शिक्षा विभाग – संस्था प्रधान और शिक्षक होंगे सम्मानित,निदेशक अग्रवाल का नवाचार,और..

Education Department - Quality education, focus on timely recruitment, laxity in work and complaints are not tolerated - Director Aggarwal
फाइल फोटो -टोंक कलक्टर गौरव अग्रवाल

बीकानेर/ शिक्षा विभाग ने इस बार नए शैक्षणिक सत्र ने एक और नवाचार किया है इसके तहत इस बार अच्छे परिणाम देने वाले स्कूल के संस्था प्रधान और शिक्षकों को सम्मानित किया जाएगा तथा टॉपर विद्यार्थियों के फोटो विद्यालयों में लगाए जाएंगे।

शिक्षा निदेशक गौरव अग्रवाल आईएएस ने बताया कि विभाग द्वारा विद्यार्थियों का उत्साह वर्धन बढ़ाने तथा विद्यालयों के संस्था प्रधान और शिक्षकों को भी प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से इस नए शैक्षणिक सत्र से कुछ नवाचार करने का निर्णय किया है और इस संबंध में एक गाइडलाइन भी जारी कर दी गई है।

निदेशक गौरव अग्रवाल ने बताया कि गाइडलाइन के तहत नए सेशन में 10 वीं और 12वीं बाेर्ड परीक्षाओं में सर्वाधिक अंक हासिल करने वाले विद्यार्थियों की फाेटाे स्कूलाें में लगाई जाएगी। विद्यार्थियाें में इससे प्राेत्साहन मिलेगा।

विभाग की ओर से बाेर्ड परीक्षाओं में शत-प्रतिशत रिजल्ट देने वाले शिक्षकाें काे सम्मानित किया जाएगा। तथा सेशन 2022-23 में किसी भी प्राथमिक, उच्च प्राथमिक, माध्यमिक अथवा उच्च माध्यमिक स्कूल के नामांकन में अप्रत्याशित कमी आने पर जिम्मेदारी तय की जाकर आवश्यक प्रशासनिक कार्रवाई की जाएगी।

प्रवेशाेत्सव में इस बार क्या होगा

1– वार्डवाइज निर्वाचन नामावाली से तलाश करेंगे नामांकन।

2– दाे सदस्य टीम गठित कर अपने ब्लाॅक के कम से कम 10 फीसदी स्कूलाें का रैंडम वैरीफिकेशन हाेगा।

3– प्रवेशाेत्सव के दाैरान 15 जुलाई तक स्कूलाें की ओर से कम से कम दाे बार प्रभातफेरी निकाली जाए।

4– प्रत्येक स्कूल, सीआरसी स्तर पर नामांकन के लिए उत्कृष्ट कार्य करने वाले शिक्षकों का सम्मान।

5– प्रत्येक पंचायत समिति, पालिका में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 3 संस्था प्रधानाें का उपखंड स्तर पर सम्मान।

6– श्रेष्ठ कार्य करने वाले 5 संस्था प्रधान, शिक्षकाें काे जिला स्तर पर सम्मान। 

7– राज्य स्तर पर प्रत्येक जिले से एक संस्था प्रधान का सम्मान।

8– ब्लाॅक के सर्वाधिक नामांकन वाले दाे राउमावि, एक रामावि, एक राउप्रावि व राप्रावि काे अतिरिक्त अनुदान।

9– कक्षा 10 और 12 में सर्वाधिक अंक हासिल करने वाले विद्यार्थियों के फाेटाे स्कूलाें में लगेंगे। 

10– शत प्रतिशत रिजल्ट देने वाले संस्था प्रधानाें काे भी सम्मानित किया जाएगा।