CGST action on cloth traders in Bhilwara, theft of lakhs caught
भीलवाड़ा राजस्थान

रायपुर गढ में उर्स को लेकर दोनो समुदायों में तनातनी, कहीं विवाद न बढ जाए,हिन्दू संगठनों ने दी अनिश्चितकालीन धरने

भीलवाड़ा/ जिले के रायपुर कस्बे में स्थित गढ़ में एक विवादित नजूल संपत्ति परिसर में मुस्लिम समुदाय द्वारा हर साल की तरह इस साल भी 3 दिन बाद आयोजित किए जाने वाले उर्स के आयोजन को लेकर तनातनी शुरू हो गई है ।

और हिंदू संगठनों ने रायपुर उपखंड अधिकारी की मौजूदगी में दोनों ही समुदाय के बीच हुए समझौते का मुस्लिम समुदाय द्वारा उल्लंघन कर विवादित परिसर में उर्स का आयोजन करने को लेकर आक्रोश व्याप्त है और आज ही संबंध में जिला कलेक्टर को ज्ञापन देकर परिसर में उसके आयोजन को रोकने की मांग की है और कुछ नहीं रोके जाने पर अनिश्चितकालीन धरने की चेतावनी दी है।

जिले के रायपुर क्षेत्र में स्थित रायपुर गढ़ में स्थित सरकारी नजूल संपत्ति है और इस संपत्ति पर हिंदू संगठन और मुस्लिम समुदाय द्वारा अपना अपना हक बताया जा रहा है और इसी को लेकर रायपुर के ग्राम वासियों ने हाई कोर्ट जोधपुर में एक पब्लिक लैंड प्रोडक्शन सेल के तहत एक जनहित याचिका नरेंद्र सिंह कोठारी बनाम स्टेट ऑफ राजस्थान डीबी सिविल पीआईएल याचिका नंबर 4456/2022 दायर है और इस याचिका पर हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

उधर इस नजूल संपत्ति पर हर साल मुस्लिम समुदाय द्वारा उत्सव का आयोजन किया जाता है।

SDM की मौजूदगी मे क्या हुआ समझौता

इस नजूल संपत्ति पर आयोजनों को लेकर सांप्रदायिक तनाव पैदा होने की स्थितियां बनी रहती है इसी को लेकर रायपुर के उपखंड अधिकारी की अध्यक्षता में 14 मार्च 2022 को दोनों ही समुदायों हिंदू और मुस्लिम के प्रबुद्ध लोगों के साथ एक बैठक हुई और इस बैठक में जिसमें हुए निर्णय में महत्वपूर्ण निर्णय था कि उस नजूल संपत्ति के परिसर में पढ़े हुए ।

मुस्लिम समुदाय के सामान बर्तन आदि पर 5 दिन में वहां से हटा लेंगे तथा किसी भी समुदाय हिंदू और मुस्लिम का कोई भी आयोजन उस परिसर में नहीं होगा तथा किसी की मन्नत है तो 5 आदमी अंदर जाकर उस मन्नत को पूरी कर सकेंगे और इस विवादित परिसर में किसी भी प्रकार का कोई भी धार्मिक सामाजिक कार्यक्रम उर्स मेला आदि आयोजित नहीं होंगे और इस निर्णय सहमति पर दोनों ही समुदायों की ओर से स्वीकृति दी गई और हस्ताक्षर किए गए थे।

अब विवाद क्यो

उपखंड अधिकारी की अध्यक्षता में बनी सहमति के बाद अब मुस्लिम समुदाय के द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से यह प्रचारित किया गया कि 11 नवंबर से 13 नवंबर तक उक्त नजूल संपत्ति जो विवादित है मैं हर साल की तरह उस का आयोजन किया जाएगा और कव्वाली कार्यक्रम होगा।

इस संदेश के बाद हिंदू संगठनों में नाराजगी हो गई और उन्होंने इस पर आपत्ति जताते हुए 4 नवंबर 2022 को उपखंड अधिकारी रायपुर को एक ज्ञापन देकर इस संबंध में अवगत कराया लेकिन इस मामले में कोई पुख्ता कदम प्रशासन द्वारा नहीं उठाए जाने पर आज विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल सहित अन्य हिंदू संगठनों ने इस आशय का एक ज्ञापन जिला कलेक्टर को देते हुए ।

उक्त विवादित परिसर में किसी भी तरह के आयोजन की अनुमति नहीं देने की मांग की है बताया गया कि अगर इस संबंध में कोई कार्यवाही नहीं होती है तो हिंदू संगठन 11 नवंबर से उपखंड अधिकारी कार्यालय के बाहर अनिश्चितकालीन धरना देंगे।

इनकी जुबानी

पुराने किसी ऐसे प्रकरण पर कोई समझौता नहीं हो सकता फिर भी एसपी रिपोर्ट लेकर चेक करवा रहे हैं

आशीष मोदी 

जिला कलेक्टर, भीलवाड़ा

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम