The then collector of Alwar, Pahadia, from the collector's residence and RAS officer arrested for taking bribe of 5 lakhs
जयपुर राजस्थान

घूसखोर IAS पहाडिया व RAS साखंला के यहा मिली ,60 हजार की एक बोतल शराब कीमत की कई बोतलें

जयपुर/ भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की गिरफ्त मे आए घूसखोर IAS नन्नूमल पहाडिया और RAS अशोक साखंला के यहां एसीबी को दोनो के यहां तलाशी मे महंगी विदेशी शराब की बोतलें मिली जिसे देखकर एसीबी के अधिकारी भी चौंक गए ।

विदित है की अलवर के तत्कालीन कलेक्टर नन्नूमल पहाडिया और राजस्व अपीलय अधिकारी(RAA) अशोक साखंला ( RAS)को 16 लाख की मंथली के एवज मे बतौर 5 लाख की राशि अपने दलाल के जरिए लाते हुए रंगे हाथो गिरफ्तार किया था ।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने 23 अप्रैल को इन दोनों को 5 लाख रुपए की रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी के बाद जब दोनों अधिकारियों के घरों की तलाशी ली गई तो करोड़ों रुपए की सम्पत्तियों के कागजातों के साथ साथ 35 बोतल महंगी शराब की भी मिली।

एसीबी के अधिकारी उस समय चकित रह गए जब शराब की बोतलों की कीमत आंकी गई। एक बोतल की न्यूनतम कीमत 16 हजार और अधिकतम 60 हजार रुपए प्रति बोतल थी। एक बोलत में मात्र 750 एमएल शराब यानी पौन लीटर ही आती है।

जानकारों के अनुसार भारत में बनने वाली शराब की अधिकतम कीमत 25 हजार रुपए प्रति बोतल है। स्वभाविक है कि पहाडिय़ा और सांखला 60 हजार रुपए वाली विदेशी शराब भी पी रहे थे। जब इन दोनों अधिकारियों के पास से 60 हजार रुपए की कीमत वाली शराब मिली है तो इनके रईसी ठाट का अंदाजा लगाया जा सकता है।

The then collector of Alwar, Pahadia, from the collector's residence and RAS officer arrested for taking bribe of 5 lakhs

नन्नूमल पहाडिय़ा करीब डेढ़ वर्ष तक अलवर के कलेक्टर रहे। यदि पहाडिय़ा के कार्यकाल की जांच करवाई जाए तो पता चलेगा कि पिछले वर्ग के लोगों की जमीनें भी जबरन छीनी गई। पहाडिय़ा के अनेक रिश्तेदार अलवर में ही तैनात हैं। पहाडिय़ा जिस मामले में गिरफ्तार हुए हैं, वह तो सिर्फ एक कंपनी है। अलवर में न जाने ऐसी कितनी कंपनियां अथवा व्यक्ति होंगे, जिनसे प्रतिमाह राशि वसूली जा रही थी। यह एक कंपनी से प्रतिमाह पांच लाख की वसूली हो रही थी, तो प्रतिमाह वसूली का अंदाजा लगाया जा सकता है।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम