केंद्रीय विद्यालय के बाहर सैकड़ों वर्ष पुरानी बनी गुमटी से हो सकता है कभी भी बड़ा हादसा

  ऑटो चालक और अन्य वाहन चालक भी इस गुमटी में बैठकर भोजन करते हैं     भरतपुर (राजेन्द्र जती ) केंद्रीय विद्यालय के बाहर सैकड़ों वर्ष पुरानी बनी गुमटी हादसों को निमंत्रण दे रही है ,आए दिन इस गुमटी में से पत्थर गिरते रहते हैं । इस गुमटी में बैठकर स्कूल के बच्चे अपने …

केंद्रीय विद्यालय के बाहर सैकड़ों वर्ष पुरानी बनी गुमटी से हो सकता है कभी भी बड़ा हादसा Read More »

July 19, 2018 5:32 am

 

ऑटो चालक और अन्य वाहन चालक भी इस गुमटी में बैठकर भोजन करते हैं

 

 

भरतपुर (राजेन्द्र जती ) केंद्रीय विद्यालय के बाहर सैकड़ों वर्ष पुरानी बनी गुमटी हादसों को निमंत्रण दे रही है ,आए दिन इस गुमटी में से पत्थर गिरते रहते हैं । इस गुमटी में बैठकर स्कूल के बच्चे अपने परिजनों का इंतजार करते हैं साथ ही इस गुमटी के आसपास बच्चे घूमते रहते हैं । इतना ही नहीं स्कूल छोड़ने आने वाले ऑटो चालक और अन्य वाहन चालक भी इस गुमटी में बैठकर भोजन करते हैं और स्कूल की छुट्टी होने का इंतजार करते है ।यह गुमटी कभी भी गिर सकती है ।

 

हालांकि केंद्रीय विद्यालय प्रबंधन द्वारा कई बार इस गिरासू गुमटी की जानकारी जिला प्रशासन को दे दी गई है और इसे गिराने का आग्रह भी स्कूल प्रबंधन द्वारा किया जा चुका है लेकिन प्रशासन कोई भी कार्यवाही नहीं कर रहा है । शायद लगता है कि प्रशासन किसी बड़े हादसे का इंतजार कर रहा है । इस विद्यालय में सेना के जवानों के अलावा अधिकारियों और आमजन के भी बच्चे अध्ययन करने के लिए आते हैं और करीब करीब सभी अधिकारियों को इस गिरासू गुमटी की जानकारी है लेकिन इस गिरासू गुमटी को उतरवाने की प्रशासन द्वारा हिमाकत नहीं की जा रही है । इन दिनों बरसात का दौर चल रहा है और इसमें से धीरे धीरे पत्थर गिरते रहते हैं ।

 

कई बार हादसे होते होते भी बचे हैं । गर्मी में धूप से बचने और बरसात में पानी से बचने के लिए स्कूली बच्चे तथा अन्य लोग इस गुमटी में खड़े हो जाते हैं । हालांकि स्कूल प्रबंधन द्वारा बच्चों को इस गुमटी से दूर रखने के भरसक प्रयास किए जाते हैं फिर भी नजर बचते ही बच्चे इधर-उधर गुमटी के आसपास घूमते रहते हैं और इस में खेलते रहते हैं।

 

इस गुमटी को जल्द ही नहीं गिराया गया तो कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है । स्कूल के अध्यापकों के अलावा बच्चों के अभिभावक भी डरे सहमे से रहते हैं और स्कूल प्रबंधन को इसकी शिकायत करते हैं लेकिन कोई भी कार्यवाही नहीं होने से लोगों के मन में हमेशा डर बना रहता है ।

Prev Post

पुलिस और गौ तस्करों में मुठभेड़ ,दो बदमाशों को दबोचा , दो दर्जन से अधिक गौ वंश को कराया मुक्त

Next Post

स्कूल में पानी का टांका ढहने से मचा हड़कम्प

Related Post

Latest News

सचिन पायलट के विधायक जोड़ो अभियान को धक्का, जिन विधायकों से संपर्क किया वो सीएम के पास पहुंचे 
पटवारी 20 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों अरेस्ट
राजकुमार शर्मा को ब्रेन हेमरेज

Trending News

वसुंधरा राजे के बाद अब सतीश पूनिया ने भी की भी त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में पूजा-अर्चना
कांग्रेस के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष होंगे खड़गे,8 अक्टूबर को हो सकती घोषणा
राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी

Top News

सचिन पायलट के विधायक जोड़ो अभियान को धक्का, जिन विधायकों से संपर्क किया वो सीएम के पास पहुंचे 
टोंक शांति एवं सद्भावना समिति की बैठक आयोजित
जयपुर को मिली एबीवीपी के राष्ट्रीय अधिवेशन की मेजबानी, अमित शाह करेंगे उद्घाटन सत्र में शिरकत
विजयादशमी पर  जयपुर में 29 स्थानों पर संघ का पथ संचलन, शस्त्र पूजन व शारीरिक प्रदर्शन भी होंगे
वसुंधरा राजे के बाद अब सतीश पूनिया ने भी की भी त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में पूजा-अर्चना
टोंक जिला स्तरीय राजीव गांधी युवा मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित%%page%% %%sep%% %%sitename%%
Upload state insurance and GPF passbook in new version of SIPF
मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना से सुमन, रिजवाना बानो एवं दिनेश को मिली राहत
पटवारी 20 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों अरेस्ट
राजकुमार शर्मा को ब्रेन हेमरेज