चिंतन शिविर कल से, दाल-ढोकले सहित 9 राज्यों के होंगे व्यजन, शिविर से पहले पोस्टर सियासत, पायलट के पोस्टर हटाए ?

Dr. CHETAN THATHERA

उदयपुर/ देश में कांग्रेस के गिरते जनाधार को लेकर मंथन व चिंतन करने के लिए झीलों की नगरी उदयपुर में कल से 3 दिन तक आयोजित कांग्रेस का चिंतन शिविर शुरू होने वाला है । लेकिन इस चिंतन शिविर से पहले ही कांग्रेस में पोस्टर की सियासत शुरू हो गई है । सचिन पायलट के होल्डिंग्स और पोस्टर उनके समर्थकों द्वारा लगाए गए थे वह हटा दिए गए हैं ।

इसको लेकर सियासत और शहर में चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है कि चिंतन से पहले ही राजस्थान में कांग्रेसमें चल रही फूट और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत तथा पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच चल रहे राजनीतिक द्वंद एक बार फिर उभर कर सामने आ गया है।उधर दूसरी ओर शिविर की तैयारियां लगभग पूरी हो गई है ।शिविर में आने वाले पार्टी के नेताओं, पदाधिकारियों को राजस्थान सहित नौ राज्यों के व्यंजनों का स्वाद मिलेगा।

कल से उदयपुर में होने वाले चिंतन शिविर को लेकर पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के समर्थकों ने सचिन पायलट के फोटो सहित सोनिया गांधी राहुल गांधी प्रियंका गांधी सहित पार्टी के नेताओं के फोटो लगे हुए होल्डिंग्स और पोस्टर होटल एयरपोर्ट तथा शहर के चौराहों पर लगाए गए थे जिनको कल रात और आज सवेरे हटा दिया गया है। सचिन पायलट समर्थकों ने यह दावा किया है और समर्थकों का कहना है कि अन्य नेताओं के समर्थकों ने भी अपने फोटो के साथ चहेते नेताओं के पोस्टर शहर में लगाए हैं लेकिन उनमें से कुछ पोस्टरों को हटाया गया है और कुछ पोस्टर अभी भी लगे हुए हैं।

इन पोस्टर और होल्डिंग्स को हटाने को लेकर पायलट समर्थकों का आरोप है कि यह पोस्टर प्रशासन ने हटाए उधर दूसरी हो इस संबंध में प्रशासन का कहना है कि उन्होंने यह पोस्ट नहीं हटाए हैं यह पार्टी स्तर का मसला है तो दूसरी ओर इस सिलसिले में राजस्थान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा का कहना है इस चिंतन शिविर से संबंधित सारा कार्य अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी देख रही है।

मेहमानों को ढोकला थेपला लखा भी नवाब सहित इन राज्यों के मिलेंगे व्यंजन

चिंतन शिविर में कांग्रेस सुप्रीमो सोनिया गांधी राहुल गांधी प्रियंका वाड्रा के अलावा पार्टी के शीर्ष नेता अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारी सहित करीब देशभर से 600 से अधिक जनों के शामिल होने की संभावना है इस शिविर में आने वाले मेहमानों के लिए राजस्थान कर्नाटक उत्तर प्रदेश यूपी जम्मू कश्मीर गुजरात महाराष्ट्र बिहार और बंगाल के व्यंजन बनाए जाएंगे इनमें आलू पोस्टो ढोकला थेपला लिट्टी चोखा लखनऊ कबाब जैसे व्यंजनो का स्वाद मेहमानों को मिलेगा। तीन दिवसीय इस चिंतन शिविर की शुरुआत कल दोपहर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के भाषण के साथ शुरूआत होगी ।

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम