बीकानेर में कोरोना के साथ डेंगू पसार रहा पांव

Dengue

Bikaner News। राजस्थान के बीकानेर में कोरोना के साथ अब डेंगू ने पांव पसारने शुरू कर दिए हैं। पिछले कुछ दिनों में शहर की अधिकांश डिस्पेंसरी में डेंगू के रोगी आ रहे हैं, इनमें भी बच्चों की संख्या ज्यादा है। हालांकि मलेरिया रोगियों की संख्या पिछले सालों के मुकाबले अभी तक इस बार कम ही रही है। शहर की डिस्पेंसरियों के चिकित्सकों का कहना है कि प्रतिदिन चार से पांच रोगी डेंगू के मिल रहे हैं। इनमें बच्चों की संख्या अधिक है। वहीं पीबीएम अस्पताल के शिशु चिकित्सालय के डॉक्टरों ने भी बताया कि डेंगू के रोगी लगातार पहुंच रहे हैं।

 
शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ घनश्याम सिंह सेंगर ने बताया कि अस्पताल में अभी भी पांच-सात बच्चे डेंगू के कारण भर्ती भी है। अधिकांश रोगियों को घर पर ही इलाज दिया जा रहा है। ज्यादा गंभीर होने पर या प्लेटलेट्स पचास हजार से भी कम होने पर रोगी को भर्ती किया जा रहा है। डॉ सेंगर ने बताया कि अक्टूबर माह में डेंगू के मामले अधिक आते हैं लेकिन इस बार नवम्बर मध्य तक डेंगू के रोगी कम नहीं हुए हैं। उधर जानकारी के अनुसार बीकानेर में आमतौर पर मलेरिया से बड़ी संख्या में लोगों की मौत होती है लेकिन इस बार मलेरिया कम है। इसका बड़ा कारण कोरोना के कारण मेलों पर लगी रोक है। रामदेवरा मेले के बाद बीकानेर में मलेरिया के रोगी बढ़ते थे लेकिन इस बार ऐसा नहीं हुआ क्योंकि मेला ही नहीं भरा। वहीं कोरोना के कारण लोगों का आवागमन भी काफी कम है।
 
मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बीएल मीना  कहते हैं-  डेंगू के रोगी आ रहे हैं। लेकिन इनकी संख्या बहुत ज्यादा विस्फोटक नहीं है।