विधायक जाट का ऑडियो बना वायरल करने वाली तहसीलदार झा स्वंय विवादों में,50 हजार रिश्वत का आरोंप, पति ने सरकारी आवास शराब पार्टी

फोटोग्राफ्स आज सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे हैं हालांकि दैनिक रिपोर्टर्स डॉट कॉम इस वायरल हो रहे फोटोज की पुष्टि नहीं करता है

Bhilwara।भीलवाड़ा जिले की मांडल विधानसभा से कांग्रेस के वर्तमान विधायक तथा पूर्व मंत्री भीलवाड़ा डेयरी के चेयरमैन और राजस्थान कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष रामलाल जाट का ऑडियो बनाकर वायरल करने वाली तहसीलदार स्वाति झा स्वयं विवादों की में फंसी हुई है ।

अब झा के खिलाफ जहां बार एसोसिएशन, सर्व समाज और कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मोर्चा खोल दिया है तो वहीं आने वाले दिनों में पंचायती राज के जनप्रतिनिधि भी झा के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले हैं।

वहीं दूसरी ओर तहसीलदार स्वाति झा पर विधवा वृद्धा ने 50000 की रिश्वत मांगने और तहसील कार्यालय से दुर्व्यवहार करते हुए उसे बाहर निकालने का संगीन आरोप लगाया है ।

यह आरोप गहलोत सरकार को भी कटघरे में खड़ा करता है क्योंकि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत गरीबों के हितों के प्रति काफी गंभीर हैं । इसी तरह सोशल मीडिया पर स्वाति झा के पति द्वारा पत्नी के सरकारी आवास में शराब पार्टी करने के फोटोग्राफ तेजी से वायरल हो रहे हैं ।

भीलवाड़ा जिले की हुरडा तहसील में पद स्थापित तहसीलदार स्वाति झा और राजस्थान सरकार के पूर्व मंत्री तथा राजस्थान कांग्रेस पार्टी के उपाध्यक्ष और मांडल के विधायक रामलाल जाट के बीच एक विधवा वृद्धा लाली देवी के जमीन का नामांतरण के मामले को लेकर विवाद हो गया ।

जब विधायक विधवा ने नकल नहीं देने की तहसीलदार स्वाति को शिकायत की लेकिन स्वाति झा ने अपने आदतन व्यवहार के चलते विधायक जाट से बातचीत की दूसरे मोबाइल से वीडियो और ऑडियो रिकॉर्डिंग करवाई और इसे वायरल कर दी और पिछले 5 दिन से भीलवाड़ा सहित पूरे राजस्थान में यह विवाद जबरदस्त चर्चा में है और मामला मुख्यमंत्री अशोक गहलोत तक भी पहुंच चुका है ।

स्वाति झा के आचरण और व्यवहार को लेकर गुलाबपुरा बार एसोसिएशन ने मोर्चा खोलते हुए तहसीलदार स्वाति के खिलाफ कार्यवाही नहीं करने पर कार्य के बहिष्कार की चेतावनी दी है ।

तो वहीं दूसरी ओर सर्व समाज के सैकड़ों लोगों ने और बार एसोसिएशन ने स्वाति झा पर रिश्वत वसूलने वकीलों से दुर्व्यवहार करने जनप्रतिनिधि और आम जनों से बदतमीजी करने जैसे कई संगीन आरोप लगाते हुए।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से तहसीलदार के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर सेवा से बर्खास्त करने की मांग की है । हालाकी तहसीलदार के पक्ष मे तहसीलदार सेवा परिषद ने भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से विधायक रामलाल जाट की शिकायत करते हुए कार्यवाही की मांग की है

और तहसीलदार स्वाति ने भी विधायक की सिफारिश पर राजस्व मंडल द्वारा एपीओ करने के खिलाफ हाईकोर्ट की शरण लेते हुए एपीओ पर स्टे ले लिया है

अब तहसीलदार स्वाति के खिलाफ यह भी खोलेंगे मोर्चा

अब भीलवाड़ा जिले के पंचायती राज के अधिकांश जनप्रतिनिधि विशेषकर मांडल और हुरडा आदि क्षेत्र के पंचायती राज विभाग के जनप्रतिनिधि हुरडा तहसीलदार स्वाति झा के खिलाफ मोर्चा खोलने की तैयारी में है ।

विधवा वृद्धा ने तहसीलदार पर लगाया यह संगीन आरोप

इस पूरे विवाद की शुरुआत जिस विधवा से शुरू हुई उस विधवा वृद्धा महिला लाली देवी ने हुरडा तहसीलदार स्वाति झा पर उसकी जमीन का नामांतरण खोलने के मामले में उससे तहसीलदार स्वाति द्वारा ₹50000 की रिश्वत मांगने और तहसील कार्यालय से दुर्व्यवहार करते हुए बाहर निकालने जैसे संगीन आरोप लगाए हैं और इस संगीन आरोप का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर आज वायरल हो रहा है

हालांकि दैनिक रिपोर्टस डॉट कॉम इस वीडियो की पुष्टि नहीं करता है लेकिन वृद्धा विधवा का यह वीडियो उस वृद्धा की पीड़ा को बयां कर रहा हैं ।

वही राजस्थान के जननायक और गरीबों के हितेषी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को भी कटघरे में खड़ा कर रहा है वृद्धा का यह वीडियो ।

तहसीलदार स्वाति का पति सरकारी आवास में कर रहा शराब पार्टी

एक कहावत है सैंया भए कोतवाल तो अब डर काहे का इसी तर्ज पर यह कहावत बनी है की पत्नी तहसीलदार तो फिर डर काहे का और इसी तर्ज पर हुरडा तहसीलदार स्वाति झा के पति अपनी तहसीलदार पत्नी के सरकारी आवास पर शराब पार्टी कर रहे हैं ।

इसके फोटोग्राफ्स आज सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे हैं हालांकि दैनिक रिपोर्टर्स डॉट कॉम इस वायरल हो रहे फोटोज की पुष्टि नहीं करता है लेकिन सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे यह फोटो तहसीलदार झा पर लगाए गए आरोपों और दुर्व्यवहार एव कार्य प्रणाली की ओर संकेत दे रहे हैं ।

कांग्रेस के युवा नेता का सपोर्ट झा को..

हुरडा तहसीलदार स्वाति झा को जिले के ही एक युवा कांग्रेसी नेता का सपोर्ट बताया जाता है और सूत्रों का तो यह भी कहना है कि इन्हीं युवा कांग्रेस नेता की सिफारिश पर तहसीलदार स्वाति का तबादला विजयनगर के बाद हुरडा तहसील में किया गया था

पति ने छोड़ी सुप्रीम कोर्ट में प्रैक्टिस और लग गए…

विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक तहसीलदार स्वाति झा के पति महाशय पहले सुप्रीम कोर्ट में प्रैक्टिस करते थे और लव मैरिज के बाद पत्नी की नौकरी लगने के बाद उन्होंने प्रैक्टिस छोड़ दी और पत्नी की सेवा में लग गए।

Previous articleRamdev reacts, dares IMA to take action against Aamir Khan
Next article1 करोड़ की शराब पकड़ी ,12 गिरफ्तार
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम