शिक्षा विभाग – राजस्थान में अब 5+3+3+4 की नई शिक्षा नीति

Bikaner News। राजस्थान मे शिक्षा विभाग के शिक्षा के वर्तमान व्यवस्था मे बदलाव होगा और नई शिक्षा नीति लागू होगी इसका मसौदा अंतिम चरण मे है । नई शिक्षा नीति 10+2 के स्थान पर अब 5+3+3+4 की होगी।। शिक्षा निदेशक सौरभ स्वामी(आईएएस) ने नई शिउक्षा नीति के बारे मे संक्षिप्त जानकारी देते हुए बताया की …

शिक्षा विभाग – राजस्थान में अब 5+3+3+4 की नई शिक्षा नीति Read More »

July 10, 2021 12:47 pm

Bikaner News। राजस्थान मे शिक्षा विभाग के शिक्षा के वर्तमान व्यवस्था मे बदलाव होगा और नई शिक्षा नीति

लागू होगी इसका मसौदा अंतिम चरण मे है । नई शिक्षा नीति 10+2 के स्थान पर अब 5+3+3+4 की होगी।।

शिक्षा निदेशक सौरभ स्वामी(आईएएस) ने नई शिउक्षा नीति के बारे मे संक्षिप्त जानकारी देते हुए बताया की अब

सरकारी स्कूलों में भी प्री प्राइमरी कक्षाएं प्रारंभ करने की तैयारी है।

इस कक्षा को बालवाटिका नाम दिया जाएगा। नई शिक्षा नीति में 10+2 के स्थान पर 5+3+3+4 का प्रावधान किया जाएगा। शिक्षा विभाग ने भी नए प्रावधानों के आधार पर तैयारी प्रारंभ कर दी है।

क्या होगा नया स्वरूप

स्वामी ने बताया की नए प्रावधानों के अनुसार 3 से 8 साल तक के बच्चों के लिए फाउंडेशन स्टेज होगा इसमें दो साल आंगनबाड़ी के होंगे। इसके बाद एक साल बालवाटिका का और फिर पहली और दूसरी कक्षा होगी। यह तीनों कक्षाएं स्कूल में संचालित होगी।

इसके बाद तीन साल तीसरी से पांचवीं तक, तीन साल छठी से आठवीं तक और 4 साल नवीं से बारहवीं तक का प्रावधान रहेगा।

बालवाटिका के लिए इनकी होगी भूमिका

बालवाटिका के लिए महिला बाल विकास विभाग की ओर से प्रशिक्षण देकर शिक्षा विभाग की मांग के अनुसार शिक्षक उपलब्ध कराए जाने का प्रावधान रखा जाएगा। इससे सरकारी स्कूलों में भी प्री प्राइमरी कक्षाएं प्रारंभ हो सकेंगी। हालांकि शिक्षा विभाग के सामने प्री प्राइमरी के लिए योग्य शिक्षकों की कमी रहेगी। इसके लिए उसे महिला बाल विकास विभाग के भरोसे रहना पड़ेगा।

प्रदेश मे आंगनबाड़ी की स्थिति

प्रदेश में वर्तमान में 61613 आंगनबाड़ी केंद्र संचालित है। इनमें से 18565 आंगनबाड़ी केंद्र पहले से ही स्कूलों में चल रहे हैं। अन्य में 25810 विभागीय भवन में और 10553 किराए के भवनों में चल रहे हैं।

इनकी जुबानी

Sourbh swami
File photo – Sourbh swami

बालवाटिका स्कूल में चलेगी। इससे सरकारी स्कूलों में भी प्री प्राइमरी कक्षाएं संचालित हो सकेंगी। इसके लिए शिक्षकों की व्यवस्था का काम पूर्व प्राथमिक शिक्षक भर्ती के जरिए महिला बाल विकास विभाग का रहेगा।
सौरभ स्वामी(आईएएस), निदेशक, माध्यमिक शिक्षा

Prev Post

भीलवाड़ा में राज्यपाल के क्षेत्र के एक गांव मे पीने का मीठा पानी नही, गांव का हर 5 वां शख्स चर्म रोगी

Next Post

जल जीवन मिशन : थार के रेगिस्तान में अब घर-घर मन रहा जल उत्सव

Related Post

Latest News

राजस्थान का अगला पायलट होंगे डाॅ जोशी ? सचिन नहीं, आलाकमान झुकेगा या 70 साल पहले का इतिहास दोहराया जा सकता, पढ़े खबर
टोंक के पचेवर ग्राम विकास अधिकरी 15 हज़ार रुपए लेते ट्रेप,पीएम आवास योजना की दूसरी किश्त जारी करने की एवज में मांग रहा था 20 हज़ार की घुस,
राजस्थान कांग्रेस में घमासान-अब गहलोत पर सकंट, ऑब्जर्वर लौटे, गहलोत व सचिन तलब,आलाकमान गहलोत से नाराज

Trending News

भीलवाड़ा में गुटखा व्यापारी का दिनदहाडे अपहरण, 5 करोड़ फिरौती मांगी, 3 हिरासत में 
ब्रश, स्पंज और उंगलियों से लिक्विड फाउंडेशन कैसे लगाएं
आपके जीवन में स्वस्थ कितना जरुरी हैं और आहार क्या है, फायदे और डाइट चार्ट
बोलेरो को ट्रेलर ने मारी टक्कर तीन की मौत दो बच्चों सहित पांच गम्भीर घायल, भीलवाड़ा रैफर

Top News

ACB का धमाका - PHED का चीफ इंजीनियर और दलाल 10 लाख रिश्वत लेते गिरफ्तार
जी 6 के विधायकों का गहलोत कैंप पर तीखा हमला, कहा- 'आलाकमान को आंख दिखाने वालों पर हो कार्रवाई'
मंत्री धारीवाल ने माकन के वक्तव्य पर किया पलटवार, माकन और आलाकमान को किया कटघरे में खड़ा
कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए आ सकता है नया नाम, कौन, जानें पढ़े ख़बर 
राजस्थान का अगला पायलट होंगे डाॅ जोशी ? सचिन नहीं, आलाकमान झुकेगा या 70 साल पहले का इतिहास दोहराया जा सकता, पढ़े खबर
टोंक के पचेवर ग्राम विकास अधिकरी 15 हज़ार रुपए लेते ट्रेप,पीएम आवास योजना की दूसरी किश्त जारी करने की एवज में मांग रहा था 20 हज़ार की घुस,
राजस्थान कांग्रेस में घमासान-अब गहलोत पर सकंट, ऑब्जर्वर लौटे, गहलोत व सचिन तलब,आलाकमान गहलोत से नाराज
राजस्थान के सियासी घटनाक्रम से नाराज कांग्रेस आलाकमान ने प्रभारी अजय माकन से मांगी रिपोर्ट
टोंक में सड़क हादसे में 4 की मौत, कोटा एलन कोचिंग के छात्र हरिद्वार घूमने निकले थे, बाड़ा तिराहे पर हुआ हादसा
राजस्थान में बड़ा सियासी घटनाक्रम, गहलोत समर्थक 92 विधायकों ने दिया इस्तीफा