विद्युत लाइन की चिंगारी ने पकड़ी आग, मजदूर का आशियाना सहित सपने हुए खाक

जहाजपुर । हनुमान नगर थाना क्षेत्र के नवीन कृषि मंडी के समीप दाबोलिया बस्ती के समीप से गुजर रही 33 केवी लाइन से निकली चिंगारी से लगी आग ने ऐसा विकराल रूप धारण किया कि बस्ती में रहने वाले एक मजदूर का आशियाना सहित सारे सपने खाक हो गए।

आग पर बमुश्किल फायर ब्रिगेड की गाडी से काबू पाया गया, लेकिन जब मजदूर ने घर की हालत देखी तो परिवार जनों के साथ ही देखने वालों की भी रूलाई फूट पडी। आग के विकराल रुप का अंदाज इस बात से लगाया जा सकता है कि घर में लोहे के बक्से में रखे खाने पीने का सामान, बर्तन, कपडे सहित मोटरसाइकिल व लोहे का चुल्ला भी जलकर खाक हो गए।

मौके पर पहुंचे हनुमान नगर के एएसआई कैलाश नाथ, कॉन्स्टेबल अमित व चालक राजेश विश्नोई ने बताया कि आग की सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंचकर फायर ब्रिगेड को बुलवा कर आग पर काबू पाया लेकिन जब तक पीड़ित राजू लाल भील उम्र 25 वर्ष पुत्र रामलाल के घर में सब कुछ जलकर खाक हो चुका था। पुलिस का कहना है कि राजू लाल के मकान से कुछ दूरी पर हिंडोली विद्युत विभाग की 33 केवी लाइन का विद्युत पोल है। उस विद्युत पोल के यहां स्पार्किंग होने से निकली चिंगारी नीचे घास फूस पर पड़ी।

घास ने आग पकड़ी, तेज हवा के चलते कुछ ही मिनट में आग ने राजू लाल की झोपड़ी को घेरे में ले लिया। पीड़ित राजू लाल का कहना है कि उसने स्वयं सहायता समूह से ₹50000 का लोन लिया था वह राशि भी मेरे बक्से में रखी हुई थी, वह भी जलकर खाक हो गई।

आग लगने के वक्त राजूलाल समीप ही गौशाला में गया था तथा घर पर राजूलाल की पत्नी व माँ थी, जिन्होंने भागकर जान बचा ली। आग लगते ही राजूलाल सहित अन्य बस्ती वालों ने हैंड पम्प से पानी लाकर आग बुझाने का प्रयास भी किया, लेकिन आग विकराल होती गई।

मौके पर पटवारी इस्लाम खान व सचिव हजारी लाल ने पहुंचकर पीडित परिवार को ढाढस बंधवाते हुए नुकसान का आकलन कर रिपोर्ट तैयार की है। समाजसेवी रामसिंह शक्तावत ने दिए 11 हजार रुपए राजू लाल भील के आशियाना के जलने की खबर मिलते ही मौके पर पहुंचकर राजूलाल भील को आर्थिक सहायता देकर बहुत बड़ा संबल प्रदान किया है।

गौरतलब है कि पीड़ित राजू लाल भील उम्र 25 वर्ष के पिताजी का लगभग 23 वर्ष पूर्व निधन हो गया था। उस समय राजू लाल की उम्र मात्र 2 वर्ष थी। राजू लाल की मां ने बहुत ही कठिन परिस्थितियों से संघर्ष करते एक झौंपडे में रहते हुए राजू लाल को इतना बड़ा कर अभी राजू लाल की शादी की थी। आग में जले सामान व झौंपडे को देखकर राजूलाल की माँ सहित पत्नी के आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे हैं।

इसी प्रकार कुंचलवाड़ा बायपास पर स्थित दुर्गालाल शर्मा व मुरारी शर्मा के खेत की बाड़ के पास विद्युत निगम की डीपी लगी हुई है। जिस पर शॉर्ट सर्किट होने से चिंगारी उछली तथा बाड़ में आग लग गई। तेज हवा चलने से आग फैलती चली गई। वक्त रहते फायर बिग्रेड देवली के फायरमैन प्रद्युमन सिंह, हरिओम मीणा व हीरालाल मीणा ने पहुंचकर आग पर काबू पा लिया। उन्होंने बताया कि यदि समय पर आग नहीं बुझाई जाती तो अन्य खेतों में भी इसके फैलने का खतरा बन जाता। जिससे खेतों में नुकसान हो सकता था। इसी प्रकार मोरला 132 केवी जीएसएस के कार्नर पर मोरला गांव में जाने वाले रास्ते के समीप भी विद्युत तारों से निकली चिंगारी ने आग पकड ली। लेकिन मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पा लिया, जिससे किसी प्रकार का नुकसान नहीं हुआ।