निरंजन आर्य का है बीकानेर से पुराना नाता, पत्थर के खंभे लगाने पर आज भी याद करते हैं

Bikaner News। राजस्थान के नए मुख्य सचिव बने निरंजन आर्य आज से 21-22 वर्ष पूर्व बीकानेर कलेक्टर रह चुके हैं। पत्थर के खंभे लगाने का कार्य तत्कालीन कलेक्टर रहे निरंजन आर्य ने ही यहां कराया था जिसके लिए वे आज भी याद किए जाते हैं। जैसलमेर में कलेक्टर रहने के बाद बीकानेर कलेक्टर का चार्ज …

निरंजन आर्य का है बीकानेर से पुराना नाता, पत्थर के खंभे लगाने पर आज भी याद करते हैं Read More »

November 1, 2020 6:29 pm

Bikaner News। राजस्थान के नए मुख्य सचिव बने निरंजन आर्य आज से 21-22 वर्ष पूर्व बीकानेर कलेक्टर रह चुके हैं। पत्थर के खंभे लगाने का कार्य तत्कालीन कलेक्टर रहे निरंजन आर्य ने ही यहां कराया था जिसके लिए वे आज भी याद किए जाते हैं। जैसलमेर में कलेक्टर रहने के बाद बीकानेर कलेक्टर का चार्ज संभालने वाले आर्य ने ऐतिहासिक जूनागढ़ किले के पास जैसलमेर स्टाइल के खंभे लगाए, इस दौरान जूनागढ़ की रंगत भी नई देखने को मिली। इसके अलावा पूर्व मंत्री भीमसेन चौधरी सर्किल जो पहले उरमूल सर्किल हुआ करता था वहां बना मुख्य चौराहा और वहां हुआ पत्थर का काम भी सबसे पहले निरंजन आर्य के कार्यकाल में ही हुआ था। 20-22 वर्षों मेें हालांकि बीकानेर काफी बदल चुका है लेकिन आज भी आर्य यहां के लोगों को अच्छे से जानते हैं।

बीकानेर कार्यकाल के दौरान आर्य ने सूरसागर का जीर्णोद्धार भी कराया था साथ ही साथ उसी समय छत्तरगढ़ को भी तहसील का दर्जा मिला था। कांग्रेस नेता, बीकानेर व्यापार उद्योग मंडल के संरक्षक शिवरतन अग्रवाल, कन्हैयालाल बोथरा सरीखे पदाधिकारी कहते हैं कि एक युवा प्रशासनिक अधिकारी के तौर पर आर्य ने कलक्टर का कार्यभार संभाला था और विकास की गंगा बहायी थी शहर में और आज वही अधिकारी राजस्थान में प्रशासनिक अधिकारियों के मुखिया के तौर पर कार्यभार देखेगा।

Prev Post

राजस्थान में एक पारी स्कूलों का समय सोमवार से बदलेगा

Next Post

कर्नल कर रहे थे खेल मंत्री से बात, गुर्जर युवक उखाडऩे लगे रेल पटरियों की फिशप्लेटें

Related Post

Latest News

गहलोत कल मिलेंगे सोनिया से,राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए कल नहीं भरे जाऐंगे नामांकन, क्यों
देश को 9 माह बाद मिला नया CDS 
राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर

Trending News

प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know

Top News

प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
गहलोत कल मिलेंगे सोनिया से,राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए कल नहीं भरे जाऐंगे नामांकन, क्यों
देश को 9 माह बाद मिला नया CDS 
राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर
बच्चियों को कहा मत दो वोट,पाकिस्तान चली जाओ -IAS हरजोत कौर
राजस्थान शिक्षा विभाग- घोटालेबाज बाबू डेढ माह से नही आ रहा ड्यूटी पर लापता, DEO बचा रहे है या... ?
राजस्थान शिक्षा विभाग- लाखों का घोटाला फिर भी अब तक दोषी प्रिंसिपल पर कार्यवाही क्यो ?
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know