BJP wants to polarize by spreading religious frenzy, alleges PCC Chief
जयपुर राजस्थान

पीसीसी चीफ का आरोप, धार्मिक उन्माद फैलाकर ध्रुवीकरण करना चाहती है बीजेपी

जयपुर। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह कोटा सुधा ने एक बार फिर बड़ा हमला बोला है।
डोटासरा ने संघ मो दीमक करार देते हुए सबसे खतरनाक जीव बताया है। डोटासरा ने कहा कि आरएसएस देश में जहर घोलने का काम कर रहा है। पीसीसी चीफ ने आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि संघ हमेशा पर्दे के पीछे के रहकर राजनीति करता है। बीजेपी सिर्फ सरकार का मुखौटा होती है सत्ता पूरी तरीके से संघ के हाथों में होती है।

प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष ने कहा कि कल बीजेपी की हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस से नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया को बाहर रखा गया। इससे यह दर्शाता है कि भाजपा में सब कुछ ठीक नहीं है। भाजपा में आधा दर्जन से ज्यादा मुख्यमंत्री के चेहरे हैं जो आपस में ही एक दूसरे को नीचा दिखाने का काम करते हैं।

धार्मिक उन्माद फैलाकर ध्रुवीकरण करना चाहती है बीजेपी

डोटासरा ने कहा कि राजस्थान में कभी भी कांग्रेस ने एक भी मंदिर नहीं तोड़ा, जबकि राजगढ़ में बीजेपी के ही पालिका बोर्ड ने मंदिर तोड़ा और बीजेपी ही लोगों को गुमराह करने का काम कर रही है।पूर्ववर्ती वसुंधरा राज्य सरकार के समय 300 मंदिर तोड़ दिए गए थे। गुजरात में भी विकास के नाम पर कई कई मंदिरों को तोड़ा गया था लेकिन उस पर बीजेपी की चुप्पी बनी हुई है और राजस्थान में जबरन लोगों को बरगला का माहौल खराब कर रहे हैं।
बीजेपी राजस्थान में धार्मिक उन्माद फैलाकर ध्रुवीकरण करना चाहती है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में भाजपा शासित राज्यों से कहीं लाख बेहतर कानून व्यवस्था अच्छी है। प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष ने कहा कि बीजेपी ने ही मंदिर तोड़ा और बीजेपी ही मंदिर को लेकर आंदोलन कर रही है।

सुमेधानंद मूर्ति पूजा के विरोधी

वहीं सांसद सुमेधानंद की ओर से मंदिर निर्माण की मांग पर सवाल खड़े करते हुए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष ने कहा कि सांसद सुमेधानंद तो आर्य समाजी हैं और मूर्ति पूजा का विरोध करते हैंऐसे में यह किस मुंह से मंदिर की बात कर रहे हैं।

किरोड़ी को भाजपा नहीं लेती गंभीरता से

राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा को लेकर पीसीसी चीफ ने कहा कि किरोड़ी को बीजेपी ही गंभीरता से नहीं लेती है। वह तो केवल वसुंधरा राजे के नेतृत्व को क्रेश करना चाहते हैं। जब उन्होंने भाजपा छोड़कर अपनी पार्टी बनाई थी तो उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह के लिए क्या-क्या नहीं कहा था यह सबको पता है।

प्रधानमंत्री अपनी नाकामी का ठीकरा राज्य पर फोड़ रहे हैं

पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से वेट कम करने की अपील को लेकर कहा कि प्रधानमंत्री अपनी नाकामी का ठीकरा राज्यों पर फोड़ रहे हैं। प्रधानमंत्री पहले भी ऐसा करते हुए आए हैं। प्रधानमंत्री को पिछला आंकड़ा देखना चाहिए था। महंगाई जैसे मुद्दों पर भी गौर किया होता तो ठीक रहता तो उन्हें देश की जनता को बरगलाने की राजनीति की है। उन्होंने तो सेस लगा दिया जिससे हमने वेट जो वेट कम किया था उसका लाभ जनता को नहीं मिल पाया । पीसीसी चीफ़ ने कहा कि प्रधानमंत्री ने महंगाई कम करने का वादा जनता से किया था।किसानों की आमदनी दोगुना करने का वादा किया था लेकिन उन वादों का कुछ नहीं हुआ।
राजस्थान से 25 सांसद बीजेपी को दिए गए लेकिन उसके बावजूद भी बीजेपी के 25 सांसद एक भी फूटी कौड़ी राजस्थान को नहीं दिला पाए और ना ही ईस्टर्न कैनाल परियोजना को राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा दिला पाए। इसलिए यह किस मुंह से जनता की सेवा करने की बात करते हैं।

राहुल गांधी की बने कांग्रेस के अध्यक्ष

कांग्रेस चिंतन शिविर को लेकर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेसचिंतन शिविर की तैयारियां शुरू हो चुकी है। पहले भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ उन्होंने उदयपुर जा कर व्यवस्थाएं देखी थी उन्होंने कहा कि कांग्रेस के चिंतन शिविर से अमृत निकलेगा और हम 2024 में फिर से सत्ता में वापसी करेंगे । डोटासरा ने कहा कि हम सभी की इच्छा है कि राहुल गांधी को कांग्रेस का अध्यक्ष बनना चाहिए क्योंकि वही एक ऐसे व्यक्ति हैं जो प्रधानमंत्री मोदी के छक्के छुड़ा सकते हैं।

Sameer Ur Rehman
Editor - Dainik Reporters http://www.dainikreporters.com/