भीलवाड़ा राजस्थान

भीलवाड़ा में भगवान की बारात पर पुलिस लाठीचार्ज का मामला पकडने लगा तूल,कल कोटडी बंद , हिन्दू संगठनो की बनी समिति

भीलवाड़ा/ भीलवाड़ा में निकटवर्ती कोटडी ग्राम स्थित चारभुजा नाथ के मंदिर से भगवान चारभुजा नाथ का बेवाण अर्थात भगवान अपने भक्तों के बारात सहित भीलवाड़ा में आयोजित तुलसी माता संघ विवाह रचाने के लिए आ रहे थे और इसी दौरान भीलवाड़ा शहर की सीमा में तिलक नगर चौराहे पर पुलिस प्रशासन द्वारा भगवान की बारात अर्थात शोभा यात्रा को रोकने की कोशिश और श्रद्धालुओं पर लाठीचार्ज करने तथा इस मामले में भाजपा के दो विधायक तथा नगर परिषद सभापति सहित 33 भक्तों के खिलाफ मामला दर्ज करने का मामला तूल पकड़ने लगा है ।

हिंदू संगठनों द्वारा पुलिस प्रशासन के खिलाफ विरोध के स्वर मुखर होने लगे हैं । इस घटना को लेकर कोटडी चारभुजा नाथ मंदिर में आज समस्त चोखला की बैठक आयोजित की गई इस बैठक में चोखला के सभी लोगों ने पुलिस के इस कृत्य की घोर निंदा करते हुए कल कोटडी के बाजार बंद रखने का निर्णय लिया है ।

उधर दूसरी ओर नव संवत्सर पर निकाली गई शोभायात्रा के दौरान जिला प्रशासन द्वारा करीब 200 से अधिक हिंदू संगठनों के प्रमुखों को दिए गए नोटिस के बाद उनको पाबंद करने की तैयारी कर ली है ।

इधर दूसरी ओर शोभा यात्रा के दौरान लाठीचार्ज ,भाजपा विधायकों और सभापति सहित 33 श्रद्धालुओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने तथा नव संवत्सर पर जारी की गई नोटिसों और हिंदू संगठनों के त्यौहार के दौरान पाबंदियां लगाने के निर्देशों को लेकर हिंदू संगठनों ने आज एक समिति का गठन किया है यह समिति अब अगली रणनीति पर कार्य करेगी इस समिति की समाचार लिखे जाने तक बैठक जारी थी

दूसरी और जिला प्रशासन का कहना है की कोटड़ी श्याम संग तुलसी विवाह के उपलक्ष में कोटड़ी से श्रृंग ऋषि आश्रम तक शोभायात्रा का कार्यक्रम प्रस्तावित था।आयोजक हरणी महादेव रोड निवासी किशन लाल शर्मा द्वारा कार्यक्रम की अनुमति हेतु प्रार्थना-पत्र पेश कर कोटड़ी से आने वाली कोटड़ी श्याम की शोभायात्रा में अहिंसा सर्कल से सीधे श्रृंग ऋषि आश्रम जाने एवं कोटड़ी श्याम के बेवाण को अहिंसा सर्किल से सांगानेरी गेट (झलकारी बाई सर्किल) से शहीद चौक होते हुए चारभुजानाथ मंदिर व वापस चारभुजानाथ मंदिर से सांगानेरी गेट होते हुए अहिंसा सर्कल तक 50 व्यक्तियों, 01 बैण्ड, 05 ढोलवादक व 02 घोड़े मय बग्गी चाही गई थी ।

उक्त आवेदन पर प्रशासन द्वारा आयोजकों के आवेदनानुसार अनुमति जारी की गई एवं आवेदित रूट पर पुलिस/नगर परिषद द्वारा सुगम तरीके से शोभायात्रा निकाले जाने बाबत समुचित व्यवस्था की गई।

जिला प्रशासन के अनुसार कोटड़ी से शोभायात्रा के अहिंसा सर्किल होते हुए सिद्धि विनायक सर्किल पहुंचने पर कुछ लोगों द्वारा आवेदित अनुमति से अधिक संख्या में शोभायात्रा के साथ सांगानेरी गेट की ओर प्रस्थान का प्रयास किया गया, जिस पर पुलिस/प्रषासन द्वारा शोभायात्रा में शामिल व्यक्तियों से शांतिपूर्वक तरीके से समझाईष की जाकर शोभायात्रा/बेवाण को सिद्धि विनायक सर्किल से सांगानेरी गेट की ओर प्रस्थान कराया गया।
शोभायात्रा के सिद्धि विनायक सर्किल से सांगोनरी गेट तक पहुंचने एवं अग्रसर होने के दौरान काफी संख्या में लोग शोभायात्रा से जुडे़ एवं बड़े मंदिर पहुंचे, उस दौरान पुलिस/प्रशासन द्वारा समुचित व्यवस्था की जाकर सुगमतापूर्वक शोभायात्रा को बड़े मंदिर पहुंचाया गया। बड़े मंदिर पर आरती के उपरान्त तत्समय मौजूद कतिपय लोगों द्वारा पूर्व आवेदित (तदनुसार प्रषासन द्वारा अनुमत) रूट के विरूद्ध जाकर शोभायात्रा को गुलमंडी, भीमगंज एवं शहर के अंदर से ले जाने का अनुचित प्रयास/हठ किया गया। परन्तु आयोजकों द्वारा आयोजन पूर्व ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं होने के कारण शोभायात्रा में सम्मिलित हजारों की संख्या में लोग, हाथी-घोड़े इत्यादि को ले जाने की व्यवस्था पुलिस/नगर परिषद द्वारा नहीं की गई थी।

इसके बावजूद भी मौके पर मौजूद लोगों के आग्रह तथा शहर की तंग गलियों में हाथी-घोड़ों के व्यथित नहीं होने के उद्धेष्य से मौके पर मौजूद अधिकारियों द्वारा त्वरित रूप से व्यवस्था की जाकर शहर की शांति व कानून-व्यवस्था बनाए रखने के हेतु संयम बरतते हुए शहर के अंदर विभिन्न मार्गो से होते हुए शोभायात्रा गंतव्य स्थल पर ससम्मान शांतिपूर्वक तरीके से पहुंचाई गई।

 

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम