के बीच मीट की दुकानों को लेकर विवाद हुआ था । तत्कालीन प्रशासन ने मीट दुकानें बंद कराई थीं। फिर इस मामले में दोनों पक्षों के बीच आपस में मुकदमे दर्ज हुए। इसी मामले में सोमवार को कोर्ट ने एक पक्ष के ऊपर 600 रुपये का जुर्माना लगाया । जिसके बाद एक समुदाय के लोग इसी का जश्न मना रहे थे ।।आरोप है कि उस दौरान मीट परोसा जा रहा था और शराब भी पी जा रही थी

Prev Post

CWC की बैठक, अब समय आ गया कांग्रेस पार्टी का कर्ज चुकाने का  - सोनिया गांधी

Next Post

पूर्व टोंक विधायक अजीत सिंह मेहता का जन्मदिवस पर शक्ति प्रदर्शन, हज़ारों की संख्या में समर्थक जुटे, दीया कुमारी, प्रभुलाल सैनी भी बधाई देने पहुँचे

Related Post

Latest News

उदयपुर घटना - भीलवाड़ा, टोंक व नागौर अजमेर में नेट बंद
राजस्थान में नुपूर शर्मा के समर्थक दर्जी की दूकान में घुस खुलेआम से नृशंस हत्या, आरोपियों ने किया वीडियों वायरल, नुपूर व पीएम मोदी को धमकी

Trending News

स्थापना दिवस पर देशवाली मदद फाउंडेशन ने कि शिक्षण सामग्री वितरित
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कल से 3 दिवसीय प्रवास पर रहेंगे जोधपुर
शिक्षा विभाग- राष्ट्रीय शिक्षा नीति 6 हजार शिक्षकों को प्रशिक्षण 23 तक

Top News

उदयपुर घटना - भीलवाड़ा, टोंक व नागौर अजमेर में नेट बंद
राजस्थान में नुपूर शर्मा के समर्थक दर्जी की दूकान में घुस खुलेआम से नृशंस हत्या, आरोपियों ने किया वीडियों वायरल, नुपूर व पीएम मोदी को धमकी
अधिकारी को नेता से जान का खतरा, Whatsaap पर शेयर किया दर्द 
सीएम गहलोत आज से 3 दिन अपने गृह जिले जोधपुर के दौरे पर, दो समुदायों के बीच दूरियां कम करने पर रहेगा फोकस!
स्थापना दिवस पर देशवाली मदद फाउंडेशन ने कि शिक्षण सामग्री वितरित
शिक्षा विभाग - संस्था प्रधान और शिक्षक होंगे सम्मानित,निदेशक अग्रवाल का नवाचार,और..
डॉक्टर व शिक्षक परिवार ने सामूहिक आत्महत्या नहीं की , हत्या की गई थी , दो गिरफ्तार 
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की बड़ी घोषणा, 'प्रदेश का अगला बजट युवा केंद्रित होगा'