हरीश जाटव मामले में नए सिरे से हो रही जांच:पायलट

पत्रकारों से बातचीत में पायलट ने कहा कि उनके परिजनों ने कुछ मांगे रखी हैं और अलवर में नए पुलिस अधीक्षक की नियुक्ति की है जो इस मामले में जांच शुरू कर देंगे तथा जो भी जांच में दोषी होगा उनके खिलाफ  कार्रवाई की जाएगी

Fresh investigation in Harish Jatav case Pilot

अलवर

उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट बुधवार को अलवर जिले के टपूकड़ा इलाके के झिवाणा में मॉब लिंचिंग का शिकार हुए हरीश जाटव के परिवार से मिले और पीडि़त परिवार को ढांढस बंधाया। पत्रकारों से बातचीत में पायलट ने कहा कि उनके परिजनों ने कुछ मांगे रखी हैं और अलवर में नए पुलिस अधीक्षक की नियुक्ति की है जो इस मामले में जांच शुरू कर देंगे तथा जो भी जांच में दोषी होगा उनके खिलाफ  कार्रवाई की जाएगी।

इसमें कोई भी जाति का हो समुदाय का हो,कोई भी रसूखदार हो, कानून सबके लिए बराबर है और सजगता से तथा पारदर्शिता से इस मामले में नए सिरे से जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि परिजनों ने उनके सामने मांग रखी कि है एफ आईआर के अनुसार जांच हो।

उन्होंने सरकार की ओर से आश्वस्त किया है कि इस मामले में जांच में पारदर्शिता बरती जाएगी। परिजनों की ओर से अधिकारियों के हटाने की मांग के सवाल पर कहा कि अब नए सिरे से जांच हो रही है और जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ  सरकार सख्त कार्रवाई करेगी।

पीडि़त परिवार को आर्थिक सहायता दी गई है, जिला कलेक्टर और यहां के मंत्री को भी बोला है क्योंकि इनके छोटी चार बच्चियां हैं और परिवार की आजीविका के लिए आर्थिक संबल भी जरूरी है। उन्होंने कहा कि जिले में ऐसी कई घटनाएं हुई हैं जिसके लिए समाज को आत्मचिंतन करने की जरूरत है

गौरतलब है कि एक माह पहले झिवाना के पास फासल गांव में बाइक की टक्कर के बाद कुछ लोगों ने हरीश जाटव के साथ मारपीट कर दी थी जिसकी दिल्ली में सफ दरजंग अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई थी। हरीश  के पिता रतिराम जाटव ने भी 15 अगस्त को जहर खाकर खुदकुशी कर ली थी।

पहलू खान मामले में कहा कि  सरकार ने एसआईटी का गठन कर जांच सौंपी गई है,अगर सही समय पर सही तथ्यों के आधार पर जांच की जाती तो ऐसी स्थिति पैदा नहीं होती।