नीमच से तस्करी कर बाडमेर ले जाई जा रही बड़ी मात्रा में अफीम जब्त

चित्तौडग़ढ़ /जिले की डूंगला थाना पुलिस ने नाकाबंदी के दौरान एक बड़ी कार्यवाही करौए हुए कार में तस्करी के जरिए ले जाई जा रही अवैध अफीम जब्त कर एक आरोपी अफीम गिरफ्तार किया लेकिन दो आरोपी मौके से फरार हो गए।

पुलिस उप अधीक्षक नागेंद्र कुमार ने बताया थाना धिकारी सुरेश चंद मीणा सहित टीम ने डूंगला-बड़ी सादड़ी मार्ग स्थित आलोद मोड़ पर नाकाबंदी की इसी दौरान पुलिस ने नीमच की और से बड़ी सादड़ी राजस्थान की और से आ रही एक कार को रोकने का इशारा किया,तो चालक ने कार धीमी कर पुन: घुमाकर भगाने का प्रयास किया,लेकिन पुलिस ने घेरा डालकर कार रूकवा ली जिस पर कार में सवार दो व्यक्ति कार से उतरकर भाग गए,जबकि चालक अन्दर ही रह गया पुलिस ने चालक से नाम-पता पूछा तो उसने अपना नाम श्रवण पिता महीराम विश्नोई निवासी ग्राम बिरामी जिला जोधपुर व हाल मुकाम रोहट जिला पाली होना बताया पुलिस के पूछताछ से वह हडबडा गया।

इस पर शक हीने से पुलिस ने कार की तलाशी ली तो उसमें एक कार्टून व बैग में रखी 17 थैलियों में कुल 31 किलों 300 ग्राम अवैध मादक पदार्थ अफीम भरी पाई गई। पुलिस ने मौके पर ही कार्यवाही करते हुए कार चालक श्रवण को गिरफ्तार किया, और अफीम व कार भी जब्त कर ली ।

पुलिस ने आरोपी से पूछताछ की,तो उसने बताया कि वह जब्त की गई अफीम नीमच से लाए,व बाड़मेर जिले के सिवाना में इसकी आपूर्ति की जानी थी। उसने मौके से फरार हुए व्यक्तियों के नाम पाली जिले के रोहट निवासी पूनाराम विश्नोई व हुकमाराम विश्नोई होना बताया पुलिस ने इन दोनों को भी नामजद कर लिया ।

मामले की जांच बड़ी सादड़ी थाना प्रभारी कैलाशचन्द्र सोनी को सौंपी गई पुलिस जांच में कार में एक गुजरात पासिंग एवं एक पाली पासिंग नंबर की नंबर प्लेट भी मिली । जबकि कार पर उदयपुर पासिंग नंबर थे ।