170 साल से महाराजाधिराज द्वारा दान मे दी गई स्कूल को तहसीलदार ने कहा अतिक्रमण , कल स्कूल खाली करने के आदेश

Bhilwara News।भीलवाडा जिले का शाहपुरा उपखंड जो कभी शाहपुरा रियासत हुआ करता था उस रियासत के दौरान ही महाराजा जगत सिंह द्वारा 170 साल पहले रियासत के बच्चों की पढ़ाई के लिए मंदिर के समीप जमीन एक शिक्षक को दान की थी। और तब से ही उक्त स्थान पर विद्यालय वर्तमान में राजकीय उच्च प्राथमिक …

170 साल से महाराजाधिराज द्वारा दान मे दी गई स्कूल को तहसीलदार ने कहा अतिक्रमण , कल स्कूल खाली करने के आदेश Read More »

July 15, 2021 6:25 pm

Bhilwara News।भीलवाडा जिले का शाहपुरा उपखंड जो कभी शाहपुरा रियासत हुआ करता था उस रियासत के दौरान ही महाराजा जगत सिंह द्वारा 170 साल पहले रियासत के बच्चों की पढ़ाई के लिए मंदिर के समीप जमीन एक शिक्षक को दान की थी।

और तब से ही उक्त स्थान पर विद्यालय वर्तमान में राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय कलिंजरी गेट के नाम से संचालित है और 170 साल से उक्त जमीन और विद्यालय भवन शिक्षा विभाग के अधीन हैं ।

लेकिन शाहपुरा के कार्यवाहक तहसीलदार इन्द्रजीत सिह इस विद्यालय भवन को अतिक्रमण बता कर विद्यालय प्रशासन पर उक्त विद्यालय भवन खाली करने के लिए दबाव बना रहे हैं और आज विभाग के सीबीईओ व स्कूल का प्रधानाध्यापक को कल स्कूल खाली करने के आदेश दिए है ।

शाहपुरा उपखंड मुख्यालय पर राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय कलिंजरी गेट संचालित होता है। इस विद्यालय के समीप वेंकटेश्वर मंदिर भी है । जैसा कि विद्यालय प्रशासन ने बताया ।

रियासत काल के दौरान महाराजा जगत सिंह ने संवत 1908 में कथा वाचक सीताराम जी अध्यापक को रियासत क्षेत्र के बच्चों को पढ़ाई के लिए उक्त जमीन दी थी तब से ही वहां विद्यालय संचालित हो रहा है । वेंकटेश्वर मंदिर के समीप तब से ही 170 साल से उक्त विद्यालय संचालित है ।

कालांतर में और विद्यालय के पास उपलब्ध विद्यालय के इतिहास एवं नक्शे के आधार पर विद्यालय में 400 के करीब विद्यार्थियों के अध्ययनरत होने पर एवं जगह कम होने से मंदिर के कमरों में भी विद्यार्थियों को पढ़ाया जाता था लेकिन बाद में उन कमरों को खाली कर दिया गया था ।

विद्यालय भवन 170 साल पुराना होने के कारण जीर्ण-शीर्ण सा हो गया था तब विभाग ने वर्तमान विद्यालय भवन के सामने ही विद्यालय का नया भवन बना दिया और इस पुराने भवन के जीर्ण शीर्ण होने से वर्तमान में विद्यालय प्रशासन द्वारा मरम्मत कराई जा रही है ।

लेकिन तहसीलदार इंद्रजीत सिंह ने कलिंजरी गेट विद्यालय की उक्त जमीन और विद्यालय भवन को वेंकटेश्वर मंदिर की जगह बताते हुए विद्यालय का अतिक्रमण बताकर इसे खाली करने के लिए शिक्षा विभाग के मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी को विद्यालय के संबंध में नोटिस दियाऔर आज कल स्कूल परिसर खाली करने के आदेश जारी कर दिए है ।

विद्यालय में उपलब्ध रिकॉर्ड के अनुसार वेंकटेश्वर मंदिर के समीप ही अन्य जमीन पर जो विक्रम संवत 1908 में महाराजा जगत सिंह द्वारा विद्यालय संचालन के लिए दी गई थी उसमें विद्यालय संचालित था ।

शिक्षा विभाग द्वारा विद्यालय के सामने कोट पर नये भवन के कुछ कमरों का निर्माण करवाया गया पुराने भवन में प्रार्थना सभा राष्ट्रीय पर्व 26 जनवरी 15 अगस्त और महापुरुष जयंतिया वार्षिक उत्सव तथा छात्रों के खेलकूद के उपयोग में लिया जा रहा है।

क्योंकि विद्यालय के पास कोई भी खेल मैदान नहीं है। करोना काल के कारण विगत 2 सत्र से लगातार विद्यालय भवन बंद होने से घास और झाड़ियां पैदा हो गई और पेड़ों की छगांई और साफ सफाई कार्य तथा छोटी मोटी मरम्मत कार्य किया जाना था जिसे रुकवा दिया गया और नैटिस जारी कर जबाव मांगा ।

स्कूल प्रशासन ने नोटिस की समय सीमा से 3 दिन पहले ही जबाव देते हुए विभाग के उच्च अधिकारियों से मार्ग दर्शन हेतु समय सीमा मांगी लेकिन तहसीलदार ने एसडीएम शाहपुरा डाॅ शिल्पा सिह (आईएएस) के समक्ष ब्लॉक के सीबीईओ द्वारका प्रसाद को बुलाकर समय नही देते हुए कल ही विद्यालय परिसर खाली करने के आदेश जारी कर विद्यालय खाली करने के लिए प्रशासनिक तैयारी हेतु दिशा निर्देश जारी कर दिया।

इनकी जुबानी

मैंने संपर्क पोर्टल पर शिकायत के निवारण हेतु कार्यवाही करते हुए सारे दस्तावेजों के बाद सी बी ई ओ को अपना पक्ष रखने के लिए 5 जुलाई को एक नोटिस जारी करते हुए जवाब मांगा था

लेकिन विभाग द्वारा जवाब मुझे आज दिया गया और आज समय अवधि मांगी गई है एसडीएम शाहपुरा के समक्ष ही सीबीईओ द्वारका प्रसाद को बुलाकर पुनः परिवादी द्वारा प्रस्तुत किए गए

सारे दस्तावेज और साक्ष्य बता दिए गए एसडीएम के दिशा निर्देश पर ही समय नहीं देते हुए कल विद्यालय भवन खाली करने के लिए सीबीईओ को निर्देश दे दिए हैं

इंद्रजीत सिंह
कार्यवाहक तहसीलदार शाहपुरा जिला भीलवाड़ा

जिला कलेक्टर व उपखंड अधिकारी के आदेशानुसार मंदिर परिसर खाली कर दिया गया है और मंदिर के पास नोहरा वह विधालय के कब्जे है जिसे तहसीलदार महोदय खाली करवाने पर आमदा है ।

द्वारका प्रसाद
कार्यवाहक मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी
शाहपुरा ब्लॉक, जिला भीलवाडा

Prev Post

पेट्रोल-डीजल व गैस की बढ़ती कीमतों व महंगाई को लेकर कांग्रेस निकालेगी साइकिल यात्रा

Next Post

24 घंटे में खुले मैनहोल और नालों की हो मरम्मत हादसा हुआ तो अधिकारियों की होगी व्यक्तिगत जिम्मेदारी - सभापति पाठक

Related Post

भीलवाड़ा में लघु उद्योग भारती की महिला इकाई का दो दिवसीय मेले शुरू, कई उत्पाद आकर्षण का केंद्र
September 27, 2022 8:30 pm

Latest News

गहलोत कल मिलेंगे सोनिया से,राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए कल नहीं भरे जाऐंगे नामांकन, क्यों
देश को 9 माह बाद मिला नया CDS 
राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर

Trending News

प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know

Top News

प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
गहलोत कल मिलेंगे सोनिया से,राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए कल नहीं भरे जाऐंगे नामांकन, क्यों
देश को 9 माह बाद मिला नया CDS 
राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर
बच्चियों को कहा मत दो वोट,पाकिस्तान चली जाओ -IAS हरजोत कौर
राजस्थान शिक्षा विभाग- घोटालेबाज बाबू डेढ माह से नही आ रहा ड्यूटी पर लापता, DEO बचा रहे है या... ?
राजस्थान शिक्षा विभाग- लाखों का घोटाला फिर भी अब तक दोषी प्रिंसिपल पर कार्यवाही क्यो ?
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know