बूंदी

नियम विरुद्ध पट्टा देने , फाइलों में कूटरचना करने के आरोप में चैयरमेन को एसीबी ने किया भगोड़ा घोषित, वारंट जारी

बूंदी। एसीबी बूंदी में 6 वर्ष पुराने नगर पालिका इंदरगढ़ से संबंधित मुकदमे मे एसीबी कोर्ट कोटा में चार्ज शीट प्रस्तुत कर दी है । एसीबी ने यह मुकदमा नियम विरुद्ध तरीके से प्रशासन शहरों के संग अभियान के दौरान पट्टे जारी करने को लेकर दर्ज किया था। तरुण कांत सोमानी उप अधीक्षक एसीबी बून्दी ने बताया कि इस मुकदमे में लाभार्थी सत्यनारायण शर्मा और शंकरलाल माली के अलावा नगर पालिका इंदरगढ़ के तत्कालीन अधिशासी अधिकारी भागीरथ पांचाल तत्कालीन चेयरमैन हेमलता महावर और कनिष्ठ लिपिक भीमराज रायका के विरुद्ध आरोप पत्र एसीबी कोर्ट कोटा में प्रस्तुत कर दिया है ।

अधिशाषी अधिकारी सहित 4 गिरफ्तार

मुकदमे में सत्यनारायण शर्मा शंकरलाल माली भीमराज रायका और भागीरथ पांचाल को दिनांक 27 नवंबर 2020 को गिरफ्तार किया था। तत्कालीन चेयरमैन हेमलता महावर फरार होने से एसीबी ने भगोड़ा घोषित करवाकर स्थायी गिरफ्तारी वारंट ले लिया है।

क्या है मामला

पट्टे बनवाने के लिए फाइलों में कूट रचना करने और स्टांप बदलने को लेकर अन्य धाराएं भी नियम अनुसार जोड़ी गई है। नगर पालिका इंदरगढ़ के अधिकारियों द्वारा शंकरलाल माली को सिवाय चक सेट ए पार्ट आरक्षित जमीन पर नियम विरूद्ध पट्टा जारी किया था और सत्यनारायण शर्मा को व्यवसायिक अतिक्रमण के विरुद्ध आवासीय पट्टा जारी कर लाभान्वित किया था जिससे राजस्व को नुकसान कारित हुआ था। हेमलता महावर विगत 3 महीने से अपनी सकुनत से फरार है। जिसकी एसीबी सघनता से तलाश कर रही है और संबंधित पुलिस थानों को भी फरार हेमलता महावर की तलाश के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं।

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.